अपने बॉडी शेप के अनुसार ऐसे चुनें सही एक्सरसाइज और डाइट, कम समय में घटा सकेंगे ज्यादा वजन

अगर आप अपनी बॉडी शेप के मुताबिक एक्‍सरसाइज और डाइट चुनेंगे तो कम समय में ज्‍यादा वजन घटा सकते हैं 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: May 14, 2021
अपने बॉडी शेप के अनुसार ऐसे चुनें सही एक्सरसाइज और डाइट, कम समय में घटा सकेंगे ज्यादा वजन

एक्‍सरसाइज के बाद भी वजन कम क्‍यों नहीं हो रहा? अगर कसरत करने के बावजूद भी आप अपना वजन नहीं घटा पा रहे हैं तो आप कहीं न कहीं गलती कर रहे हैं। हो सकता है आप अपनी बॉडी टाइप के मुताब‍िक कसरत न करे हों। अगर आप अपनी बॉडी शेप को समझकर कसरत करें तो आपके ल‍िए वजन कम करना ज्‍यादा आसान हो जाएगा। कई तरह की बॉडी शेप्‍स होती हैं जैसे आवरग्‍लास, एप्‍पल, बनाना, पीयर बॉडी आद‍ि। अपनी बॉडी शेप को पहचानें और उस मुताब‍िक कसरत करें। कसरत के साथ सही डाइट लेना भी बहुत जरूरी है। इस लेख में हम आपको बताएंगे बॉडी शेप के मुताब‍िक आपको अपनी डाइट और कसरत कैसे चुननी चाह‍िए। एक बात का ध्‍यान जरूर रखें क‍ि रोजाना डाइट फॉलो करने और कसरत करने से ह‍िचक‍िचाएं नहीं। रोजाना कसरत करने से आपका मेटाबॉल‍िज्‍म स्‍ट्रांग बनता है। ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन सीमा यादव से बात की। 

body shape workout

1. आवरग्‍लास बॉडी शेप (Hourglass Body Shape)

आवरग्‍लास बॉडी टाइप वाले लोगों की बॉडी काफी हद तक सही शेप में होती है। इसे एक आइड‍ियल बॉडी टाइप भी कहा जाता है। हालांक‍ि इस बॉडी टाइप के लोगों में शोल्‍डर, चेस्‍ट, कमर के नीचे वाला ह‍िस्‍सा, जल्‍दी बढ़ जाता है। अगर बाक‍ि बॉडी टाइप की बात करें तो बाक‍ि के मुकाबले आवरग्‍लास शेप के लोगों को बीमार‍ियां कम होती हैं। 

एक्‍सरसाइज

आवरग्‍लास बॉडी टाइप वाले लोगों को शरीर के ऊपरी और नीचे वाले हिस्‍से में बैलेंस बनाना होता है। ऐसे लोगों का वजन जल्‍दी बढ़ जाता है इसल‍िए उन्‍हें एनर्जी एक्‍सरसाइज करनी चाह‍िए जैसे टेन‍िस, बॉलीबॉल आद‍ि। इसके अलावा आप कार्ड‍ियो एक्‍सरसाइज भी जरूरी करें। ज‍ंप‍िंग जैक, स्‍व‍िम‍ करना, साइक‍िल चलाना आद‍ि कर सकते हैं।  

डाइट 

आवरग्‍लास वाली शेप होने पर आपको प्रोटीन र‍िच डाइट लेनी चाह‍िए लेक‍िन डॉक्‍टर से सलाह लेकर डाइट लें क्‍योंक‍ि आपको अगर क‍िसी तरह की बीमारी है तो डॉक्‍टर आपको परहेज भी बता सकते हैं। आपको अपनी डाइट में चीनी अवॉइड करनी है। हरी पत्‍तेदार सब्‍ज‍ियां खा सकते हैं, अंडे, स्‍क‍िम्‍ड म‍िल्‍क, एवोकॉडो का भी सेवन फायदेमंद होगा।

इसे भी पढ़ें- घर से बाहर नहीं जा सकते हैं तो कमरे में एक जगह पर खड़े होकर करें जॉगिंग, जानें 'स्टेशनरी जॉगिंग' के फायदे

2. एप्‍पल बॉडी शेप (Apple Body Shape)

diet for weight loss

एप्‍पल बॉडी शेप वाले लोगों का ऊपरी ह‍िस्‍सा यानी चेस्‍ट और कंधा चौड़ा होता है और न‍िचला ह‍िस्‍सा पतला होता है। एप्‍पल बॉडी शेप में शरीर में फैट पेट, छाती और चेहरे में ज्‍यादा होता है। ऐसे लोगों की बॉडी में एंड्रोजन का हार्मोन ज्‍यादा होता है। एप्‍पल बॉडी को ब्‍लड प्रेशर, डायब‍िटीज, अस्‍थमा जैसी बीमार‍ियों का खतरा भी ज्‍यादा होता है। 

एक्‍सरसाइज 

एप्‍पल बॉडी शेप वाले लोगों को एब्‍डॉम‍िनल के ह‍िस्‍से में फोकस करने की जरूरत होती है। अगर आप भी इस शेप में आते हैं तो कार्डि‍यो और बॉडी टोन‍िंग पर ध्‍यान दें। पेट की चर्बी को कम करने के ल‍िए आप कुछ आसान एक्‍सरसाइज अपना सकते हैं जैसे साइकल‍िंग, रन‍िंग, रस्‍सी कूदना, स्‍वैट्स, लेग प्रेस आद‍ि। इसके अलावा आपको कार्ड‍ियोवेस्‍कुलर एक्‍सरसाइज भी करनी चाह‍िए। 

डाइट

एप्‍पल बॉडी टाइप वाले लोगों को इसका खतरा ज्‍यादा होता है क‍ि उन्‍हें लाइफस्‍टाइल से जुड़ी हुई बीमारियां हो सकती हैं इसल‍िए एक्‍सरसाइज के साथ-साथ डाइट भी जरूरी है। आप अपनी डाइट में हेल्‍दी फैट्स, हाई फाइबर, कार्बोहाड्रेट एड करें। इसके अलावा आपको अनाज, फल और हरी सब्‍ज‍ियां भी खानी चाहिए। 

इसे भी पढ़ें- हर दिन 1 किलोमीटर दौड़ने से कितना वजन घटा सकते हैं आप? जानें रोजाना दौड़ने के फायदे

3. बनाना बॉडी शेप (Banana Body Shape)

अगर आपकी बॉडी पतली है और ह‍िप्‍स और वेस्‍ट के माप में ज्‍यादा अंतर नहीं है तो आप बनाना बॉडी शेप कैटेगरी में हो सकते हैं। एप्‍पल बॉडी टाइप की तरह इस शेप में भी एड्रोजन ज्‍यादा होता है ज‍िससे बॉडी मस्‍कुलर होती है। बनाना बॉडी शेप का मेटाबॉलि‍ज्‍म रेट बहुत तेज होता है। वैसे तो इस शेप के लोग फ‍िट होते हैं और इन्‍हें बीमार‍ियों का खतरा कम रहता है पर हो सकता है क‍ि इन्‍हें कर्व बनाने में परेशानी हो। 

एक्‍सरसाइज 

बनाना बॉडी शेप के ल‍िए स्‍ट्रेच‍िंग अच्‍छी रहती है। आप स्‍कैट्स, स्‍प‍िन‍िंग या स‍िटअप्‍स कर सकते हैं। आप पावर लंच भी कर सकते हैं। इसके ल‍िए डंबल को पकड़कर सीधा खड़े हो जाएं और एक पैर को आगे और दूसरे को पीछे रखें। आगे वाले पैर के घुटने को धीरे-धीरे मोड़ें, पीछे वाले घुटने को फर्श से छूने की कोश‍िश करें और फ‍िर सीधे हो जाएं। 

डाइट 

बनाना बॉडी शेप वाले लोगों का वजन कम होता है। इन्‍हें अपनी डाइट में कॉम्‍प्‍लेक्‍स कॉर्ब्स, ग्रेन, प्रोटीन, कैल्‍श‍ियम आद‍ि शाम‍िल करना चाह‍िए। इन्‍हें खाने में स्‍टार्च की मात्रा भी कम करनी है। आप अपनी डाइट में दूध, दही, छाछ आद‍ि एड करें। पतले होने का ये मतलब नहीं है क‍ि आप ऑयली फूड खाएं, ऐसे खाने से दूर रहें।

4. पीयर बॉडी शेप (Pear Body Shape)

पीयर बॉडी शेप वाले लोगों का न‍िचला ह‍िस्‍सा ज्‍यादा भारी होता है। इसके हिप्‍स, थाइज, बटक चौड़े होते हैं। पीयर शेप वाले लोगों फैट सैल्‍स ज्‍यादा होते हैं। ऐसे लोगों को वजन कम करने में थोड़ा समय लग सकता है क्‍योंक‍ि इनका मेटाबॉलिज्‍म स्‍लो होता है। 

एक्‍सरसाइज

पीयर बॉडी शेप में बॉडी के न‍िचले ह‍िस्‍से को कम करने की और ऊपरी ह‍िस्‍से को बैलेंस करने की जरूरत होती है। बॉडी को सही शेप देने के ल‍िए आप स्‍कॉट कर सकते हैं। दोनों पैरों में अंतर रखते हुए सीधे हो जाएं, फ‍िर घुटनों को मोड़ें और ध्‍यान रखें क‍ि घुटने पंजों के आगे न आएं। इसके अलावा आप साइड रेज कसरत भी कर सकते हैं। साइड रेज करने के ल‍िए लेट जाएं। बॉडी को सीधा रखें। एक पैर को ह‍िप्‍स और लोअर ह‍िस्‍से को ऊंचा उठाएं और फ‍िर पहली वाली पोज‍िशन में आ जाएं। 

डाइट 

ज‍िन लोगों की बॉडी पीयर शेप की होती है उनके ह‍िप्‍स और कमर के न‍िचले ह‍िस्‍से में फैट ज्‍यादा होता है इसल‍िए इन लोगों को अपनी डाइट से फैट की मात्रा कम करनी चाह‍िए और कैल्‍श‍ियम की मात्रा बढ़ानी चाह‍िए। इसके ल‍िए आप डाइट में फल, हरी पत्‍तेदार सब्‍ज‍ियां, एग वाइट आद‍ि को शाम‍िल करें। अगर आप नमक ज्‍यादा खाते हैं तो उसे कम कर दें, इससे ब्‍लड प्रेशर बढ़ सकता है। 

तो देखा बॉडी शेप के मुताब‍िक कसरत और डाइट चुनना क‍ितना आसान है, इसे न‍ियम‍ित रूप से फॉलो करें, आपको तीन से चार महीनों में ही फर्क महसूस होगा। अगर आप क‍िसी बीमारी के श‍िकार हैं तो डॉक्‍टर से सलाह लेकर ही डाइट और कसरत चुनें। 

Read more on Exercise & Fitness in Hindi

Disclaimer