स्ट्रेस (तनाव) कम करने के 6 आसान तरीके, जानें डायटीशियन स्वाती बाथवाल से

कोरोना महामारी के बीच लोगों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, जिसके कारण स्ट्रेस बढ़ना सामान्य है। कैसे करें स्ट्रेस को कंट्रोल?

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jul 08, 2021Updated at: Jul 08, 2021
स्ट्रेस (तनाव) कम करने के 6 आसान तरीके, जानें डायटीशियन स्वाती बाथवाल से

कोरोना महामारी से लड़ना हम सभी के लिए किसी युद्ध से कम नहीं है। कोरोनावायरस के साथ-साथ हमें कई परेशानियों का अलग-अलग तरीकों से सामना करना पड़ रहा है। जैसे- घर के अंदर रहना, नौकरी जाना, सैलरी कम आना, अपने फ्रैंड्स से मिलने में असमर्थता इत्यादि परेशानियों का सामना लोगों को करना पड़ रहा है। इसकी वजह से कई लोगों में स्ट्रेस लेवल बढ़ रहा है, जिसकी वजह से लोगों को स्वास्थ्य से जुड़ी कई परेशानियां भी हो रही हैं।  इस बारे में डायटीशियन स्वाती बाथवाल बताती हैं कि थोड़ा-बहुत स्ट्रेस फील करना स्वास्थ्य के लिए हेल्दी माना जाता है, लेकिन अगर आप लंबे समय तक स्ट्रेस में रहते हैं, तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं होता है। अगर आप कुछ समय से स्ट्रेस फील कर रहे हैं, तो इस तनाव को कम करने के लिए आप कुछ सिंपल टिप्स फॉलो करने की जरूरत है। आज हम आपको इस लेख में कुछ ऐसे ही सिंपल टिप्स बताने जा रहे हैं, जिससे आप अपने स्ट्रेस लेवल को कम या कंट्रोल कर सकते हैं। 

1. हैप्पी हार्मोंस को करें बूस्ट

डायटीशियन स्वाती बाथवाल बताती हैं कि हम अपने हैप्पी हार्मोंस को बूस्ट करके अपने मूड को अच्छा कर सकते हैं। मूड को बेहतर करने के लिए हमें सेरोटोनिन (serotonin) और ट्रिफ्टोफैन (tryptophan) से युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। रिसर्च में खुलासा हुआ है कि हमारे ब्लड ब्रेन में बिना हेल्दी कार्बोहाइड्रेट के सेरोटोनिक नहीं गुजर सकता है। जबकि ट्रिफ्टोफैन, सेरोटोनिक हार्मोन के उत्पादन के लिए बेहद जरूरी है। इसलिए मस्तिष्क में सेरोटोनिन को संचारित करने के लिए काब्रोहाइड्रेट युक्त आहार का सेवन करना बहुत ही जरूरी है। इसलिए आप अपने आहार में कद्दू के बीज, केला, सूरजमुखी के बीज, ब्राउन राइस, डार्क चॉकलेट, पालक, बाजरा जैसे खाद्य पदार्थों को शामिल कर सकते हैं, इससे हमारा मूड बेहतर होता है। डायटीशियन बताती हैं कि दूध, कद्दू के बीज, चॉकलेट पाउडर और केले से तैयार मिल्कशेक आपके मूड को अच्छा कर सकते हैं। इसके अलावा आप इस शेक में 1 चम्मच अश्वगंधा का पाउडर भी मिक्स कर सकते हैं। यह आपके मूड को बेहतर कर स्ट्रेस को कम करता है।

इसे भी पढ़ें - अंगूर का जूस पीना है सेहत के लिए बहुत फायदेमंद, जानें इसके 6 स्वास्थ्य लाभ

2. ब्लैक कॉफी

रिसर्च के मुताबिक, ब्लैक कॉफी पीने से हमारा मूड अच्छा होता है, लेकिन ध्यान रखें कि ज्यादा ब्लैक कॉफी पीने से आप डिप्रेशन के शिकार हो सकते हैं। साथ ही ज्यादा ब्लैक कॉफी पीने की वजह से आपको डिहाइड्रेशन की शिकायत हो सकती है। इसलिए डायटीशियन स्वाती बाथवाल कहती हैं कि एक व्यक्ति को पूरे दिन में 4 कप से ज्यादा ब्लैक कॉफी का सेवन नहीं करना चाहिए। वहीं, हर एक कप ब्लैक कॉफी पीने से पहले 2 गिलास पानी पिएं। इस नियम को फॉलो करने से आपके शरीर में डिहाइड्रेशन की शिकायत नहीं होगी।

3. फल और सब्जियों का करें सेवन

डायटीशियन स्वाती बाथवाल का कहना है कि अगर आप स्ट्रेस फ्री लाइफ जीना चाहते हैं, तो अपने आहार में अधिक से अधिक फल और सब्जियों को शामिल करें। फल और सब्जियों के सेवन से आपके दिमाग की नई कोशिकाओं का विकास सही तरीके से हो सकेगा। फल और सब्जियों के सेवन से बीडीएनएफ (Brain derived neurotrophic factor) नामक यौगिक को बढ़ावा मिलता है। यह एक ऐसा यौगिक है, जो हमारे शरीर में हैप्पी हार्मोंस को रिलीज करता है। मूड को अच्छा करने के लिए अपने डाइट में सेब, प्याज, जामुन, हरी पत्तेदार सब्जियां, चिया सीड्स, टमाटर, अखरोट जैसे खाद्य पदार्थों को शामिल करें। 

इसे भी पढ़ें - ज्यादा या गलत तरीके से चीकू खाने के हो सकते हैं ये 5 नुकसान, जानें इनके बारे में

4. ग्रीन टी 

स्वाती बाथवाल कहती हैं कि अगर आप अपने मूड को अच्छा करना चाहते हैं, तो अपने डेली रुटीन में मसाला चाय के बजाय ग्रीन टी को शामिल करें। डायटीशियन का कहना है कि ग्रीन टी और ब्लैक टी में कैटेचिन (catechins) नामक यौगिक होता है, जो हमारे मूड को बेहतर करने में हमारी मदद करता है। इसके अलावा ग्रीन टी के सेवन से स्वास्थ्य को कई लाभ होते हैं। जैसे- वजन कम होना, कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल होना। इन समस्याओं के कम होने से डिप्रेशन या उदासी भी कम महसूस होती है। इसलिए अपने डेली रुटीन में 1 कप ग्रीन टी को जरूर शामिल करें।

5. कुछ महत्वपूर्ण जड़-बूटियां

डायटीशियन स्वाती बाथवाल का कहना है कि हमारे किचन में कई महत्वपूर्ण जड़ी-बूटियां उपलब्ध होती हैं, जो हमारे मूड को बेहतर करने में हमारी मदद कर सकती हैं। किचन में मौजूद भारतीय मसाले जैसे- लौंग, दालचीनी, जायफल इन जड़ी-बूटियों की लिस्ट में सबसे ऊपर आते हैं। अगर आप सोने से पहले 1 गिलास दूध में 1 चुटकी जायफल पाउडर मिक्स करके पीते हैं, तो आपके दिमाग को शांति मिलती है। जिससे तनाव कम होता है और आप गहरी नींद में सोते हैं। इसके अलावा अन्य मसाले जैसे लौंग, दालचीनी, केसर का इस्तेमाल आप अपने खाने की चीजों में कर सकते हैं। इससे निश्चित रूप से स्ट्रेस लेवल कम होता है।

इसे भी पढ़ें - ये चीजें एक-साथ खाने से शरीर को मिलेगा ज्यादा फायदा, डायटीशियन से जानें पोषक तत्वों की शक्ति बढ़ाने के तरीके

6. स्ट्रेस कम करने के लिए आसान सा नुस्खा

इसके अलावा स्वाती बाथवाल स्ट्रेस को कम करने के लिए कैस्टर ऑयल इस्तेमाल करने की सलाह देती हैं। स्ट्रेस को कम करने के लिए सोने से पहले अपने पैरों के तलवे पर कैस्टर ऑयल की 1 से 2 बूंदे डालें। इसके बाद हल्के हाथों से पैरों की समाज करें। इससे आपके शरीर को शांति महसूस होगी। इसके अलावा नस्य क्रिया भी आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। नस्य क्रिया में आपको सोने से पहले अपने नाक में शुद्ध देसी घी की 4 से 5 बूंदें डालनी होती है। इससे आपका स्ट्रेस लेवल कम होगा।  

डायटीशियन स्वाती बाथवाल बताती हैं कि अगर आपको कोई भी बात या चीज परेशान कर रही हैं, तो थोड़े समय के लिए अपने काम से ब्रेक लें। खुद को शांत रखने के लिए एक्सरसाइज करें, गहरी नींद लें, किताबें पढ़ें, अपने केयर करें, योगिक ब्रीथिंग करें, ध्यान करें, बगीचे में टहले इत्यादि तरीकों से आप स्ट्रेस को कम या फिर कंट्रोल कर सकते हैं। इसके अलावा अपनी लाइफ को इंजॉय करें और अपने लिए समय जरूर निकालें। इससे आप काफी स्ट्रेस फ्री फील कर सकते हैं। 

Image Credit : freepik image

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi

 

Disclaimer