Doctor Verified

क्या ब्रेस्ट में पत्तागोभी रखने से सच में दूर होती है दर्द और सूजन की समस्या?

ब्रेस्‍ट में पत्‍तागोभी रखने से दर्द और सूजन की समस्‍या दूर की जा सकती है, आइए जानते हैं कैसे

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jun 02, 2021Updated at: Oct 19, 2021
क्या ब्रेस्ट में पत्तागोभी रखने से सच में दूर होती है दर्द और सूजन की समस्या?

कुछ स्‍टडीज के मुताब‍िक ब्रेस्‍ट पर पत्‍तागोभी का पत्‍ता रखने से दर्द, सूजन या भारीपन जैसी समस्‍याओं से छुटकारा म‍िल सकता है। वहीं देसी नुस्‍खों में भी पत्‍तागोभी का ज‍िक्र है। तो क्‍या पत्‍तागोभी का पत्‍ता ब्रेस्‍ट पर रखने से सच में दर्द और सूजन गायब हो जाता है? दरअसल पत्‍तागोभी में एंटी-इंफ्लामेटरी और एंटीऑक्‍सीडेंट गुण होते है, देसी इलाज में इसका इस्‍तेमाल दर्द म‍िटाने के ल‍िए क‍िया जाता है पर मह‍िलाओं के बीच पत्‍तागोभी के पत्‍ते को इस्‍तेमाल करने का अलग तरीका देखा जाता है, वो इसे ब्रेस्‍ट पर सूजन और दर्द म‍िटाने के लि‍ए कारगर मानती हैं। कुछ का मानना है क‍ि ब्रेस्‍टफीड‍िंग के दौरान ब्रेस्‍ट में भारीपन या दर्द होता है ज‍िसमें ठंडे पत्‍ते के इस्‍तेमाल से राहत म‍िलती है। पूरा सच जानने के ल‍िए आप भी इस लेख पर गौर करें। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।

cabbage use for breast

ब्रेस्‍ट में पत्‍तागोभी रखने से दर्द और सूजन ठीक हो सकती है? (Cabbage leaves cures breast pain and swelling)

डॉ सीमा ने बताया क‍ि हमारे पास कई मांएं चेकअप के ल‍िए आती हैं जो अपने अनुभव से हमें बताती हैं क‍ि उन्‍होंने पत्‍तागोभी के इस्‍तेमाल से ब्रेस्‍ट में दर्द और सूजन को कम किया है तो हम इसके ल‍िए मना नहीं करते क्‍योंक‍ि पत्‍तों को रखने से कोई नुकसान नहीं है जब तक आपको पत्‍तागोभी से एलर्जी न हो। पत्‍तागोभी के इस्‍तेमाल के वक्‍त साफ-सफाई रखेंगी तो कोई परेशानी नहीं होगी। अगर पत्‍ते से आपको एलर्जी, रैशेज या दानें  हों तो इस्‍तेमाल बंद कर दें। अगर आप बच्‍चे को ब्रेस्‍टफीड‍िंग करवाती हैं तो पत्‍तागोभी का इस्‍तेमाल ध्‍यान से करें। इसे बहुत ज्‍यादा इस्‍तेमाल करने से बचें और जैसे ही दर्द दूर हो जाए तो पत्‍तागोभी के पत्‍ते को स्‍किन से हटा दें। 

इसे भी पढ़ें- खुद से रेगुलर ब्रेस्ट की जांच करना कितना जरूरी है?

ब्रेस्‍ट में पत्‍तागोभी रखने से क्‍या फायदे म‍िलते हैं? (Benefits of cabbage leaves on breast)

  • पत्‍तागोभी में एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटी-इंफ्लामेटरी गुण होते हैं ज‍िससे सूजन और दर्द ठीक हो सकता है। 
  • स्‍टडीज के मुताब‍िक, मह‍िलाओं को ब्रेस्‍टफ‍ीड‍िंग के दौरान होने वाले दर्द से राहत द‍िलाती है पत्‍तागोभी। 
  • कुछ मह‍िलाओं के मुताब‍िक, ब्रेस्‍ट पर पत्‍तागोभी कोल्‍ड कंप्रेसर का काम करती है, अगर ब्रेस्‍ट में भारीपन महसूस हो रहा है तो पत्‍तागोभी के पत्‍ते रखने से भारीपन हल्‍का हो जाता है।

इसे भी पढ़ें- प्रेग्नेंसी में कब जरूरी हो जाता है बेड रेस्ट? जानें डॉक्टर से

ब्रेस्‍ट पर पत्‍तागोभी के पत्‍तों को कैसे लगाएं? (Ways to use Cabbage Leaves on breast)

चल‍िए जानते हैं ब्रेस्‍ट पर पत्‍तागोभी को इस्‍तेमाल करने का तरीका- 

  • 1. पत्‍तागोभी को ब्रेस्‍ट पर रखने से पहले उसे ठंडा होने के ल‍िए फ्र‍िज में रख दें। 
  • 2. पत्‍तागोभी को पानी से अच्‍छी तरह से धोकर साफ कर लें। 
  • 3. दो पत्‍तों को अलग न‍िकाल लें, इस बात पर ध्‍यान दें क‍ि पत्‍ते पर धूल या कोई कैमिकल मौजूद न हो। 
  • 4. बाहर वाले पत्‍ते को फेककर, अंदर वाले पत्‍तों को यूज करें। 
  • 5. पत्‍तों से एक्‍सट्रा पानी न‍िकाल दें और साफ तौल‍िए से उसे पोछ लें। 
  • 6. पत्‍तों को ब्रेस्‍ट के एक या दोनों तरफ रख लें, कोश‍िश करें क‍ि पत्‍तों को न‍िप्‍पल पर न रखें, इसके ल‍िए आप पत्‍ते में एक कट लगा सकते हैं। 
  • 7. आप पत्‍तों को 15 या 20 म‍िनट तक ब्रेस्‍ट पर रखकर लेट जाएं।
  • 8. जब बॉडी के तापमान से पत्‍ते गरम हो जाएं तो उन्‍हें हटा दें और साफ कपड़े से स्‍किन को साफ कर लें।

पत्‍तागोभी के पत्‍ते को इस्‍तेमाल के बाद फेक दें, दूसरी बार इस्‍तेमाल करने के ल‍िए फ्रेश पत्‍ता लें। पत्‍तागोभी को प्‍लास्‍ट‍िक बैग में रखकर फ्रीजर में 15 म‍िनट के ल‍िए रख सकते हैं, इससे वो लंबे समय तक स्‍टोर रहेगा। ब्रेस्‍ट में दर्द या सूजन होने पर पहले डॉक्‍टर से संपर्क करें, क्‍योंक‍ि इसके कई कारण हो सकते हैं ज‍िसमें देसी इलाज काम नहीं आएगा। 

Read more on Women Health in Hindi 

Disclaimer