कैसे चुनें ताजी और बेस्ट लीची? जानें लीची और सेहत से जुड़े 8 जरूरी सवालों के जवाब

ताजी खट्टी-मीठी लीची सभी को पसंद होती है पर इसे चुनने के ल‍िए क‍िन बातों का ध्‍यान रखना चाह‍िए? इस लेख से जान‍िए लीची से जुड़ी जरूरी सवालों के जवाब

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jul 22, 2021Updated at: Jul 22, 2021
कैसे चुनें ताजी और बेस्ट लीची? जानें लीची और सेहत से जुड़े 8 जरूरी सवालों के जवाब

जब भी रसेदार फलों की बात आती है हम लीची को नहीं भूल सकते। लीची स्‍वाद ही नहीं बल्‍कि अच्‍छी सेहत भी प्रदान करती है। लीची में फोलेट, पोटैश‍ियम, मैग्‍न‍िश‍ियम, व‍िटाम‍िन सी, व‍िटाम‍िन बी6 जैसे न्‍यूट्र‍िएंट्स मौजूद होते हैं। लीची का सेवन करने से रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ती है। हार्ट ड‍िसीज और बीपी कम करने में भी लीची फायदेमंद मानी जाती है। हालांक‍ि ये फल दो से तीन महीने के ल‍िए बाजार में आता है, तो क्‍या हम इसे लंबे समय के ल‍िए स्‍टोर सकते हैं? लीची से जुड़े ऐसे ही अन्‍य सवालों के जवाब जानने के ल‍िए पूरा लेख पढ़ें। इस लेख में हम लीची फल से जुड़ी जरूरी बातें जानेंगे ज‍िसमें लीची को स्‍टोर करने का तरीका, लीची से जुड़े स्‍वास्‍थ्‍य लाभ, लीची के नुकसान और उसे खाने के तरीकों से जुड़े सवालों के जवाब आपको म‍िलेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के वेलनेस डाइट क्‍लीन‍िक की डाइटीश‍ियन डॉ स्‍म‍िता सिंह से बात की।

litchi benefits

1. कैसे चुनें ताजी और बेस्ट लीची? (How to choose best and fresh litchi)

लीची सफेद रंग का फल होता है ज‍िसके अंदर एक बीज होता है और ऊपर से लीची के छिलके कर रंग लाल होता है। लगभग एक इंच डायमीटर की लीची छूने में मुलायम होती है और इसकी खुशबू फूल जैसी फ्रेश होती है। आपको ताजी लीची चुनना है तो इन बातों का ध्‍यान रखें- 

  • अगर लीची छूने पर ज्‍यादा सख्‍त लग रही है तो इसका मतलब लीची कच्‍ची है। वैसे तो आप कच्‍ची लीची भी खाने लायक होती है पर कच्‍ची लीची खाने से पेट में दर्द हो सकता है इसल‍िए हमेशा पका हुआ फल ही खाएं।
  • अगर फल ज्‍यादा पका है तो उसमें सड़न आ सकती है इसल‍िए आपको ज्‍यादा पकी हुई लीची भी नहीं खानी चाह‍िए। ज्‍यादा पकी हुई लीची की न‍िशानी है क‍ि वो ज्‍यादा पकी हुई होती है।
  • अगर लीची का छ‍िलका टूटा हुआ है या ज्‍यादा गीला है तो लीची में सड़न हो सकती है, ऐसी लीची न खाएं।

इसे भी पढ़ें- मानसून में खुले में बिकने वाले स्ट्रीट फूड्स दे सकते हैं ये 5 बीमारियां, जानें इनके लक्षण और बचाव के टिप्स

2. आप लीची को फ्र‍िज में कब तक स्‍टोर कर सकते हैं? (For how long you can store litchi in fridge)

store litchi in fridge

ताजी लीची को फ्रिज में 5 से 7 द‍िनों तक स्‍टोर क‍िया जा सकता है। लेकि‍न अगर आप कमरे के तापमान पर उसे रखेंगे तो 2 से 3 द‍िनों के ल‍िए लीची को स्‍टोर कर सकते हैं। लीची को स्‍टोर करने का सही तरीका क्‍या है? लीची को स्‍टोर करने का सही तरीका है क‍ि आप उसे तौल‍िए में रखें ज‍िससे एक्‍स्‍ट्रा मॉइश्‍चर तौल‍िए में आ जाए और इससे लीची को सही हवा भी म‍िल जाएगी, ध्‍यान रखें कि आपको लीची को केवल तौल‍िए पर रखना है, लपेटना नहीं है।

3. क्‍या लीची में बहुत ज्‍यादा कैलोरीज होती हैं? (Litchi carries high calories or not)

नहीं लीची में बहुत ज्‍यादा कैलोरीज नहीं होतीं पर आपको एक साथ ढेर सारी लीची खाने से बचना चाह‍िए। अगर 100 ग्राम लीची की बात करें तो उसमें 66 कैलोरीज होती हैं। कैलोरीज में व‍िटामि‍न सी की भरपूरी मात्रा होती है, लीची में करीब 71 प्रत‍िशत व‍िटाम‍िन सी होता है। 

4. लीची को खाली पेट खा सकते हैं? (Can litchi be eaten empty stomach)

litchi side effects

नहीं। लीची में व‍िटामि‍न बी, जरूरी म‍िनरल जैसे मैग्‍न‍िश‍ियम, पोटैश‍ियम की अच्‍छी मात्रा होती है पर आपको लीची को खाली पेट खाने से बचना चाह‍िए। खाली पेट लीची खाने से आपको गैस या कब्‍ज की श‍िकायत हो सकती है। कुछ लोगों में पेट में दर्द भी हो सकता है। लीची में शुगर की मात्रा ज्‍यादा होती है अगर आप खाली पेट ढेर सारी लीची खा लेंगे तो शुगर लेवल अचानक से बढ़ जाएगा और शुगर लेवल बढ़ने से आपको घबराहट या बेचैनी हो सकती है।

5. लीची का सीजन खत्‍म होने के बाद भी लीची का जूस पी सकते हैं? (Litchi juice can be consumed off season or not)

litchi juice

भारत में अगर नॉर्थ इंड‍िया की बात करें तो लीची मई से जून के बीच पकती है और साउथ इंड‍िया की बात करें तो लीची द‍िसंबर से जनवरी के महीन में पकती है। ये समय ताजे जूस के सेवन के ल‍िए ठीक है। आपको केवल ताजे जूस का सेवन करना चाह‍िए क्‍योंक‍ि टैट्रा पैक वाले जूस सालभर आते हैं क्‍योंक‍ि उनमें प्र‍िजर्वेट‍िव मिलाए जाते हैं। ये प्र‍िजर्वेटि‍व आपकी सेहत को ब‍िगाड़ सकते हैं इसल‍िए गर्मियों के सीज़न में लीची जब बाजार में म‍िलती है तब फ्रेश जूस न‍िकालकर प‍िएं आप लीची के जूस को फ्र‍िज में केवल 2 से 3 द‍िन के ल‍िए प्र‍िजर्व कर सकते हैं। 

6. क्‍या टैट्रा पैक वाला लीची का जूस सेहतमंद होता है? (Packaged litchi juice is healthy or not)

टैट्रा पैक में म‍िलने वाले लीची के जूस को बनाने के ल‍िए फल के पल्‍प को जूस बनाने के ल‍िए इस्‍तेमाल क‍िया जाता है। इसके ल‍िए फल को उबाला जाता है ज‍िससे उसके न्‍यूट्र‍िएंट्स और लीची में मौजूद फाइबर नष्‍ट हो जाते हैं। लीची में कैलोरीज की मात्रा कम होती है जो लोग वजन कम करना चाहते हैं वो इसका सेवन करते हैं पर अगर आप टैट्रा पैक वाले लीची जूस का सेवन करेंगे तो उसमें कैलोरीज़ की मात्रा ज्‍यादा होगी।

इसे भी पढ़ें- कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए बेस्ट मानी जाती है TLC डाइट, जानें इसमें क्या कैसे खाते हैं

7. क्‍या लीची का जूस पीने से ब्‍लड प्रेशर कम होता है? (Litchi juice can lower down blood pressure or not)

हां लीची का जूस पीने से ब्‍लड प्रेशर और कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर दोनों कंट्रोल होता है। लीची का जूस पीसे से रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ती है। लीची के जूस का सेवन करने से शरीर की रोग प्रत‍िरोधक क्षमता भी बढ़ती है क्‍योंक‍ि लीची में व‍िटामि‍न सी की अच्‍छी मात्रा होती है।

8. ज्‍यादा लीची खाने से तबीयत ब‍िगड़ सकती है? (Side effects of eating many litchies in a time)

litchie for daily use

हां अगर आप ज्‍यादा लीची खा लेंगे तो आपकी सेहत ब‍िगड़ सकती है। आपको एक द‍िन में 4 से 5 लीची से ज्‍यादा नहीं खानी चाह‍िए। ज्‍यादा लीची खा लेने से पेट में दर्द, कमजोर इम्‍यून‍िटी, गले में खराश आद‍ि की समस्‍या हो सकती है।

अगर आप रोजाना 4 से 5 लीची खाएं तो शरीर में एनर्जी रहेगी और गर्मी के मौसम में शरीर हाइड्रेट रहेगा, लेक‍िन आपको लीची खाने से समस्‍या हो रही है तो डॉक्‍टर की सलाह लेकर ही लीची का सेवन करें।

Read more on Healthy Diet in Hindi 

Disclaimer