कोरोना से बचना है तो मास्क पहनने में बरतें ये 6 सावधानियां, देखें वीडियो

कोरोना से बचाव के लिए मास्क पहनना जरूरी है। लेकिन मास्क पहनने पर आपको कुछ ऐसी गलतियों को करने से बचना चाहिए, जिनसे संक्रमित होने की संभावना बढ़ती है

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: May 19, 2021
कोरोना से बचना है तो मास्क पहनने में बरतें ये 6 सावधानियां, देखें वीडियो

कोरोना से बचाव के लिए शुरुआत से ही तीन चीजों पर काफी ध्यान दिया जा रहा है। इसमें मास्क पहनना, हाथों को बार-बार धोना और सामाजिक दूरी (Wearing Masks, Frequent Hand Washing and Social Distance) शामिल हैं। कोरोना संक्रमण से बचने के लिए आप हाथों को सैनेटाइज करते होंगे या फिर साबुन से हाथ धोते होंगे। ऐसे में संक्रमित होने का खतरा काफी कम हो जाता है। इसके साथ ही आप लोगों से भी दूरी बनाकर रखते होंगे, ताकि उनका संक्रमण आप तक न पहुंचे। इतना ही नहीं घर से बाहर निकलते ही आप कोरोना जैसे गंभीर वायरस से बचने के लिए मास्क भी जरूर पहनते हैं। इन दिनों डबल मास्किंग पर जोर दिया जा रहा है, लोग भी घर से बाहर डबल मास्क पहन कर ही निकल रहे हैं। लेकिन कई बार लोग मास्क पहनकर कुछ ऐसी गलतियां कर बैठते हैं, जिससे उनके संक्रमित होने का खतरा बढ़ जाता है। 

wear mask

फैमिली फिजिशियंस ऑफ इंडिया के डॉक्टर रमन कुमार कहते हैं कि कोरोना से बचाव के लिए हम सभी मास्क पहन रहे हैं। यहां तक ही डबल मास्क का भी इस्तेमाल कर रहे हैं, ताकि इसका वायरस हमारे शरीर में प्रवेश न करे सके। सभी लोग कोविड 19 के नियमों का पालना कर रहे हैं, लेकिन मास्क पहनने के दौरान वे कुछ ऐसी गलतियां कर बैठते हैं, जिससे उनके या दूसरों के संक्रमित होने की संभावना बढ़ जाती है। डॉक्टर रमन कहते हैं कि कई लोग बार-बार मास्क पर हाथ लगाते हैं, घर जाकर मास्क को बिना डिसइंफेक्ट किए निकालकर कमरे में रख देते हैं। ऐसी आदतें आपको संक्रमित कर सकती हैं। इतना ही नहीं कई लोग पब्लिक प्लेस में खांसते या छींकते वक्त अपना मास्क नीचे कर लेते हैं, जिससे दूसरे लोग संक्रमित हो सकते हैं। इस समय घर पर मास्क पहनना भी जरूरी हो गया है, इसलिए इसका पालन जरूर करें। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए आपको मास्क से संबंधित सावधानियों के बारे में जरूर पता होना चाहिए, जिससे आप खुद को और दूसरों को संक्रमित होने से बचा सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें - कोरोना के कारण फेफड़ों पर हुआ कितना असर? 6 मिनट के इस वॉक टेस्ट से लगाएं पता

1) घर पर भी मास्क पहनें (Wear Mask at Home)

कोरोना की पहली लहर में डॉक्टरों ने घर से बाहर निकलने पर मास्क पहनने की सलाह दी गई थी। लेकिन इसकी दूसरी लहर में घर पर भी मास्क पहनने की सलाह दी गई है। क्योंकि इस समय एक व्यक्ति के संक्रमित होने पर कई लोग तेज रफ्तार के साथ संक्रमित हो रहे हैं, जबकि पहले ऐसा नहीं था। पहली लहर में संक्रमण के फैलने की रफ्तार थोड़ी धीमी थी। इस समय कई ऐसे मामले भी सामने आए हैं, जिसमें पूरा-पूरा परिवार संक्रमित पाया गया है। ऐसे में अगर घर पर भी सभी लोग मास्क लगाकर रहते तो शायद ऐसा नहीं होता। घर पर मास्क पहनने से संक्रमण का एक से दूसरे तक पहुंचने का रिस्क बहुत कम हो जाता है। जो व्यक्ति जॉब से या किसी दूसरे कामों से रोज घर से बाहर निकल रहा है, उसे तो घर पर भी मास्क जरूर पहनना चाहिए। इससे अगर वह संक्रमित हो भी जाता है, तो यह पूरे परिवार तक नहीं फैलेगा।

2) मास्क को छूने से बचें (Do Not Touch the Front of Your Mask)

डॉक्टर रमन कुमार कहते हैं कि लोग कोरोना वायरस से अपना बचाव करने के मास्क जरूर पहन रहे हैं। कोरोना संक्रमित मरीजों में कई लोग ऐसे होते हैं, जो कहते हैं कि हम सभी नियमों का पालन कर रहे हैं। घर से बाहर निकलते समय मास्क भी अच्छी तरह से पहन रहे हैं, फिर भी हम कोरोना से संक्रमित हो गए। दरअसल, कई बार ऐसा इसलिए होता है क्योंकि लोग मास्क तो पहन रहे हैं, लेकिन उस पर बार-बार हाथ लगाते रहते हैं। उन्हें यह सामान्य लगता है, जबकि मास्क पर कोरोना का वायरस हो सकता है। इसलिए जब हम उसे छूते हैं, तो हो सकता है कि वायरस हमारे हाथ या उंगुलियों पर चिपक जाए जिससे हम ध्यान में नहीं रखते हैं और संक्रमित हो जाते हैं। डॉक्टर रमन कहते हैं कि अगर आप गलती से मास्क छू भी लेते हैं, तो तुरंत अपने हाथों को सैनेटाइज कर लें। 

sneez

3) मास्क पहनकर ही खांसे या छींके (Right Way to Sneeze in a Face Mask)

आप घर पर हो, ऑफिस में हो या फिर किसी सामाजिक स्थान पर आपको कभी भी मास्क को नीचे करके खांसना या छींकना नहीं चाहिए। अकसर कई लोगों को जब खांसी या छींक आती है, तो वे अपने मास्क को निकाल लेते हैं ताकि मास्क गंदा न हो। लेकिन ऐसे करने से आपका संक्रमण दूसरे लोगों को नुकसान पहुंचा सकता है। अगर खांसते या छींकते वक्त आप कोरोना संक्रमित होते हैं, लेकिन आपको पता नहीं होता है तो सोचिए आप कितने दूसरे लोगों को संक्रमित कर सकते हैं। इसलिए आपको ऐसी गलती करने से भी बचना चाहिए। मास्क से संबंधित ये सावधानी आप सभी को अपनानी चाहिए।

  • - अगर आपने मास्क पहन रखा है, तो उसे नीचे करके या उतारकर खांसने और छींकने से बचें।
  • - अगर आपने मास्क नहीं लगा रखा है, तो तुरंत मास्क लगाएं या मुंह पर हाथ लगाकर खांसे या छींके।
  • - बिना किसी सेफ्टी के खांसने पर आपका संक्रमण दूसरों तक फैल सकता है।

इसे भी पढ़ें - कोरोना संक्रमण के बाद 'साइटोकाइन स्टॉर्म' के कारण गंभीर हो जाते हैं मरीज, जानें क्या है ये और कैसे बचें

4) बिना डिसइंफेक्ट किए घर में न रखें मास्क (Disinfect and Wash Your Mask)

अकसर कई लोग बाहर से घर पर आते ही मास्क निकालकर कही पर भी रख देते हैं। इससे भी संक्रमण फैलने का खतरा काफी ज्यादा बढ़ जाता है, क्योंकि मास्क पर लगा वायरस घर के किसी वस्तु पर लग सकता है और लोग संक्रमित हो सकते हैं। ऐसे में अगर आप बाहर से घर आते हैं, तो सबसे पहले अपने हाथों को अच्छे से धोएं। इसके बाद मास्क को साबुन से अच्छे से साफ करें और धूप में सुखाएं। इतना ही नहीं आपको इसके बाद एक बार फिर से अच्छे से हाथ धोने की जरूरत होती है।

mask 

5) इस्तेमाल किया मास्क या टिश्यू ढक्कन बंद कूड़ेदान में डालें (Proper Disposal of Used Face Masks)

ज्यादातर लोग कपड़े के मास्क का इस्तेमाल करते हैं। वे इसे धोकर दोबारा यूज कर लेते हैं। लेकिन सर्जिकल मास्क और एन95 मास्क का दोबारा इस्तेमाल नहीं किया जाता है। ऐसे में अगर आप इन मास्क का इस्तेमाल करते हैं, तो आप एक या दो यूज के बाद इन्हें फेंक देते होंगे। इस दौरान आपको ध्यान रखना है कि आप यूज किए गए मास्क को ढक्कन बंद कूड़ेदान में ही डालें। इससे दूसरों तक संक्रमण फैलने से बच सकता है। अगर संभव हो तो आप मास्क को डिसइंफेक्ट करके भी फेंक सकते हैं। इससे जो व्यक्ति उस कूड़ेदान का कूड़ा साफ करेगा, उसे इंफेक्शन होने का जोखिम काफी हद तक कम हो जाएगा।

6) ऐसे यूज करें डबल मास्क (Use Double Face Mask)

कोरोना वायरस की दूसरी लहर से बचने के लिए डॉक्टरों ने डबल मास्क पहनने की सलाह दी है। डबल मास्किंग के लिए अगर आप अंदर से कपड़े का मास्क और बाहर से सर्जिकल मास्क पहन रहे हैं, तो एक यूज के बाद ही आपको सर्जिकल मास्क को ढककन बंद कूड़ेदान में फेंक देना चाहिए। कपड़े का मास्क आप धो कर दोबारा इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आप अदंर से सर्जिकल मास्क और बाहर से कपड़े का मास्क पहन रहे हैं, तो कपड़े के मास्क को धोकर आप दोबारा इस्तेमाल कर सकते हैं। इस स्थिति में आप सर्जिकल मास्क को 1-2 बार दोबारा यूज कर सकते हैं। आप चाहें तो एन95 मास्क का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें भी आपको डबल मास्किंग के फॉर्मूले को ही अपनाना होगा।

मास्क से संबंधित इन सावधानियों को अपनाकर आप कोरोना के इस गंभीर वायरस से अपना और अपने परिवार का बचाव कर सकते हैं। यह बहुत ही सामान्य सी गलतियां है, जो अकसर लोग करते ही हैं। ऐसे में इन गलतियों को सुधारें और कोरोना से अपना बचाव करें। स्वस्थ रहें और सुरक्षित रहें। अपने साथ ही परिवार, समाज और देश को भी सुरक्षित रखने की कोशिश करें।

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer