ज्यादा या गलत तरीके से चीकू खाने के हो सकते हैं ये 5 नुकसान, जानें इनके बारे में

चीकू स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा होता है। लेकिन अगर आप जरूरत से ज्यादा चीकू का सेवन करते हैं, तो इससे आपके सेहत को नुकसान हो सकता है।

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jul 05, 2021Updated at: Jul 05, 2021
ज्यादा या गलत तरीके से चीकू खाने के हो सकते हैं ये 5 नुकसान, जानें इनके बारे में

चीकू एक ऐसा फल है, जो स्वाद में काफी मीठा होता है। यह कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसलिए यह स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके सेवन से आप कई तरह की बीमारियों से बच सकते हैं। इसमें कई तरह के विटामिंस और मिनरल्स होते हैं, इसलिए अधिकतर डायटीशियन चीकू खाने की सलाह देते हैं। लेकिन जरूरत से ज्यादा किसी भी चीज का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं माना जाता है। ठीक इसी तरह चीकू का जरूरत से ज्यादा सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद नहीं होता है। आज हम आपको इस लेख में चीकू का ज्यादा सेवन करने से सेहत को होने वाले कुछ नुकसान (Side Effects of Sapota) के बारे में बताने जा रहे हैं, ताकि आप इसका सेवन सावधानी पूर्वक करें। 

चीकू खाने के नुकसान (Side Effects of Sapota)

मुंह का अल्सर

अगर आप जरूरत से ज्यादा चीकू खाते हैं, तो इससे आपके मुंह का स्वाद कड़वा हो सकता है। मुंह का स्वाद चीकू में मौजूद लेटेक्स और टैनिन की अधिकता के कारण होता है। इसकी वजह से आपके मुंह में अल्सर हो सकता है। इसलिए अधिक मात्रा में चीकू खाने से बचें। साथ ही अधपका या फिर कच्चा चीकू न खाएं। इससे आपकी समस्या बढ़ सकती है। 

इसे भी पढ़ें - सलाद खाते समय न करें ये 7 गलतियां, कम हो जाते हैं सलाद के पोषक तत्व और सेहत को होता है नुकसान

गले में हो सकती है खुजली

अगर आप जरूरत से ज्यादा चीकू का सेवन करते हैं, तो इसमें मौजूद लेटेक्स और टैनिन की अधिकता के कारण आपको गले में खुजली की भी शिकायत हो सकती है। साथ ही गले में दर्द और खराश जैसी परेशानी का भी सामना करना पड़ सकता है। इसलिए ज्यादा चीकू न खाएं। आप पूरे दिन में 2 से 3 चीकू खा सकते हैं। इससे अधिक मात्रा में चीकू खाने से बचें।

पेट में हो सकता है दर्द

अगर आप चीकू के बीजों (Sapota Seeds) का सेवन करते हैं, तो इससे आपके पेट में दर्द, मरोड़, बदहजमी, कब्ज जैसी समस्या हो सकती है। क्योंकि चीकू के बीज में सैपोटिन और सैपोटिनिन केमिकल मौजूद होता है। जिसके कारण आपको पेट से जुड़ी कई परेशानियां हो सकती हैं।

डायरिया और स्किन में खुजली

चीकू ही नहीं, इसके पत्ते भी स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकते हैं। चीकू के पत्तों (Sapota Leaves) की वजह से आपको डायरिया और स्किन में खुजली की शिकायत हो सकती है। दरअसल, चीकू और इसकी पत्तियों में सैपोनिन होता है, जिनका अधिक मात्रा में इस्तेमाल करने से डायरिया और स्किन में जलन की शिकायत हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें - ये चीजें एक-साथ खाने से शरीर को मिलेगा ज्यादा फायदा, डायटीशियन से जानें पोषक तत्वों की शक्ति बढ़ाने के तरीके

ब्लड शुगर बढ़ने की संभावना

अगर आप चीकू का जरूरत से ज्यादा सेवन करते हैं, तो इससे आपके शरीर का ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है। इसलिए डायबिटीज रोगियों को चीकू कम खाने की सलाह दी जाती है। अगर आप डायबिटीज मरीज हैं, तो अपने डाइट में सीमित मात्रा में चीकू को शामिल करें।

कैसे चीकू खाने से शरीर को होते हैं नुकसान? (How to Eat Sapota)

सही ढंग से पका हुआ चीकू स्वास्थ्य के लिए ज्यादा नुकसानदेय नहीं होते हैं। लेकिन अगर आप अधपका या फिर कच्चा चीकू खाते हैं, तो इससे सेहत को कुछ गंभीर नुकसान भी हो सकते हैं। इसके अलावा पूरे दिन में 2 से 3 चीकू का सेवन करें। इससे अधिक मात्रा में चीकू का सेवन स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं होता है। साथ ही इसका बीज भी स्वास्थ्य के लिए ज्यादा अच्छा नहीं माना जाता है। इसलिए बच्चों को चीकू के बीज से दूर रखें।

चीकू स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद है। इसके सेवन से सर्दी-जुकाम, शारीरिक कमजोरी, फोड़े-फुंसी जैसी परेशानियों को कम किया जा सकता है। लेकिन ध्यान रखें कि जरूरत से ज्यादा चीकू का सेवन न करें। यह आपके स्वास्थ्य के लिए नुकसानदेय हो सकता है। इसके अलावा अगर आपको डायबिटीज है, तो चिकित्सक की सलाहनुसार ही चीकू का सेवन करें।

Image Credit : freepik image

Read More Articles on Healthy Diet in Hindi

 

Disclaimer