हर दिन 1 किलोमीटर दौड़ने से कितना वजन घटा सकते हैं आप? जानें रोजाना दौड़ने के फायदे

अगर आप रोजाना एक क‍िलोमीटर दौड़ें तो धीरे-धीरे वजन कम होने लगेगा और बीमार‍ियां दूर होंगी, चलि‍ए जानते हैं कैसे 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: May 07, 2021Updated at: May 18, 2021
हर दिन 1 किलोमीटर दौड़ने से कितना वजन घटा सकते हैं आप? जानें रोजाना दौड़ने के फायदे

हर द‍िन एक क‍िलोमीटर दौड़ने से वजन कम हो सकता है? अगर आप रोजाना एक क‍िलोमीटर दौड़ते हैं तो आपका वजन धीरे-धीरे कम होने लगेगा। इसके साथ ही कई बीमार‍ियां भी दूर होंगी ज‍िनमें से एक है हार्ट ड‍िसीज। कई शहरों में हार्ट ड‍िसीज के चलते मरीज को वेंट‍िलेटर पर भर्ती करने की नौबत आ जाती है। कार्डियोवैस्‍कुलर ड‍िसीज के कारण कई लोग अपनी जान गवां देते हैं। लेकि‍न आप रोजाना एक क‍िलोमीटर दौड़ेंगे तो हार्ट ड‍िसीज का खतरा काफी हद तक कम हो जाएगा। अगर आप पहले से ही क‍िसी बीमारी के श‍िकार हैं तो आपको डॉक्‍टर की सलाह पर ही रन‍िंग करनी चाह‍िए। जरूरी नहीं है की केवल एक क‍िलोमीटर ही आपको हर द‍िन दौड़ना है पर आप अपनी क्षमता के अनुसार दौड़ने की अवधि तय कर सकते हैं। ज‍िन लोगों को डायबिटीज या थॉयराइड जैसी बीमारी है उनके ल‍िए रन‍िंग के कई फायदे हैं। अगर आपको रोजाना सोने में परेशानी होती है तो कम से कम द‍िन में पंद्रह म‍िनट जरूर दौड़ें। अगर आप दौड़ नहीं सकते तो आप रोजाना वॉक जरूर करें। ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के पल्‍स हॉर्ट सेंटर के कॉर्ड‍ियोलॉज‍िस्‍ट डॉ अभ‍िषेक शुक्‍ला से बात की। 

running benefits

हर द‍िन एक क‍िलोमीटर दौड़ने से क‍ितना वजन कम होता है? (How much you can loose after running a kilometer daily)

  • कसरत करना हर मायने में फायदेमंद होता है पर क्‍या आप जानते हैं क‍ि हर द‍िन एक क‍िलोमीटर दौड़ने से आप क‍ितनी वजन कम कर सकते हैं।
  • एक्‍सपर्ट्स की मानें तो शुरूआती महीनों में आप हर द‍िन 300 कैलोरीज घटा सकते हैं और एक महीने में एक से डेढ़ क‍िलो वजन कम कर सकते हैं
  • वहीं कुछ महीनों में अच्‍छी स्‍पीड बना लेने के बाद आप महीने में दो से तीन क‍िलो वजन कम कर सकेंगे
  • कसरत करने से कई पॉज‍िट‍िव बदलाव आते हैं जैसे रोजाना दौड़ना द‍िल की सेहत के ल‍िए फायदेमंद है, स्‍ट्रेस कम होता है और नींद अच्‍छी आती है।
  • कोश‍िश करें क‍ि सुबह के समय दौड़े ये समय कसरत के लिए ब‍िल्‍कुल पर्फेक्‍ट है। इस समय हवा ताजी होती है, ताजी हवा में गहरी सांस भरने से आपके फेफड़े भी मजबूत बनते हैं। 

1. रोज एक क‍िलोमीटर दौड़ने से ज्‍वाइंट्स हेल्‍दी रहेंगी (Joints will stay healthy)

running makes heart healthy

अगर आप रोज कम से कम एक क‍िलोमीटर दौड़ें तो आपकी ज्‍वाइंट्स मजबूत हो सकती है। अगर आप अर्थराइट‍िस के मरीज हैं तो न दौड़ें या ज्‍यादा दर्द हो तो भी दौड़ना अवॉइड करें, इसके अलावा अगर अक्‍सर आपके ज्‍वांइट्स में दर्द रहता है तो आपको रोजाना दौड़ना चाह‍िए। इससे घुटनों का बायोकैम‍िकल वातावरण ठीक होता है ज‍िससे साइटोकिन नाम का प्रोटीन कम होता है। इससे ज्‍वाइंट्स में सूजन और दर्द कम होता है। 

2. रोज एक‍ क‍िलोमीटर दौड़ने से रेस्‍ट‍िंग हार्ट रेट कम होता है (Resting Heart Rate decreases)

अगर आप रोजाना कम से कम एक क‍िलोमीटर दौड़ते हैं तो रेस्‍ट‍िंग हार्ट रेट resting heart rate भी कम होता है। आरएचआर रेट को कंट्रोल रखना इसल‍िए जरूरी है क्‍योंक‍ि इससे आपका हार्ट ठीक तरह से काम करेगा और पूरी बॉडी में ठीक तरह से ब्‍लड सर्कुलेट हो सकेगा। 

इसे भी पढ़ें- चिंता मुक्त रहना है तो कुछ समय के लिए रहें गैजेट्स से दूर, मिलिंद सोमन ने 36 घंटे ऐसा करने के बाद बांटा अनुभव

3. रोज एक‍ क‍िलोमीटर दौड़ने से मसल्‍स मजबूत होती है (Strong muscles)

रोजाना कम से कम एक क‍िलोमीटर दौड़ने से आपकी मसल्‍स मजबूत होती हैं। कुछ लोगों के बॉडी में बहुत जल्‍दी फ्रैक्‍चर होते हैं। ऐसे लोगों को रोजाना कम से कम एक क‍िलोमीटर जरूर दौड़ना चाह‍िए। दौड़ने से आपकी बॉडी का स्‍टेमि‍ना भी बेहतर होगा। इसके साथ ही मसल्‍स में ब्‍लड फ्लो बढ़ेगा। मसल्‍स सैल्‍स में पहले से ज्‍यादा एनर्जी होगी। इससे आपके बॉडी में फ्रैक्‍चर कम होंगे और चोट लगने की आशंका भी कम होगी।

4. रोज एक‍ क‍िलोमीटर दौड़ने से कोलेस्‍ट्राल कंट्रोल रहता है (Cholesterol)

running reduces stress

अगर आप रोजाना दौड़ते हैं तो कोलेस्‍ट्राल बढ़ता नहीं है, कंट्रोल रहता है। हार्ट की अच्‍छी सेहत के ल‍िए कोलेस्‍ट्राल कंट्रोल रहना जरूरी है। इससे आट्रिज की शेप भी अच्‍छी रहती है। अगर आप रोजाना दौड़ेगें तो हाई कोलेस्‍ट्राल की समस्‍या को करीब 35 प्रत‍िशत कम कर सकते हैं। 

5. रोज एक क‍िलोमीटर दौड़ने से स्‍ट्रेस लेवल कम होता है (Lower down stress)

अगर आप रोजाना एक क‍िलोमीटर दौड़ते हैं तो आपकी लाइफ से स्‍ट्रेस हमेशा के ल‍िए चला जाएगा। रोजाना दौड़ने से मेंटल हेल्‍थ अच्‍छी रहती है। रोज दौड़ने से ड‍िप्रेशन कम होता है, एंग्‍जाइटी और मेंटल स्‍ट्रेस भी कम होता है। कुछ स्‍टडीज में ये भी कहा गया क‍ि केवल रोजाना 10 मिनट भी दौड़ेगें तो मानस‍िक स्‍वास्‍थ्‍य अच्‍छा रहेगा। 

इसे भी पढ़ें- ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने के लिए करें ये 4 एक्सरसाइज, फिटनेस ट्रेनर से जानें इन्हें करने का तरीका

6. रोज एक क‍िलोमीटर दौड़ने से अन‍िद्रा की समस्‍या दूर होगी (Better sleep)

अगर आप रोजाना एक क‍िलोमीटर दौड़ते हैं तो अन‍िद्रा की समस्‍या दूर होगी। इससे मूड अच्‍छा रहेगा और थकान से आपको नींद जल्‍दी आएगी। काफी स्‍टडीज में इस बात का दावा क‍िया गया है क‍ि थकान के चलते भी नींद अच्‍छी आती है, अगर आप पूरे द‍िन ब‍िना कसरत क‍िए द‍िनचर्या पूरी करेंगे तो आपको अन‍िद्रा की समस्‍या होगी। दौड़ने से एंडोर्फिन्‍स बढ़ते हैं ज‍िससे आप रात में आराम से सो सकते हैं। 

7. रोज एक क‍िलोमीटर दौड़ने से सांस लेने की क्षमता अच्‍छी होती है (Efficient Breathing)

अगर आप रोजाना दौड़ेंगे तो आपके सांस लेने की क्षमता बेहतर होगी। इन द‍िनों लोगों को कोरोना के चलते ऑक्‍सीजन की कमी हो रही है। अगर आप रन‍िंग को अपने रूटीन में शाम‍िल कर लें तो डाइफाग्राम अच्‍छी तरह काम करेगा और आपको सांस लेने के ल‍िए जोर नहीं लगाना पड़ेगा। 

8. रोज एक क‍िलोमीटर दौड़ने से कोर और बैक मजबूत बनती है (Core and Back becomes strong)

रोज कम से कम एक क‍िलोमीटर दौड़ने से कोर और बैक मजबूत होता है। बहुत से लोग इन द‍िनों घर से काम कर रहे हैं ज‍िसके चलते उन्‍हें कमर में दर्द की श‍िकायत हो सकती है पर अगर आप रोजाना दौड़ने के ल‍िए थोड़ा सा समय न‍िकालेंगे तो आपका पॉश्‍चर भी अच्‍छा रहेगा और बैक और कोर मजबूत होगी। दौड़ने से पैल्‍व‍िक मसल्‍स भी मजबूत होती हैं। 

वजन कम करने के ल‍िए या फ‍िट रहने के ल‍िए अगर आपने दौड़ना शुरू क‍िया है तो इस बात का ध्‍यान रखें क‍ि कंस‍िसटेंट रहें, अगर कहीं दर्द या मोच है तो कुछ द‍िन के ल‍िए रन‍िंग रोक दें और डॉक्‍टर की सलाह पर दौड़ें। 

Read more on Exercise & Fitness in Hindi

Disclaimer