बिना जिम जाए अनुज सेठी ने 3 महीने में घटाया 30 किलो वजन, जानें क्या था उनका डेली रूटीन और कैसे हुआ ये संभव

Weight Loss Real Story:42 साल के अनुज सेठी का वजन पहले 106 किलो था। लेकिन अपनी कड़ी मेहनत और जुनून से उन्होंने 3 महीने में ही अपना वजन 76 किलो कर दिया

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Apr 13, 2021Updated at: May 23, 2022
बिना जिम जाए अनुज सेठी ने 3 महीने में घटाया 30 किलो वजन, जानें क्या था उनका डेली रूटीन और कैसे हुआ ये संभव

Weight Loss Journey: बच्चे, वयस्क और बुजुर्ग सभी को मोटापा या बढ़ा हुआ वजन परेशान करता है। मोटापा कई बीमारियों की जड़ होती है, अगर इसे समय रहते ठीक न किया जाए तो व्यक्ति कई बीमारियों की चपेट में आ जा सकता है। मोटापे के कारण चलने-फिरने, उठने-बैठने तक में समस्या होने लगती है। ऐसे में मोटापे के शिकार लोग अपना वजन कम करने की जद्दोजहद में लग जाते हैं। ऐसे ही दिल्ली के द्वारका में रहने वाले अनुज सेठी ने भी किया। वे अपने मोटापे से काफी परेशान थे। मोटापे की वजह से उन्हें गैस, एसिडिटी की समस्या होने लगी थी, जिसके लिए वे रोजाना ईनो का सेवन किया (Diseases Due to Obesity) करते थे। फिर एक दिन उन्हें लगा कि क्यों न जिस वजह से गैस की समस्या (Gas Problem in Hindi) हो रही है उसी वजह को खत्म कर दिया जाए यानी की वजन कम कर लिया जाए। फिर नवबंर 2019 में 42 साल के अनुज से अपना वजन कम करने का फैसला और इसके लिए कड़ी मेहनत करना शुरू कर दिया। इसी का परिणाम है कि उन्होंने 3 महीने के अंदर ही अपना 31 किलो वजन कम कर दिया। आज अनुज सेठी अपने परिवार, दोस्तों और कई लोगों के लिए प्रेरणास्त्रोत हैं। तो आइए जानते हैं उनकी वेट लॉस की सच्ची कहानी (Weight Loss Story in Hindi)।

anuj

क्यों लगा कि वजन कम करना चाहिए?

अनुज बताते हैं कि जब मेरा वजन 107 किलो था तो मुझे काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता था। मुझे उठने-बैठने और चलने-फिरने में भी परेशानी (Diseases that lead to obesity) होने लगी। मैं उदास सा रहने लगा था। दरअसल, मैं एक सीए हूं और दिनभर ऑफिस में बैठा रहता हूं। इसलिए शारीरिक रूप से ज्यादा मेहनत नहीं हो पाती थी। जिसकी वजह से मेरा वजन बढ़ता रहा और मैं मोटापे का शिकार हो गया। दिनभर बैठे रहने और मोटापे की वजह से मुझे गैस और एसिडिटी की समस्या (Gas and Acidity problem in Hindi) होने लगी। गैस, एसिडिटी से राहत पाने के लिए मैं ईनो का सेवन करता था, जो सेहत के लिए सही नहीं होता है। फिर एक दिन मैंने सोचा और मेरे दोस्तों ने भी सलाह दी कि मैं कब तक ऐसे ही ईनो खाकर इस समस्या को ठीक करूंगा। इससे अच्छा है कि मैं मोटापे को ही खत्म कर दूं, जिससे गैस की समस्या ही न हो। तभी मैंने सोचा कि अब गैस और मोटापे को खत्म करने के लिए अपनी फिटनेस पर ध्यान देना होगा। अपने वजन को कम करना होगा और फिट होना होगा।  

इसे भी पढ़ें - वजन कम करने के लिए रोज पिएं ये 4 वेट लॉस सूप, डायटीशियन से जानें इनकी रेसिपी और फायदे

कब शुरू किया वजन कम करना?

मैंने नवबंर 2019 में अपना वजन (Weight Loss in Hindi) कम करने का सोचा। इसके लिए मैं डायटीशियन डॉक्टर सुगीता मुटरेजा से मिला। उन्होंने मुझे मेरा डाइट प्लान बताया और साथ ही फिजिकली एक्टिव रहने के लिए भी कहा। इसके बाद मैंने डाइट प्लान को फॉलो किया और फरवरी 2020 तक मेरा वजन तकरीबन 30 किलो तक कम हो गया। इसके बाद लॉकडाउन में मेरा 2 किलो वजन बढ़ गया था लेकिन फिर मैंने रनिंग और डाइट प्लान को फॉलो करके वेट लॉस कर दिया।     

वेट लॉस करने के दौरान क्या था आपका डाइट प्लान (Weight Loss Diet Plan in Hindi)

  • मॉर्निंग ड्रिंक : जीरा और कड़ी पत्ते का पानी (इसे बनाने के लिए रात को एक चम्मच जीरा और 7-8 कड़ी पत्ते को पानी में भिगो देता था। सुबह इस पानी को उबाकर फिर ठंडा करके खाली पेट पीता था।)   
  • ब्रेकफास्ट : बेसन का चीला, पोहा, वैज सेंडविच, ओट्स, ढोकला
  • लंच : रोटी, सलाद, सब्जी और दाल (इसमें गेहूं के आटे की जगह मैं ओट्स, ज्वार और जौ के आटे की रोटी खाता था।)
  • स्नैक्स : रोस्टेड चने, फ्रूट्स
  • डिनर : ओट्स मिल्क, बेसन का चीला, अंडा

इसके साथ ही अनुज बताते हैं कि इस दौरान मैंने चाय और कॉफी का सेवन बिल्कुल नहीं किया था। मैंने ग्रीन टी पीना शुरू किया। ग्रीन टी में भी मैंने लेमन और जैसमीन ग्रीन टी पिया।

आप अपने दिन की शुरूआत कैसे करते थे?

अपने दिन की शुरुआत में जीरा और कड़ी पत्ते का पानी पी कर करता था। इसके साथ ही 40 से 45 मिनट पार्क में रनिंग करके बादाम और अखरोट खाकर करता था। 

क्या था वेट लॉस वर्कआउट रूटीन (Weight Loss Workout Routine)

मैं रात में 6:30 से 7 बजे के बीच डिनर कर लेता था। इसके बाद पार्क में 1 घंटे वॉक करता था, फिर बैडमिंटन खेलता था। मैं पूरे दिन भर में 3 से 4 घंटे का वर्कआउट करता था। कभी-कभी कार्डियो करता था। इसके बाद सो जाता था और पूरी नींद लेता था।

किन चीजों से बनाई थी दूरी (Food Avoid in Weight Loss)

वजन कम करने के दौरान अनुज सेठी ने इन चीजों से पूरी तरह से दूरी बनाई थी। यही वजह है कि उन्होंने तीन महीने के अंदर ही अपने वजन कम करने के लक्ष्य को प्राप्त कर लिया।

  • - चावल
  • - शुगर, चॉकलेट्स
  • - एल्कोहल
  • - मैदा और सूजी
  • - आम और अंगूर
  • - अचार 
anu 1

कौन हुआ है आपके वेट लॉस जर्नी से इंस्पायर 

अनुज सेठी बताते हैं कि मेरी वेट लॉस जर्नी से काफी लोग इंस्पायर हुए हैं। मेरी मम्मी ने भी मेरे शरीर में बदलाव देखकर अपना वजन कम करने का निर्णय लिया। इसके अलावा मेरे कई दोस्त और रिश्तेदार भी मुझे देखकर इंस्पायर हुए है।

इसे भी पढ़ें - वजन घटाने वाले अक्सर करते हैं ये 11 गलतियां जिनसे घटने के बजाय बढ़ने लगता है वजन, कहीं आप तो नहीं कर रहे?

जीवन में फिटनेस को लेकर आपका लक्ष्य क्या है? (Fitness Goals for Men)

मैं हमेशा खुद को फिट और हेल्दी देखना चाहता हूं। इसके लिए मैं अपनी डाइट पर ध्यान देता हूं। साथ ही फिजिकली एक्टिव रहने के लिए वॉक भी करता हूं। मेरा लक्ष्य है कि मैं खुद को  और अपने परिवार को हमेशा स्वस्थ रखूं।

अगर आप भी अनुज सेठी के वेट लॉस जर्नी से इंस्पायर हुए है तो इनकी तरह मेहनत करना शुरू कर दें। लेकिन जरूरी नहीं कि इन डाइट टिप्स और रनिंग से भी आपको इतनी ही जल्दी फायदा मिलेगा, जितनी जल्दी अनुज सेठी को मिला है। सबके शारीरिक क्षमता और जरूरत अलग-अलग होती है, इसलिए आप एक बार अपनी डायटीशियन से जरूर मिल लें। 

Read More Articles on Exercise and Fitness in Hindi

Disclaimer