किस ब्लड ग्रुप वाले लोगों को होता है डायबिटीज का अधिक खतरा, डॉक्टर से जानें इसके बारे में

ब्लड ग्रुप और डायबिटीज के बीच एक विशेष संबंध है। जानें किस ब्लड ग्रुप के लोगों को होता है डायबिटीज होने का अधिक खतरा

Anju Rawat
Written by: Anju RawatUpdated at: Apr 22, 2021 11:46 IST
किस ब्लड ग्रुप वाले लोगों को होता है डायबिटीज का अधिक खतरा, डॉक्टर से जानें इसके बारे में

क्या किसी खास ब्लड ग्रुप वाले लोगों को डायबिटीज का खतरा अधिक होता है? (Are People With a Particular Blood Group at Greater Risk of Diabetes) डायबिटीज पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा प्रचलित और सबसे सामान्य मेटाबॉलिक बीमारी (Metabolic Disease) है, इसलिए इसके जोखिम कारकों पर अच्छी तरह से शोध किए गए हैं। डायबिटीज की संभावनाओं को बढ़ाने वाले कारकों के बारे में बात की जाए, तो इसमें खान-पान की खराब आदतें (Bad Eating Habits), गतिहीन जीवन-शैली (Sedentary lifestyle), हृदय रोग संबंधी समस्याएं (Heart Problems), धूम्रपान या शराब के सेवन की लत आदि शामिल हैं। निश्चित तौर पर व्यक्ति को अपने ब्लड शुगर को नियंत्रण में रखने के लिए इन सभी चीजों को नियंत्रित करना भी जरूरी होता है। लेकिन क्या आपने कभी सुना है कि आपके ब्लड ग्रुप की वजह से भी आपको डायबिटीज होने का खतरा बढ़ सकता है? इस विषय पर शोध बताते हैं कि कुछ विशेष ब्लड ग्रुप वाली महिलाओं में टाइप-2 डायबिटीज विकसित होने का खतरा अधिक होता है। इस बारे में विस्तार से जानने के लिए हमने डॉ. योगेश बेंदले से बात की-

Diabetes

हालांकि इस शोध के निष्कर्ष सवालों के घेरे में हैं, क्योंकि ब्लड शुगर की बीमारी के लिए कई अन्य और इससे भी ज्यादा महत्वपूर्ण जोखिम कारक पहले से मौजूद हैं। डॉ. योगेश बेंदले कहते हैं कि हमें समझना होगा कि हर व्यक्ति के शरीर में मौजूद खून एक जैसा नहीं होता है। टाइप-ए और बी ब्लड सेल्स (Type A and B Blood Cells) ए और बी एंटीजन का वहन करती हैं और हमारे शरीर में जब भी कोई बाहरी तत्व प्रवेश करता है, तो उनकी सतह पर एक विशिष्ट प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया चमकती है। इसके विपरीत टाइप-एबी (Type AB) वाली रक्त कोशिकाओं में दोनों मौजूद होते हैं, जबकि टाइप-ओ (Type O) में इनमें से कोई भी मौजूद नहीं होता है।

इसे भी पढ़ें - COVID 19 & Diabetes: डायबिटीज रोगी डेली रूटीन में फॉलो करें ये 5 टिप्स, कोरोना समेत कई वायरस का खतरा होगा खत्म

ब्लड ग्रुप के प्रकार (Types of Blood Group)

डॉ. योगेश बेंदले बताते हैं कि रीसस (Rh) फैक्टर भी  इसका एक महत्वपूर्ण कारक है, जो व्यक्ति के ब्लड को आरएच पॉजिटिव या निगेटिव के रूप में विभाजित करता है। इस तरह ब्लड ग्रुप के आठ प्रकार होते हैं, जो एक-दूसरे से बिल्कुल अलग होते हैं। इसमें ओ पॉजिटिव (O Positive), ओ नेगेटिव (O Negative), ए पॉजिटिव (A Positive), ए नेगेटिव (A Negative), बी पॉजिटिव (A Positive), बी निगेटिव (B Negative), एबी पॉजिटिव (AB Positive) और एबी नेगेटिव (AB Negative)। डॉ. योगेश बेंदले बताते हैं कि एकदम सही मेल खाने वाले ब्लड ग्रुप (मुख्यतः ब्लड ट्रांसफ्यूजन के दौरान) महत्वपूर्ण साबित हो सकते हैं, मगर ब्लड ग्रुप की पहचान करना सामान्य बात है। लेकिन डायबिटीज के खतरे के लिए ब्लड ग्रुप की जांच नहीं की जाती है।

blood roup

इन लोगों को है डायबिटीज का अधिक खतरा (These People Are More at Risk of Diabetes)

इसके लिए कई रिसर्च हो चुके हैं। ऐसे में साबित हुआ है कि टाइप-ओ ब्लड (O Blood Group) वाली महिलाओं की तुलना में टाइप-ए (A Blood Group) और टाइप-बी ब्लड (B Blood Group) वाली महिलाओं को डायबिटीज का खतरा अधिक होता है। लेकिन टाइप-एबी ब्लड (AB Blood Group) वाले लोगों के लिए इस पर अभी तक कोई निष्कर्ष नहीं निकल पाया है। डॉ. योगेश बताते हैं कि यह अध्ययन सिर्फ महिलाओं पर किया गया था। ऐसे में फिर सवाल उठता है कि क्या इस शोध के निष्कर्ष पुरुषों पर भी समान रूप से लागू होते हैं? हालांकि जांचकर्ताओं के अनुसार लैंगिक आधार पर कोई भी विशिष्ट लक्षण नहीं दिखाई दिए है।

इसे भी पढ़ें - इन गंभीर बीमारियों की वजह बन सकती है डायबिटीज, डॉक्टर से जानें इनके बारे में

डायबिटीज के दौरान रखें इन बातों का ध्यान (Keep these things in mind during diabetes)

डायबिटीज बेहद सामान्य बीमारी बन चुकी है। इस बीमारी के कई अन्य जोखिम कारक हैं, जिन्हें लोग बड़ी आसानी से नियंत्रित कर सकते हैं। 

  • - जैसे वजन नियंत्रित रखना
  • - गतिहीन जीवन-शैली की स्थिति में व्यायाम करना। 
  • - अगर किसी व्यक्ति को धूम्रपान की लत है, तो इसे छोड़ने की कोशिश करें। 

डायबिटीज एक सामान्य सी बीमारी बन गई है। लेकिन अभी भी यह नहीं कहा जा सकता है कि किस ब्लड ग्रुप के लोगों को डायबिटीज होने का खतरा अधिक होता है। ऐसे में आपको अपनी जीवनशैली पर खास ध्यान देने की जरूरत होती है। जीवनशैली में बदलाव करके आप इसे नियंत्रित रख सकते हैं।

Read More Articles on Diabetes in Hindi 

Disclaimer