सफेद चाय (व्हाइट टी) पीने से सेहत तो मिलते हैं ये 6 फायदे

सफेद चाय की शुरुआती चीन से मानी जाती है। इसे पीने से मोटापे से लेकर त्वचा संबंधी रोगों का भी निदान होता है। रोज 1 कप चाय फायदेमंद है।  

Meena Prajapati
Written by: Meena PrajapatiPublished at: Jul 05, 2021Updated at: Jul 05, 2021
सफेद चाय (व्हाइट टी) पीने से सेहत तो मिलते हैं ये 6 फायदे

अभी तक आपने ग्रीन टी, ब्लैक टी, मिल्क टी आदि के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या आपने व्हाइट टी यानी सफेद चाय के बारे में सुना  होगा। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि आखिर यह व्हाइट टी है क्या और ये बनती कैसी है। सफेद चाय काली चाय से ज्यादा स्वास्थ्यवर्धक मानी जाती है। राष्ट्रीय धर्मार्थ सेवा संस्थान के आयुर्वेदाचार्य डॉ. राहुल चतुर्वेदी का कहना है कि व्हाइट टी में कैफीन की मात्रा बहुत कम होती है। इसलिए यह शरीर के लिए ज्यादा लाभदायक होती है। यह चाय कैमेलिया (Camellia) पौधे की पत्तियों से बनाई जाती है। आज के इस लेख में जानेंगे कि व्हाइट टी को पीने से शरीर को कौन से लाभ मिलते हैं।

Inside1_Whitetea

क्या है सफेद चाय

डॉ. राहुल चतुर्वेदी का कहना है कि काली चाय के मुकाबले में सफेद चाय बहुत कम प्रोसेस्ड की हुई होती है। यह चाय चाय कैमेलिया (Camellia) पौधे की पत्तियों से बनाई जाती है। सफेद चाय पीने से मधुमेह, त्वचा संबंधी रोग व मुंह की कई परेशानियां कम होती हैं। आइए विस्तार से जानते हैं इस चाय के फायदे-

1. हृदय के लिए लाभकारी

आज के समय में दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ता जा रहा है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि व्हाइट टी में ऐसे गुण पाए जाते हैं जिससे हृदय रोगों की आशंका कम हो जाती है। सफेद चाय में पोलीफेनॉल्स  (Polyphenols) पाए जाते हैं जिससे हृदय रोगों की आशंका कम होती है। यही पोलीफेनॉल्स खराब कैलोस्ट्रोल को ऑक्सीडाइज्ड होने से बचाते हैं। रोज सफेद चाय का सेवन करने से हृदय रोगों से बचा जा सकता है। 

Inside4_Whitetea

2. मधुमेह से बचाए

सफेद चाय में एंटी-डायबिटिक गुण पाए जाते हैं। जिस वजह से यह मधुमेह का खतरा कम करने में भी सहायक है। यह चाय रक्त और मांसपेशियों में ग्लूकोज लेवल को बढने नहीं देती, जिस वजह से मधुमेह की परेशानी नहीं होती। इस तरह व्हाइट टी मधुमेह के रोगियों के लिए लाभकारी है। 

3. बढ़ती उम्र को छुपाए

बढ़ती उम्र में एजिंग की समस्या होती है। सफेद चाय त्वचा की इस परेशानी को भी दूर रखती है। जब त्वचा का कोलेजन ठीक से काम नहीं करता है, तब त्वचा में एजिंग की समस्या होती है। कोलेजन का काम है त्वचा को टाइट रखना। इस चाय में पाए जाने पोलीफेनल्स त्वचा को टाइट करने का कम करते हैं। इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट्स की मात्रा ठीक होती है जो त्वचा को जवां बनाए रखने में मदद करते हैं। 

Inside2_Whitetea

इसे भी पढ़ें : कोलेस्ट्रॉल कम कर सकता है मशरूम से बनी ये चाय, जानें मशरूम टी की रेसिपी और इसे पीने के फायदे

4. वजन घटाने में मददगार

आज के समय में मोटापा कई अन्य बीमारियों का कारण बना हुआ है। दूसरा एक्सरसाइज की कमी, अनियमियत भोजन करने आदि से वजन बढ़ने की समस्या होती है। बढ़ते वजन के साथ-साथ कई अन्य परेशानियां भी साथ-साथ आती हैं। सफेद चाय वजन को नियंत्रित करने में बहुत मददगार है। इसमें कैफीन की मात्रा कम होती है, जिस वजह से मोटापा नियंत्रित रहता है। ग्रीन टी भी वजन  कम करने में उतनी ही मददगार है जितनी कि वाइट टी। पर फर्क इतना है कि वाइट की मार्केटिंग उतनी नहीं जितनी कि ग्रीन टी की। 

5. इम्युनिटी बूस्टर

व्हाइट टी में ऐसे गुण होते हैं जो इम्युनिटी बूस्टर की तरह का करते हैं। व्हाइट टी संक्रमण से बचाती है। साथ ही सूजन को भी कम करती है। इस तरह अगर आप रोज एक कप सफेद चाय पीते हैं तो यह आपके लिए बहुत लाभकारी है। जब इम्युनिटी स्ट्रांग होती है, तब शरीर में रोग करम लगते हैं और हम लंबी उम्र जी पाते हैं। साथ ही स्वस्थ जिंदगी जीते हैं। 

Inside3_Whitetea

इसे भी पढ़ें : मानसून में वायरल बीमारियों से रहना है दूर, तो पिएं ये 7 तरह की हेल्दी चाय

6. अनिद्रा को भगाए

डॉ.राहुल चतुर्वेदी का कहना है कि सफेद चाय में कैफीन की मात्रा कम होती है, इसलिए यह अनिद्रा की समस्या को भी भगाती है। वे बताते हैं कि अन्य चाय में कैफीन ज्यादा होता है इसलिए वे चाय नींद को भगाती हैं। लेकिन कुछ देर बाद आलसी भी बना देती हैं।

सफेद चाय की शुरुआती चीन से मानी जाती है। इसे पीने से मोटापे से लेकर त्वचा संबंधी रोगों का भी निदान होता है। रोज 1 कप चाय फायदेमंद है।

Read more articles on Healthy Diet in Hindi

 
Disclaimer