नर्व डैमेज कर सकती हैं ये 5 आदतें, जानें शरीर के नर्व्स (तंत्रिकाओं) को हेल्दी रखने के टिप्स

नर्व डैमेज होने का कारण हमारी कुछ आदतें ही हैं जिनसे हमारे नर्व्स (तंत्रिकाओं) को नुकसान पहुंचता है। आइए जानते हैं नर्व को डैमेज होने से कैसे बचाएं। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariUpdated at: Aug 26, 2021 16:54 IST
नर्व डैमेज कर सकती हैं ये 5 आदतें, जानें शरीर के नर्व्स (तंत्रिकाओं) को हेल्दी रखने के टिप्स

उम्र बढ़ने के साथ ज्यादातर लोग  नर्व्स (तंत्रिकाओं) से जुड़ी परेशानियों की शिकायत करने लगते हैं। पर आज कल नर्व से जुड़ी परेशानियां वयस्कों को हो रही हैं। आपने देखा होगा कि लगातार कंप्यूटर पर काम करने और मोबाइल चलाने के कारण लोग गर्दन की नसों में और हाथों की नसों में दर्द की शिकायत करते हैं। पर ये तो बस नर्व डैमेज (Nerve damage) होने की शुरुआत है। लंबे समय में ये शरीर के कुछ जरूरी नर्व्स (Nerves) को डैमेज करके आपको कई गंभीर बीमारियों का शिकार बना सकती है। ऐसे में जरूरी है कि आप जानें कि नर्व डैमेज होने का कारण क्या है और आपकी ऐसी कौन सी आदतें हैं जिनके कारण आपको ये परेशानी हो सकती है। इसी बारे में विस्तार से जानने के लिए हमने डॉ. प्रवीण गुप्ता (Dr. Praveen Gupta), निदेशक, न्यूरोलॉजी, फोर्टिस मेमोरियल रिसर्च इंस्टीट्यूट, गुरुग्राम।

inside2nervesproblems

Image credit:Total Orthopaedic Care

नर्व डैमेज करने वाली आदतें

1. खराब लाइफस्टाइल 

खराब लाइफस्टाइल आज कल हर बीमारी की जड़ है। नर्व्स की परेशानियों (Nerve Problems) की भी। दरअसल, सुबह से लेकर शाम तक एक गलत लाइफस्टाइल फॉलो करने से ये आपके नर्व्स की हेल्थ पर असर डालते हैं। जैसे कि गलत खाना-पान जिसकी वजह से बॉडी को सही से मिनरल्स और विटामिन नहीं मिल पाते और शरीर में नर्व्स से जुड़ी परेशानियां बढ़ने लगती हैं। साथ ही जिन लोगों को शराब पीने,  चाय पीने या फिर कॉफी जैसे रेगुलर स्टूमिलेंट लेने की आदत है उनमें भी नर्व्स से जुड़ी परेशानियां बढ़ने लगती हैं।

2. देर से सोना

आज कल सोने और उठने का कोई भी सही समय नहीं रह गया है। जब तक हमें काम होता है हम जगते रहते हैं और दब काम खत्म हो जाता है तो, सो जाते हैं। साथ ही सोते समय रात में भी लोग मोबाइल चलाते रहते हैं जिससे इससे निकलने वाले ब्लू रेज हमारी नींद को डिस्टर्ब करती है। इन तमाम कारणों की वजह से हमारी स्लीप साइकिल डिस्टर्ब होती है और इसका असर हमारी नर्वस सिस्टम पर भी होता है। साथ सी देर से सोने और उठने के इस रूटीन के कारण लोगों में थकान बढ़ती है और इस वजह से शरीर दर्द होता है। साथ ही आपका दिमाग भी फ्रेश तरीके से काम नहीं कर पाता। 

inside4-7

3. मल्टीटास्किंग करना

आज कल ज्यादातर लोग मल्टीटास्किंग हो गए हैं। यानी एक ही वक्त में वो कई सारा काम करते हैं और इससे उन्हें थकान बहुत है।  मल्टीटास्किंग करने से शरीर से ज्यादा दिमाग को थकान होती है। दरअसल, साइनाइड वर्किंग मेमोरी होती है और जब इस पर लोड ज्यादा हो जाता है तो नर्व्स पर स्ट्रेस आता है। दरअसल, स्ट्रेस का लोड बढ़ जाने से दिमाग गर्म हो जाता है और इससे हमारी तंत्रिकाओं को क्षति पहुंचने लगती है। ऐसे में हमें मल्टीटास्किंग से बचना चाहिए। अगर हम मल्टीटास्कर हैं भी तो हमें हमें हर काम को करने के बीच में अपने दिमाग को कम से कम आधे घंटे का आराम देना चाहिए। 

4. एक्सरसाइज ना करना

एक्सरसाइज ना करने के पीछे सबसे बड़ा कारण ये है कि आज कल हमारे पास समय कम है। हम जिस तरह से एक ही समय में बहुत से कामों को कर रहे हैं उससे हमारे शरीर को तेजी से नुकसान पहुंच सकता है और इसलिए जरूरी है कि हम बॉडी को रिकवर कर करने के लिए हम एक्सरसाइज करें। एक्सरसाइज मानसिक स्वास्थ्य को सही रखने के लिए भी जरूरी है क्योंकि इससे हमारा दिमाग खुद को डिटॉक्स कर पाता है।  

इसे भी पढ़ें : एलर्जी टेस्ट क्या है और कब करवाना चाहिए? जानें इस टेस्ट की प्रक्रिया और जरूरी बातें

5.  दिमाग को आराम ना देना

दिमाग को रेस्ट देना बेहद जरूरी है। ऐसा इसलिए क्योंकि आपका ब्रेन लगातार काम करने से  थक जाता है और धीमे-धीमे अपने सभी शक्तियों को खोने लगता है। इसकी वजह से कई बार हमारी याददाश्त कमजोर होने लगती है। हमारा सिर दुखता है और हमें डिमेंशिया जैसे मस्तिष्क रोगी और अन्य न्यूरोलॉजिकल परेशानियां हो जाती हैं। इसलिए रोजाना 30 मिनट अपने लिए समय निकालें और बिना कुछ किए खुद को आराम दें। 

नर्व्स (तंत्रिकाओं) को हेल्दी रखने के टिप्स-How to maintain good nerve health

1. स्लीप साइकिल सही करें

स्लीप साइकिल सही करने से आपकी कई परेशानियां अपने आप सही हो सकती हैं। जैसै से सही टाइम पर सोने आपका दिमाग शांत रहता है और आप रिलेक्श महसूस करते हैं। साथ ही आपका ब्लड प्रेशर सही रहता है और सेल्स डैमेज नहीं होता।  

2. मोटापा कम करें

मोटापा कम करने से आप अपने नर्व्स को हेल्दी रख सकते हैं। दरअसल, मोटापा कोलेस्ट्रोल बढ़ने से होता है। कोलेस्ट्रोल बढ़ने से हाइपरटेंशन बढ़ता है और आपके नर्व्स की कवरिंग डैमेज होने लगती है। जिससे ब्रेन स्ट्रोक हो सकता है। इसलिए अगर आपको नर्व्स को हेल्दी रखना है तो, अपना वजन कंट्रोल करने की जरूर कोशिश करें।

 

3. डायबिटीज कंट्रोल करें

डायबिटीज के मरीजों में नर्व्स की कवरिंग डैमेज हो जाती है। ऐसे में इस कवरिंग को हेल्दी रखने के लिए डायबिटीज कंट्रोल करें। इसके लिए ब्लड शुगर कंट्रोल करने की कोशिश और इसके लिए अपनी डाइट में हेल्दी बदलाव करें। 

4. ब्लड प्रेशर सही रखें

ब्लड प्रेशर सही रखना बेहद जरूरी है। दरअसल, जब ब्लड प्रेशर तेज होता है तो आपके नर्व्स का प्रेशर बढ़ जाता है जिससे ब्रेन हेमरेज हो सकता है या ब्रेन स्ट्रोक हो सकता है। ऐसे में ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के लिए नमक कम खाएं, स्ट्रेस कम लें और बॉडी को आराम ज्यादा दें। 

इसे भी पढ़ें : अचानक तेज नींद आने (स्लीप अटैक) की समस्या क्यों होती है? जानें इसके लक्षण , खतरे, कारण और इलाज

5. प्रदूषण से बचें

प्रदूषण ऑक्सीडेटिव तनाव को बढ़ाता है जिससे नर्व्स डैनेज हो सकता है। इसलिए कोशिश करें थोड़ा कम प्रदूषित जगहों पर रहें। घर के आस पास पेड़ पौधे लगाएं और हरियाली रखें। घर के अंदर की हवा को साफ रखने के लिए एयर प्यूरीफायर लगाएं

vitamin_b_inside

6.  विटामिन डी और विटामिन बी 12 का सेवन करें 

विटामिन डी और विटामिन बी 12 हमारे नर्व को हेल्दी रखने के लिए बेहद जरूरी हैं। विटामिन डी लेने के लिए सुबह की खिली खिली धूप में वॉक करें। साथ ही  विटामिन बी 12 के लिए विटामिन बी 12 से भरपूर चीजों का सेवन करें। जैसे कि दूध, सीड्स और सी फूड्स।

साथ ही  ज्यादा दवाइयां लेने से  भी आपके नर्व डैमेज हो सकते हैं। इसलिए कोशिश करें कि बिना डॉक्टर से पूछे कोई भी दवा ना लें। आयुर्वेदिक दवाओं के सेवन से भी बचें। साथ ही पेनकिलर आदि लेने से भी बचें। इसके अलावा ज्यादा चाय, कॉफी और शराब पीने की आदत को कंट्रोल करें। रोज 30 मिनट एक्सरसाइज करें जिससे आपका ब्लड सर्कुलेशन सही रहे और आप हेल्दी रहें।

Main image credit: Integrity Physio

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer