कलौंजी और शहद खाने से सेहत को मिलते हैं ये 5 फायदे, डायटीशियन से जानें खाने का सही तरीका

शहद और कलौंजी खाने से सेहत को कई फायदे होते हैं। यहां डायटीशियन से जानें इसके फायदे। 

 
Kunal Mishra
Written by: Kunal MishraPublished at: Jul 09, 2021Updated at: Jul 09, 2021
कलौंजी और शहद खाने से सेहत को मिलते हैं ये 5 फायदे, डायटीशियन से जानें खाने का सही तरीका

शहद अपने आप में किसी अमृत से कम नहीं है। शहद का सेवन कई तरीकों से और कई खाद्य पदार्थों के साथ किया जाता है। आपने शहद को गुण, दही आदि के साथ तो शायद खाया होगा, लेकिन क्या इसका सेवन  कभी कलौंजी के साथ किया है? अगर नहीं, तो इस लेख के माध्यम से हम आपको शहद के साथ कलौंजी खाने के कुछ फायदों के बारे में बताएंगे। शहद और कलौंजी एक साथ खाने से आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता में इजाफा होने के साथ ही डायबिटीज और हृदय रोग के खतरे से भी बचा जा सकता है। छोटे दाने वाली काली रंग की कलौंजी स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याओं का समाधान मानी जाती है। कलौंजी पुराने जख्मों को ठीक करने से लेकर आंख, कान आदि की समस्याओं में भी काम आती है। इसी विषय पर अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए हमने दिल्ली की एसेंट्रिक डाइट क्लीनिक की डायटीशियन शिवाली गुप्ता (Shivali Gupta, Dietician, Eccentric Diet Clinic) से बातचीत की। चलिए जानते हैं कलौंजी और शहद खाने के कुछ फायदों के बारे में। 

fatt

1. वेट लॉस (Weight Loss)

कलौंजी में पाए जाने वाला एंटीऑक्सीडेंट एंजाइम, निगेलॉन (Nigellone), वज़न नियंत्रण में रखता है। कलौंजी में भूख मिटाने या कम करने की भी क्षमता होती है। इसे खाने से फैट लूज़ होता है। साथ ही शहद खाने से शरीर में फैट बर्निंग हार्मोन रिलीज होते हैं। शोध में पाया गया है कि शहद भूख को कम करता है। शहद के सेवन से बेली फैट भी बर्न होता है। इसलिए इन दोनों को वेट लॉस के लिए पर्फेक्ट कॉम्बिनेशन माना जाता है। अगर आप भी अपने मोटे शरीर से परेशान हैं तो कलौंजी और शहद का सेवन आपके लिए एक बहुत अच्छा विकल्प होगा।

इसे भी पढ़ें - सेमी-वेजिटेरियन डाइट क्या है? डायटीशियन से जानें इसके 5 फायदे और इस डाइट में शामिल होने वाले फूड्स

2. हृदय रोगों से बचाए (Prevents Heart Diseases)

कलौंजी हृदय के लिए बेहद फायदेमंद होती है। यह आपके तमाम तरह के हृदय रोगों से बचाती है। कलौंजी के सेवन से ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल होता है। कलौंजी गुड कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ाती है और बैड कोलेस्ट्रॉल घटाती है। शहद खाने से भी आपका हृदय स्वस्थ रहता है। शहद खाने से शरीर में ब्लड फ्लो बेहतर होता है। वहीं शहद के फ्लेवोनॉयड्स और फेनोलिक एसिड्स हृदय के लिए फायदेमंद होते हैं और कोलेस्ट्रॉल को भी कम करता है। इसलिए कलौंजी और शहद के सेवन से हृदय स्वास्थ बेहतर रहता है।

3. दर्द से दिलाए राहत (Reliefs Pain)

डायटीशियन शिवाली गुप्ता ने बताया कि कलौंजी दर्द से राहत दिलाती है। अर्थराइटिस के इलाज में भी कलौंजी के सेवन की सलाह दी जाती है। यह जोड़ो के दर्द से राहत दिलाती है। इसमें मुख्य रूप से एंटी इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। कलौंजी की एंटी इन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज जोड़ो की सूजन कम करती है। यह नर्व पेन को भी कम करती है। साथ ही शहद एक हीलिंग फूड हैं। यह सूजनरोधी होता है। शहद के सेवन से भी शरीर में सूजन कम होती है और दर्द से राहत मिलती है। शहद एक पावरफुल एंटीऑक्सीडेंट होता है। कलौंजी के साथ शहद का सेवन आपके दर्द को कम करेगा। इसलिए दर्द से राहत पाने के लिए आप इन दोनों का सेवन एक साथ करें। 

4. इम्यूनिटी बूस्टर (Immunity Booster)

कलौंजी को सदियों से थकान मिटाने के लिए खाया जाता है। कलौंजी शरीर में एनर्जी लाती है। यह इम्यूनिटी बूस्टर की तरह काम करती है। कलौंजी में मौजूद विटामिन्स, मिनरल्स, कार्ब्स और प्रोटीन इम्यून सिस्टम की ताकत बढ़ाते हैं और बॉडी को डिटॉक्सिफाई भी करते हैं। कलौंजी के साथ शहद का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। शहद में प्राकृतिक रूप से आयरन कैल्शियम और मैग्नेशियम जैसे तत्व पाए जाते हैं। शहद आपको बैक्टीरिया और वायरस से बचाता है। साथ ही यह इम्यूनिटी बूस्ट भी करता है। इसी कारण वश शहद को सर्दी ज़ुकाम के दौरान इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। 

skin

5. हेल्दी स्किन (Healthy Diet) 

जितना हम स्किन का बाहरी रूप से ध्यान रखते हैं उतना ही अंदरूनी तौर पर भी रखना चाहिए। हेल्दी स्किन के लिए ज़रूरी है को आप अपनी स्किन को प्रॉपर न्यूट्रीशन दे रहे हैं। स्किन के लिए कलौंजी और शहद का सेवन बहुत हेल्दी होता है। शहद त्वचा को एंटीऑक्सिडेंट्स देता है। साथ ही यह त्वचा से एक्स्ट्रा ऑयल निकलकर त्वचा को मॉइश्चराइज करता है। कलौंजी स्किन को एक्ने से बचती है और साथ ही दाग धब्बे से छुटकारा दिलाता है। इरीटेशन और रैशेज के लिए त्वचा पर कलौंजी का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद होता है। 

इसे भी पढ़ें - मानसून में जरूर खाएं पोई साग, एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे और कुछ सावधानियां

कलौंजी और शहद को खाने का सही तरीका (Right way to Eat Black Seed and Honey)

  • कलौंजी और शहद साथ में खाने के लिए आप कलौंजी को हथेली में लेकर क्रश करें और शहद के साथ निगल जाएं।
  • कलौंजी के बीज को क्रश करें और उसका पाउडर तैयार करें। अब एक ग्लास गुनगुना पानी लें और इसमें एक चम्मच शहद के साथ एक चम्मच तैयार किया हुआ कलौंजी का पाउडर मिलाएं। अच्छे से मिक्स करें और इसे पी लें।
  • कलौंजी को पानी में उबालकर इसकी चाय भी पी जा सकती है। कलौंजी की चाय में शहद मिलाकर पीने से सर्दी-खांसी से भी आराम मिलता है।
  • कलौंजी और शहद दोनों को एक साथ मिलाकर ओट्स, दही, स्मूदी आदि में भी मिलकर खाया जा सकता है। 
  • कलौंजी का तेल भी बनाकर पिया जा सकता है। इसे सीधा पिया भी जाता है, लेकिन इससे पहले अपनी डायटीशियन से इसकी मात्रा के बारे में जान लें। साथ ही इसे त्वचा और बालों पर लगाया भी जाता है। 

यह लेख डायटीशियन द्वारा प्रमाणित है। कलौंजी और शहद का सेवन करने से शरीर को कई फायदे मिलते हैं। इस लेख में दिए गए तरीकों से आप इनका सेवन कर सकते हैं। 

Read more Articles on Health Diet in Hindi

Disclaimer