प्लांट बेस्ड प्रोटीन या व्हे प्रोटीन: कौन सा सप्लीमेंट है मसल्स बनाने के लिए बेस्ट, जानें डायटीशियन से

बॉडी बिल्डिंग और मसल्स बनाने के लिए व्हे प्रोटीन और प्लांट बेस्ड प्रोटीन का इस्तेमाल होता है, जानें दोनों में मसल्स बनाने के लिए कौन सा बेस्ट है?

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghUpdated at: Aug 11, 2021 17:53 IST
प्लांट बेस्ड प्रोटीन या व्हे प्रोटीन: कौन सा सप्लीमेंट है मसल्स बनाने के लिए बेस्ट, जानें डायटीशियन से

आज के समय में बॉडी बिल्डिंग और मसल्स बनाने के लिए सप्लीमेंट लेना आम बात है। जिम में कसरत करने वाले समय फिटनेस फ्रीक हों या फिर फिल्म एक्टर सभी अपनी बॉडी बनाने के लिए तरह-तरह के सप्लीमेंट्स का सेवन करते हैं। सामान्यतः जिम जाने से पहले या मसल्स गेन करने के लिए लोग प्रोटीन पाउडर का सेवन करते हैं। बाजार में इस तरह के तमाम प्रोटीन पाउडर मौजूद हैं और ये सभी अपनी गुणवत्ता और फायदे के बारे में बढ़ चढ़कर दावा करते हैं। आमतौर पर सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला प्रोटीन व्हे प्रोटीन (Whey Protein) है। व्हे प्रोटीन का इस्तेमाल आज के समय में बॉडी बिल्डिंग और मसल्स बनाने के लिए खूब किया जाता है। एक्सरसाइज और बॉडी बिल्डिंग के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले प्रोटीन का तीन काम होता है, पहला मांसपेशियों का रखरखाव, उनकी ग्रोथ में सहायता और मरम्मत करना। मांसपेशियों के लिए प्रोटीन सबसे जरूरी पोषक तत्व है और तमाम खाद्य पदार्थों जैसे मीट, साबुत अनाज, अंडे और कुछ डेयरी प्रोडक्ट्स में भरपूर मात्रा में पाया जाता है। तो फिर सवाल उठता है कि जब खाद्य पदार्थों में प्रोटीन है तो इसके सप्लीमेंट की क्या आवश्यकता? आइये आज हम आपको बताते हैं कि आपकी सेहत और मांसपेशियों के लिए प्लांट बेस्ड प्रोटीन (Plant Based Protein) और व्हे प्रोटीन में से कौन सा सबसे अच्छा सुरक्षित है। 

हमारे देश में एक्सरसाइज या वर्कआउट से पहले शरीर क्षमता बढ़ाने के लिए प्रोटीन पाउडर का इस्तेमाल खूब होता है। ज्यादातर लोग इसके लिए व्हे प्रोटीन का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है शरीर की अलग-अलग जरूरतों के हिसाब से अलग-अलग प्रोटीन का इस्तेमाल किया जाना चाहिए? प्रोटीन का सप्लीमेंट लेने से पहले इनके बारे में जान लेना बहुत जरूरी है। तो आइये हैदराबाद स्थित अपोलो हॉस्पिटल की क्लिनिकल डायटीशियन डॉ दीपिका रानी से जानते हैं सेहत के लिए व्हे प्रोटीन या प्लांट बेस्ड प्रोटीन, दोनों में ज्यादा फायदेमंद क्या है।

Plant-Based-Protein-vs-Whey-Protein

(Image Source - Freepik.com)

क्या है प्लांट बेस्ड प्रोटीन? (What is Plant Based Protein?)

प्लांट बेस्ड प्रोटीन अपने नाम की तरह ही है। इसके नाम से ही आप इसके बारे में अंदाजा लगा सकते हैं। इस प्रोटीन को बनाने के लिए पौधों में पाए जाने वाले प्रोटीन का इस्तेमाल किया जाता है। फल, सब्जी और अनाज आदि में मौजूद प्रोटीन की सहायता से प्लांट बेस्ड प्रोटीन को तैयार किया जाता है। मटर, सोया और ब्राउन राइस आदि प्रोटीन प्लांट बेस्ड प्रोटीन के उदहारण हैं। प्लांट बेस्ड प्रोटीन शरीर के लिए फायदेमंद और उपयोगी माने जाते हैं। इनका भी काम मांसपेशियों को मजबूत करना और उनके विकास में मदद करना होता है। इस प्रोटीन का पाचन भी देरी आधारित प्रोटीन के मुकाबले ज्यादा ठीक होता है। इस प्रोटीन को बनाने में अतिरिक्त शुगर आदि का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। 

इसे भी पढ़ें : वर्कआउट के बाद आपको क्यों खाने चाहिए प्रोटीन वाले फूड्स? जानें शरीर की प्रोटीन की जरूरत के बारे में

Plant-Based-Protein-vs-Whey-Protein

(Image Source - Freepik.com)

व्हे प्रोटीन क्या है? (What is Whey Protein Powder?)

व्हे प्रोटीन आज के समय में बॉडी बिल्डिंग और मसल्स बनाने के लिए सबसे ज्यादा इस्तेमाल किये जाने वाले सप्लीमेंट्स में से एक है। व्हे प्रोटीन में मौजूद प्रोटीन दूध और दूध से बने प्रोडक्ट्स में पाया जाना वाला प्रोटीन होता है। इसको बनाने में दूध का इस्तेमाल किया जाता है। व्हे प्रोटीन में एमिनो एसिड, ग्लूटामिन, ल्युसिन जैसे तत्व पाए जाते हैं। दूध या डेयरी प्रोडक्ट्स वाला प्रोटीन भी शरीर में मांसपेशियों के निर्माण और उनके रखरखाव का काम करता है। आज के समय में चाहे जिम में जाने वाले सामान्य फिटनेस फ्रीक हों या फिर प्रोफेशनल बॉडी बिल्डर अधिकांश लोग व्हे प्रोटीन का इस्तेमाल करते हैं।

इसे भी पढ़ें : वजन कम करने में प्रोटीन कैसे है मददगार? जानें इसके 4 फायदे और स्रोत

Plant-Based-Protein-vs-Whey-Protein

(Image Source - Freepik.com)

प्लांट बेस्ड प्रोटीन और व्हे प्रोटीन में अंतर (Difference Between Plant Based Protein and Whey Protein)

प्लांट बेस्ड प्रोटीन पौधों में पाए जाने वाले प्रोटीन के इस्तेमाल से बनाये जाते हैं। प्लांट बेस्ड प्रोटीन डाइट का आजकल वजन कम करने से लेकर मांसपेशियों के निर्माण के लिए खूब इस्तेमाल किया जाता है। जो प्रोटीन प्लांट बेस्ड डाइट में मौजूद होता है उसी का इस्तेमाल करके प्लांट बेस्ड प्रोटीन पाउडर बनाया जाता है। वहीं व्हे प्रोटीन दूध और दूध से बने प्रोडक्ट्स में पाया जाने वाला प्रोटीन होता है जो दूध के इस्तेमाल से बनाया जाता है। इसे तमाम लोग कंप्लीट प्रोटीन भी कहते हैं। आइये जानते हैं व्हे प्रोटीन और प्लांट बेस्ड प्रोटीन में क्या अंतर है।

1. प्लांट बेस्ड प्रोटीन में पशु उत्पाद शामिल नहीं होते हैं, जबकि व्हे प्रोटीन को पशु उत्पादों से ही बनाया जाता है।

2. व्हे प्रोटीन को कंप्लीट प्रोटीन कहा जाता है वहीं प्लांट बेस्ड प्रोटीन में कुछ तत्वों की कमी हो सकती है।

3. सभी व्हे प्रोटीन एक ही प्रकार के होते हैं लेकिन प्लांट बेस्ड प्रोटीन कई तरह के होते हैं।

4. व्हे प्रोटीन का स्वाद कई तरह का होता है इसमें अलग-अलग फ्लेवर भी मिलाए जाते हैं, जबकि प्लांट बेस्ड प्रोटीन में अतिरिक्त पदार्थों को बहुत कम मात्रा में मिलाया जाता है।

इसे भी पढ़ें : वजन बढ़ाने के लिए प्रोटीन पाउडर का इस्तेमाल है कितना फायदेमंद?

5. व्हे प्रोटीन में पशु उत्पादों के साथ-साथ कई तरह के पोषक तत्वों को मिलाया भी जाता है इसलिए इसके साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं।

6. प्लांट बेस्ड प्रोटीन में अतिरिक्त तत्वों का इस्तेमाल बहुत कम होता है इसलिए इसके अधिक साइड इफेक्ट्स नहीं होते हैं।

7. प्लांट बेस्ड प्रोटीन पौधों में पाए जाने वाले प्रोटीन से बनता है इसलिए यह लैक्टोस फ्री होता है।

8. व्हे प्रोटीन को बनाने में दूध और उससे बने प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल होता है इसलिए इसमें लैक्टोस पाया जाता है।

इसे भी पढ़ें : बालों में प्रोटीन की मात्रा बढ़ने से हो सकती हैं ये 6 परेशानियां, जानें कंट्रोल करने के तरीके

Plant-Based-Protein-vs-Whey-Protein

(Image Source - Freepik.com)

प्लांट बेस्ड प्रोटीन और व्हे प्रोटीन में समानता (Similarities Between Plant Based Protein and Whey Protein)

प्लांट बेस्ड प्रोटीन और व्हे प्रोटीन दोनों का ही काम शरीर की मांसपेशियों को मजबूत बनाना और उनका रखरखाव करना होता है। इन दोनों प्रोटीन के बीच कई समानताएं होती हैं।

  • कई अध्ययन और शोध इस बात की पुष्टि करते हैं कि दनों प्रोटीन पाउडर का काम मांसपेशियों की मरम्मत करना और इनके विकास में मदद करना होता है।
  • प्लांट बेस्ड प्रोटीन और व्हे प्रोटीन का सेवन भी बहुत आसान होता है।
  • स्वाद के लिहाज से दोनों ही प्रोटीन में कई तरह के फ्लेवर मौजूद होते हैं।

प्लांट बेस्ड प्रोटीन या व्हे प्रोटीन दोनों में कौन सा है बेस्ट? (Plant Based Protein vs Whey Protein Which One is Better)

डॉ दीपिका के मुताबिक दोनों ही प्रोटीन पाउडर शरीर के लिए फायदेमंद होते हैं लेकिन इनका सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए। आप खाद्य पदार्थों के सेवन से भी शरीर में प्रोटीन की मात्रा की आपूर्ति कर सकते हैं। खाद्य पदार्थों से मिलने वाला सबसे सुरक्षित माना जाता है। कई तरह के अध्ययन और शोध भी इस बात की जानकारी देते हैं कि दोनों ही प्रोटीन शरीर में समान कार्य करते हैं। कठिन व्यायाम और मसल्स बिल्डिंग के लिए आप प्रोटीन के सप्लीमेंट्स का सेवन करते हैं। इसलिए शरीर की आवश्यकता के अनुसार इनका चयन किया जाना चाहिए। किसी भी प्रोटीन का सेवन करने से पहले उसके बारे में अच्छी जानकारी जरूर लें। जिन प्रोटीन पाउडर में आर्टिफीसियल चीजों का इस्तेमाल ज्यादा किया जाता है उनके सेवन से बचें। ये तत्व आपकी सेहत को भी नुकसान पहुंचाते हैं। एक्सरसाइज या जिम जाने से पहले प्रोटीन पाउडर का सेवन करने के साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं इसलिए इनका सेवन करने से पहले खुराक और इनके फायदे नुकसान के बारे में जानकारी जरूर लें। अतिरिक्त शुगर के सेवन से बचने के लिए आप LADDER प्लांट-बेस्ड न्यूट्रिशन शेक ट्राई करें। याद रखें कि प्रोटीन पाउडर का सेवन करने से अधिक फायदेमंद खाद्य पदार्थों में मिलने वाले प्रोटीन होते हैं।

(Main Image Source - Freepik.com)

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi 

Disclaimer