जानें बच्चों में आयरन की कमी के संकेत और छोटे बच्चों के लिए आयरन की कमी पूरा करने वाले 8 फूड्स

बच्चों के शरीर में आयरन की कमी उनके विकास में बाधक होती है। आयरन की कमी पूरा करने के लिए उनकी डाइट में शामिल करें ये 8 फूड्स।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Feb 23, 2021Updated at: Feb 23, 2021
जानें बच्चों में आयरन की कमी के संकेत और छोटे बच्चों के लिए आयरन की कमी पूरा करने वाले 8 फूड्स

बच्चों को जन्म के बाद से ही उनके खानपान और पोषण को ध्यान में रखने को विशेष आवश्यकता होती है। बच्चों के समग्र विकास के लिए संतुलित पोषण की विशेष जरूरत होती है। संतुलित और पोषक आहार बच्चों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए जरुरी होते हैं, बच्चों के शरीर में जरुरी पोषक तत्वों की कमी से उनका विकास रुक जाता है। बच्चों के शरीर में आयरन की कमी को अनदेखा करना आपको भारी पड़ सकता है, बच्चों के खानपान में आयरन युक्त खाद्य पदार्थों का होता आवश्यक माना गया है। आयरन की कमी से बच्चों में एनीमिया जैसी बीमारियां जन्म ले सकती हैं। प्रायः यह देखा गया है कि अगर गर्भावस्था के दौरान बच्चों को माँ के शरीर से उचित मात्रा में आयरन का पोषण मिला है तो उन्हें जन्म से 4 महीने तक आयरन की कमी नही होती है। लेकिन किसी बीमारी या समय से पहले जन्म होने की स्थिति में बच्चों के शरीर में आयरन की कमी हो सकती है। ऐसे में ये हमारी जिम्मेदारी बनती है कि हम अपने बच्चों की डाइट में आयरन की अच्छी मात्रा वाले संतुलित खाद्य पदार्थों को शामिल करें।

symptoms of iron deficiency in children

बच्चों के शरीर में आयरन का महत्व (Importance of Iron in Kids)

आयरन शरीर के लिए एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है और यह बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए अत्यंत आवश्यक माना जाता है। आयरन शरीर में ब्लड के साथ ऑक्सीजन के संचारण, डीएनए सिंथेसिस समेत कई महत्वपूर्ण प्रक्रियाओं में अहम रोल अदा करता है। शरीर में खून का मुख्य कॉम्पोनेन्ट आयरन होता है ऐसे में इसकी कमी से बच्चों में रक्त विकार, एनीमिया जैसी बीमारियां जन्म ले सकती हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक छोटे बच्चे जैसे 1-3 साल के आयुवर्ग वालों को हर दिन कम से कम 7 मिलीग्राम आयरन की जरुरत होती है वहीं 4-8 साल के बच्चों को प्रतिदिन 10 मिलीग्राम आयरन यानि कि लोहे की आवश्यकता होती है। शरीर में हीमोग्लोबिन के स्तर को बनाए रखने के लिए भी आयरन की जरुरत होती है, शरीर में रेड ब्लड सेल को स्वस्थ रखने का कार्य करता है। लाल रक्त कोशिका या रेड ब्लड सेल की कमी या उनमें होने वाली दिक्कतों से एनीमिया जैसी स्थिति पैदा होती है। बच्चों के विकास के लिए उनके शरीर में आयरन का संतुलित स्तर होने बेहद आवश्यक है।

इसे भी पढ़ें: छोटे बच्चों के लिए कितना जरूरी है आयरन? एक्सपर्ट से जानें आयरन की कमी से होने वाली परेशानियां और जरूरी बातें

बच्चों के शरीर में आयरन की कमी के लक्षण (Symptoms of Iron Deficiency in Children)

बच्चों के शरीर में लोहे यानि आयरन की कमी से उनका विकास सही तरीके से नही हो पाता है। ऐसे में बच्चे सुस्त और कम सक्रिय हो जाते हैं और उनका विकास भी धीमी गति से होने लगता है। शरीर में आयरन की कमी बच्चों में चिड़चिड़ापन और थकान जैसी समस्याएं पैदा करता है। बच्चों में आयरन की कमी के प्रमुख लक्षण ये हैं -

  • भूख में कमी
  • सुस्ती और थकान
  • स्किन का पीला पड़ना
  • सांस फूलना
  • वजन का देरी से बढ़ना
  • चिड़चिड़ापन और व्यवहार संबंधी दिक्कतें
  • बच्चों का विकास देर से होना

बच्चों में आयरन की कमी के कारण (Causes of Iron Deficiency in Kids)

बच्चों में आयरन की कमी उनके शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी की वजह से होती है। असंतुलित और कम पोषक तत्वों वाले भोजन का सीधा असर शरीर पर पड़ता है। शरीर में आयरन दो प्रकार से शामिल होता है, पहला मीट और मांस मछलियों में पाया जाने वाला आयरन जो शरीर में आसानी से पहुंचता है और दूसरा जो अनाज, सब्जियों और फलों से मिलता है। गर्भावस्था के दौरान माँ के खानपान का असर पेट में पल रहे शिशुओं पर पड़ता है अगर गर्भावस्था के दौरान माँ के शरीर में आयरन की कमी होती है तो बच्चों को भी इसकी कमी जरुर हो जाती है। बच्चों के खानपान में आयरन युक्त पोषक तत्वों की कमी से शरीर में आयरन की कमी ख़तरा बना रहता है। कई बच्चों में बीमारियों की वजह से समुचित खानपान नहीं मिल पाटा है ऐसी स्थिति में भी आयरन की कमी हो जाती है। बच्चों के शरीर में आयरन की कमी के मुख्य कारण ये हैं -

  • गर्भावस्था के दौरान माँ के शरीर में आयरन की कमी
  • समय से पहले जन्म की वजह से
  • जन्म के समय वजन का कम होना
  • गाय के दूध का अधिक सेवन
  • सिर्फ शाकाहारी भोजन का सेवन

बच्चों के लिए आयरन की उचित मात्रा वाले फूड्स (Iron Rich Foods For Kids)

आमतौर पर नवजात शिशुओं को माँ के दूध से आयरन मिलता है लेकिन अगर किसी नवजात में आयरन की कमी पाई जाती है तो उन्हें उपचार की आवश्यकता पड़ती है। लेकिन बड़े बच्चे जो खाद्य पदार्थों का सेवन कर सकते हैं उनकी शरीर में आयरन की कमी हो तो उन्हें आयरन की पर्याप्त मात्रा वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। इन फूड्स को बच्चों की डाइट में शामिल करने से बच्चों को पर्याप्त आयरन का पोषण जरुर मिलेगा

1. गहरे हरे रंग के साग (Green Leafy Vegetables)

गहरे हरे रंग के पत्तेदार साग में आयरन की मात्रा अधिक होती है। बच्चों की डाइट में इन सागों को शामिल करने से उनके शरीर में आयरन की कमी नही होगी।

2. मांस और पोल्ट्री फूड्स (Meat and Poultry Foods)

मांस और पोल्ट्री फूड्स आयरन के बेहतरीन स्रोत माने जाते हैं। रेड मीट और लिवर में आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। अच्छी तरह साफ़ और पका हुआ मांस बच्चों की सेहत के लिए लाभदायक होता है और उनके शरीर में आयरन की कमी को भी पूरा करता है।

3. अंडा (Eggs)

अंडे की जर्दी आयरन का अच्चा स्रोत मानी जाती है। अंडे की जर्दी को बच्चों की डाइट में शामिल करने से उनके शरीर में आयरन की कमी नहीं होगी। अंडे की जर्दी का सेवन 1 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए लाभदायक नही होता, इसलिए बच्चों की डाइट में इसे शामिल करने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि आपका बच्चा 1 साल की आयु से बड़ा है।

iron rich foods for kids

4. सूखे फल (Dry Fruits)

सूखे फल जैसे कि खजूर, खुबानी और किशमिश में आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। बच्चों के नाश्ते में इन खाद्य पदार्थों को जरुर शामिल करना चाहिए। 1 साल से कम आयु वाले बच्चों को सूखे फल खिलाने से कुछ दिक्कतें हो सकती हैं, ऐसा करने से पहले अपने चिकित्सक से जरुर सलाह लें।

5. सफेद सेम (White Sem)

सफ़ेद सेम भी आयरन का अच्छा स्रोत है। यह आसानी पचने वाला भी होता है, आयरन की कमी दूर करने के लिए बच्चों की डाइट में इसे जरुर शामिल करें।

6. ब्रोकली (Broccoli)

ब्रोकली विटामिन सी, फाइबर और आयरन का बेहतरीन स्रोत हैं। ब्रोकली में प्राकृतिक रूप से आयरन होता है, आयरन की कमी के लिए यह एक अच्छा आहार है।

7. फलियां (Beans)

मटर, दाल और अन्य फलियों में आयरन की प्रचुर मात्रा पाई जाती है। इन्हें बच्चो की डाइट में जरुर शामिल करना चाहिए।

8. शकरकंद (Sweet Potatoes)

शकरकंद में विटामिन सी और आयरन की प्रचुर मात्रा होती है। खाने में इसका स्वाद भी अच्छा होता है, आयरन कमी को पूरा करने के लिए यह उत्तम खाद्य पदार्थ माना जाता है। आयरन की कमी दूर करने के लिए शकरकंद को बच्चों की डेली डाइट में शामिल कर सकते हैं।

इसके अलावा कुछ अन्य खाद्य पदार्थ भी हैं जिनमें आयरन की अच्छी मात्रा पाई जाती है जैसे कि बीफ, प्यूरी बीन्स, हरी बीन प्यूरी, दलिया, मूंगफली का मक्खन प्यूरी, स्ट्राबेरी प्यूरी आदि। इन खाद्य पदार्थों का सेवन भी आप आयरन की कमी को दूर करने के लिए कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: आयरन की कमी होने पर शरीर देता है ये 10 संकेत, सामान्य समझकर नजरअंदाज करना ठीक नहीं

क्या बच्चों को आयरन सप्लीमेंट देना चाहिए (Iron Supplements for Kids)

कई लोग बच्चों में आयरन की कमी को दूर करने के लिए आयरन सप्लीमेंट का सहारा लेते हैं। आयरन सप्लीमेंट लेने से पहले विशेषज्ञों की कुछ बातें जान लेना आवश्यक हैं, अगर आपका बच्चा को अभी भी स्तनपान कर रहा है उन्हें आयरन सप्लीमेंट की जरुरत नही पड़ती है। इसके अलावा 1 साल से अधिक आयु वाले बच्चों को पर्याप्त आयरन वाली खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए जिससे उनके शरीर में आयरन की उचित मात्रा बनी रहे। किसी भी प्रकार के सप्लीमेंट लेने से पहले विशेषज्ञों की सलाह लेनी आवश्यक है।

Read More Articles on Children's Health in Hindi

Disclaimer