हींग से महिलाओं की ये 5 समस्याएं होंगी दूर, रोजाना ऐसे करें सेवन

सेहत के लिए हींग बहुत फायदेमंद मानी जाती है, महिलाओं के लिए हींग के कई फायदे होते हैं जानें इनके बारे में।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: May 11, 2022Updated at: May 11, 2022
हींग से महिलाओं की ये 5 समस्याएं होंगी दूर, रोजाना ऐसे करें सेवन

हींग सेहत के लिए बहुत फायदेमंद मसाला है। आयुर्वेद में हींग को कई बीमारियों और समस्याओं के लिए औषधि के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। लगभग हर भारतीय किचन में हींग (Asafoetida) का इस्तेमाल किया ही जाता है। हींग पाचन शक्ति को बढ़ाने के साथ-साथ भोजन के स्वाद को भी बेहतर बनाने का काम करती है। भारत में हींग की खेती बहुत कम की जाती है। हमारे देश में ज्यादातर हींग ईरान, अफगानिस्तान और काबुल आदि के पहाड़ी क्षेत्रों से आती है। आयुर्वेद में अस्थमा के मरीजों के लिए हींग को बहुत कारगर औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। हींग की तासीर भले ही हल्की तीखी होती है लकिन इसकी महक बहुत ज्यादा अच्छी होती है। सही ढंग से इसका इस्तेमाल करने से सेहत को कई फायदे मिलते हैं। महिलाओं के लिए भी हींग बहुत फायदेमंद मानी जाती है। हींग का इस्तेमाल करने से महिलाओं की कई समस्याओं में फायदा मिलता है। आइये जानते हैं महिलाओं के लिए हींग के फायदे।

महिलाओं के लिए हींग के फायदे (Hing Health Benefits for Women in Hindi)

महिलाओं की कई समस्याओं में हींग का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद माना जाता है। आप इसे आसानी से अपनी डाइट में शामिल कर सकती हैं इसके अलावा आयुर्वेद में बताये तरीकों से इसका इस्तेमाल कर सकती हैं। हींग का सेवन करने से आपके पेट की पाचन शक्ति बढ़ती है और कई समस्याओं में फायदा मिलता है। सदियों से हींग का इस्तेमाल खाना बनाने और समस्याओं के इलाज के तौर पर किया जाता है। आपको यह बात हमेशा याद रखनी चाहिए कि हींग सेहत के लिए जितनी फायदेमंद होती है वहीं इसका गलत तरीके से इस्तेमाल करने पर इसके नुकसान भी हो सकते हैं। महिलाओं की कई समस्याओं को दूर करने के लिए हींग का इस्तेमाल इन तरीकों से किया जा सकता है।

Asafoetida-health-benefits-for-women

इसे भी पढ़ें : हरसिंगार की पत्तियां इन 5 कारणों से होती हैं सेहत के लिए बहुत फायदेमंद, जानें इस्तेमाल के तरीके

1. पीरियड्स का दर्द दूर करने में फायदेमंद

पीरियड्स के दौरान महिलाओं को कई तरह की परेशानियां झेलनी पड़ती हैं। इस दौरान पेट में होने वाला गंभीर दर्द बहुत खतरनाक और असहनीय होता है। पीरियड्स के समय पेट में दर्द की समस्या को कम करने के लिए नियमित रूप से हींग का सेवन करना फायदेमंद होता है। पीरियड्स के दर्द से तुरंत राहत पाने के लिए भी आप चुटकी भर हींग गर्म पानी के साथ खा सकती हैं।

2. पाचन तंत्र के लिए उपयोगी

हींग का सेवन पाचन तंत्र के लिए बहुत फायदेमंद होता है। पीरियड्स या मासिक धर्म के दौरान या उसके बाद महिलाओं में पेट से जुड़ी समस्याएं हो जाती हैं। इन समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए आप हींग का इस्तेमाल करें। आप इसे अपने भोजन में मसाले या तड़के के रूप में शामिल कर सकती हैं।

3. पेड़ू के दर्द में फायदेमंद हींग

महिलाओं में पेड़ू में अचानक उठने वाले दर्द की समस्या को दूर करने के लिए हींग का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद होता है। पेड़ू में ऐंठन और दर्द को कम करने के लिए आपको हींग का सेवन करना चाहिए। इसका नियमित रूप से सेवन करने से इस समस्या में बहुत फायदा मिलता है।

4. ल्यूकोरिया की समस्या में फायदेमंद

हींग में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। ये गुण पीरियड्स की समस्या में तो फायदेमंद होते ही हैं साथ ही ल्यूकोरिया की समस्या में भी बहुत फायदेमंद माने जाते हैं। कई शोध और अध्ययन इस बात की भी पुष्टि करते हैं कि हींग का सेवन करने से आपको ल्यूकोरिया और कैंडिडा इंफेक्शन को ठीक करने में फायदा मिलता है। इन समस्याओं में डॉक्टर की सलाह पर ही इसका इस्तेमाल करना चाहिए।

5. स्किन के लिए फायदेमंद

स्किन से जुड़ी समस्याओं में हींग का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद होता है। स्किन पर होने वाली समस्याएं जैसे दाद, खुजली और अन्य चर्म रोगों में हींग का इस्तेमाल बहुत फायदेमंद होता है। इन समस्याओं में हींग के पानी का इस्तेमाल भी किया जाता है।

इसे भी पढ़ें : चक्र फूल के आयुर्वेदिक फायदे: आपकी ये 5 समस्‍याएं दूर कर सकता है चक्र फूल, जानें प्रयोग का तरीका

हींग ऊपर बताई गयी समस्याओं में बहुत फायदेमंद होती है लेकिन इसकी तासीर बहुत गर्म होती है। इसलिए हींग का बहुत अधिक मात्रा में सेवन करना नुकसानदायक हो सकता है। किसी भी बीमारी में हींग का सेवन बिना डॉक्टर की सलाह के नहीं करना चाहिए। इसके अलावा गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए हींग का अधिक मात्रा में सेवन नुकसानदायक होता है।

(All Image Source - Freepik.com)

Disclaimer