क्या च्यवनप्राश खाने से घटता है वजन? जानें एक्सपर्ट से

च्‍यवनप्राश खाने से मेटाबॉल‍िज्‍म ठीक रहता है, ओवरईट‍िंग की समस्‍या से बच सकते हैं ज‍िससे वजन कम होता है आइए जानते हैं कैसे 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jul 08, 2021Updated at: Jul 08, 2021
क्या च्यवनप्राश खाने से घटता है वजन? जानें एक्सपर्ट से

बचपन में दादी-नानी हमें च्‍यवनप्राश खाने की सलाह देती थीं, उनके मुताब‍िक च्‍यवनप्राश में मौजूद सामग्री से रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ती है। आर्युवेद के अनुसार रोजाना सुबह च्‍यवनप्राश खाना कई मायनों में फायदेमंद होता है। च्‍यवनप्राश बॉडी का मेटाबॉलिज्‍म बेहतर करने के ल‍िए फायदेमंद है। कुछ डॉक्‍टर्स मानते हैं क‍ि च्यवनप्राश खाने से वजन घटता है। क्‍या च्‍यवनप्राश खाने से वजन घट सकता है? खराब मेटाबॉलिज्‍म के चलते कुछ लोग वजन नहीं घटा पाते। च्‍यवनप्राश मेटाबॉल‍िज्‍म को दुरुस्‍त करता है, डाइजेशन को बेहतर करता है ज‍िससे आप वजन घटा सकते हैं, च्‍यवनप्राश में पाई जाने वाली कई सामग्री जैसे- दालचीनी की छाल, आंवला, हरीतकी, लोंग पेपर आद‍ि की मदद से आप वजन घटा सकते हैं। इस लेख में हम च्‍यवनप्राश में मौजूद सामग्री और उसके फायदों पर बात करेंगे ज‍िससे ये पता चले क‍ि च्‍यवनप्राश से वजन क‍िस तरह घटता है। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की। 

chyavanprash

च्‍यवनप्राश में मौजूद सामग्री से घटता है वजन (Ingredients of chyawanprash helps in weight loss)

अगर आप पूछें क‍ि च्‍यवनप्राश वजन कम कैसे करता है तो आपको इसमें डाली जाने वाली सामग्री पर गौर करना चाह‍िए, च्‍यवनप्राश में डाली गई कुछ मुख्‍य सामग्री में वजन कम करने के गुण होते हैं ज‍िस आधार पर कहा जा सकता है क‍ि इन सामग्री से बने च्‍यवनप्राश खाने से आपका वजन घट सकता है। चल‍िए जानते हैं च्‍यवनप्राश में डाली जाने वाली किन सामग्री से वजन घटाने में मदद म‍िलती है-

1. लोंग पेपर या प‍िप्‍पली से घटता है वजन (Long pepper)

ये पहाड़ी इलाकों में पाए जाने वाला कच्‍चा फल है ज‍िसे आर्युवेद में औषधी के तौर पर इस्‍तेमाल क‍िया जाता है। इसे लोंग पेपर भी कहते है। प‍िप्‍पली से इम्‍यून‍िटी बढ़ती है, इसमें एंटी-वायरल, एंटी-बैक्‍टीर‍ियल गुण होते हैं। प‍िप्‍पली को च्‍यवनप्राश में भी डाला जाता है, वजन कम करने के उपाय ढूंढ रहे तो आपको बता दें क‍ि इससे वजन घटता है। 

इसे भी पढ़ें- COVID-19 रिकवरी के दौरान बेहद प्रभावी हो सकता है च्यवनप्राश का सेवन: स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय

2. हरीतकी के सेवन से घटता है वजन (Haritaki) 

hartiki in chyavanprash

हरीतकी (chebulic myrobalan) एक तरह का फल है जो पेड़ पर उगता है। च्‍यवनप्राश में हरीतकी का इस्‍तेमाल क‍िया जाता है। इसके सेवन से वजन घटता है। आयुर्वेद में इसका इसका इस्‍तेमाल कई बीमार‍ियों को दूर करने के ल‍िए क‍िया जाता है। इसमें व‍िटाम‍िन सी की भरपूर मात्रा होती है। ये आपकी रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ाता है। डाइजेशन ठीक करने के ल‍िए, डायर‍िया, कॉन्‍सट‍िपेशन आद‍ि समस्‍याओं में भी हरीतकी फायदेमंद होता है।

3. वजन घटाने में मदद करता है आंवला (Amla)

च्‍यवनप्राश में आंवला डाला जाता है और हम सब जानते हैं क‍ि आंवला शरीर के ल‍िए क‍ितना फायदेमंद है, आंवले के सेवन से वजन कम होता है और आंवला स्‍क‍िन, बाल, डाइजेशन और अन्‍य बीमार‍ियों को दूर करने में भी फायदेमंद है।

4. च्‍यवनप्राश में डलने वाली दालचीनी की छाल है वेट लॉस में फायदेमंद (Cinnamon bark) 

cinnnmon in chyavanprash

च्‍यवनप्राश में दालचीनी की छाल का भी इस्‍तेमाल होता है। दालचीनी में फाइबर की मात्रा ज्‍यादा होती है ज‍िससे आपका वजन कम हो सकता है। दालचीनी का सेवन टाइप 2 डायब‍िटीज के लक्षण नजर आने पर भी फायदेमंद माना जाता है क्‍योंक‍ि इसके सेवन से ब्‍लड शुगर लेवल कंट्रोल होता है। बॉडी में जो भी टॉक्‍स‍िक मटेर‍ियल हैं वो भी दालचीनी के सेवन से न‍िकल जाते हैं। वजन कम करने के ल‍िए ये एक अच्‍छी स्‍पाइस है। दालचीनी से ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल होता है, हार्ट और लीवर हेल्‍थ के ल‍िए भी दालचीनी फायदेमंद होती है। दालचीनी में एंटी-ऑक्‍सीडेंट गुण होते हैं।

5. च्‍यवनप्राश में केसर के फायदे (Kesar)

kesar in chyavanprash

च्‍यवनप्राश में केसर भी डाली जाती है। केसर में एंटी-ऑक्‍सीडेंट गुण होते हैं। केसर से स्‍ट्रेस कम होता है, वजन कम होता है। आर्युवेद में कई बीमार‍ियों को दूर करने के लि‍ए केसर का इस्‍तेमाल किया जाता है। आप च्‍यवनप्राश में केसर के रेशे या केसर को पीसकर म‍िला सकते हैं।

6. च्‍यवनप्राश में शहद और घी भी है फायदेमंद (Honey and Ghee)

 च्‍यवनप्राश में शहद डाला जाता है और शहद से डाइजेशन अच्‍छा रहता है, वजन कम होता है। गले के ल‍िए भी शहद फायदेमंद होता है। च्‍यवनप्राश में घी भी वजन कम करने में है मददगार है। च्‍यवनप्राश में घी डाला जाता है। घी एनर्जी का अच्‍छा स्रोत है। घी से बॉडी को वजन कम करने में मदद म‍िलती क्‍योंक‍ि घी से डायब‍िटीज कंट्रोल होती है।

7. च्‍यवनप्राश में मौजूद नीम से घटता है वजन (Neem)

neem in chayavanprash

च्‍यवनप्राश में मौजूद नीम से भी वजन घटता है। नीम में एंटीसेप्‍ट‍िक और एंटी-माइक्रोब‍ियल गुण होते हैं। वजन घटाने के साथ-साथ ये आई ड‍िसऑर्डर, पेट का अल्‍सर, डायब‍िटीज, मुंह की बीमार‍ियां और अन्‍य इंफेक्‍शन को ठीक करने में भी फायदेमंद है।

8. च्‍यवनप्राश में डलने वाली अन्‍य सामग्री ज‍िनसे वजन घटता है (Other ingredients in Chyawanprash for weight loss)

च्‍यवनप्राश में मौजूद अन्‍य सामग्री ज‍िनसे वजन घटता है उनमें तुलसी, अश्‍वगंधा, सफेद चंदन, ब्राह्मी की पत्‍त‍ियां शाम‍िल हैं। तुलसी में एंटीऑक्‍सीडेंट गुण होते हैं, तुलसी से डायब‍िटीज कंट्रोल रहती है, ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल रहता है और वजन भी घटता है। अश्‍वगंधा से वजन कम होने के साथ, ड‍िप्रेशन दूर होता है, अर्थराइट‍िस की समस्‍या में ये फायदेमंद है। डॉ मनीष ने बताया च्‍यवनप्राश में फाइबर होता है, इसमें जरूरी पोषक तत्‍व होते हैं ज‍िससे आप ओवरईट‍िंग की समस्‍या से बच सकते हैं। च्‍यवनप्राश बैड कोलेस्‍ट्रॉल को भी बॉडी से हटाता है ताक‍ि बॉडी वेट संतुल‍ित हो सके। च्‍यवनप्राश में मौजूद ब्राह्मी की पत्‍त‍ियों से वजन घटता है, ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल होता है। च्‍यवनप्राश में सफेद चंदन भी डाला जाता है, ये स्‍क‍िन और बॉडी दोनों के ल‍िए फायदेमंद माना जाता है।

इसे भी पढ़ें- घर पर बनाएं इम्यूनिटी बढ़ाने वाला आयुर्वेदिक च्यवनप्राश, जानें 30 मिनट में बनाने की आसान रेसिपी और फायदे

वजन कम करने के ल‍िए च्‍यवनप्राश कैसे बनाएं? (How to make Chyawanprash for weight loss)

chayavanprash for weight loss

सामग्री: आंवला, शहद, घी, सफेद चंदन, तुलसी, इलाइची, केसर, ब्राह्मी की पत्‍त‍ियां, अश्‍वगंधा, नीम, दालचीनी की छाल, हरीतकी, लोंग पेपर 

व‍िध‍ि: 

  • कोश‍िश करें क‍ि सभी सामग्री को आप धोकर सुखा लें और उसका पाउडर बना लें। 
  • आंवला को उबालकर उसके बीज न‍िकालें और उसका पेस्‍ट बना लें। 
  • एक पैन में घी गरम करें और उसमें आंवले के पेस्‍ट को डालकर पकाएं। 
  • सारे पाउडर उसमें मि‍ला दें और अंत में शहद डालें। 
  • च्‍यवनप्राश को ऐयरटाइट कंटेनर में एक हफ्ते के ल‍िए स्‍टोर कर सकते हैं।

अगर आपको च्‍यवनप्राश में मौजूद क‍िसी सामग्री से एलर्जी है तो डॉक्‍टर से सलाह लेकर ही इसका सेवन करें।

Read more on Ayurveda in Hindi

Disclaimer