Green Tea vs Black Coffee: ग्रीन टी और ब्‍लैक कॉफी में कौन है ज्‍यादा सेहतमंद, जानिए फायदे

Green Tea vs Black Coffee: ग्रीन टी और ब्‍लैक कॉफी के अपने-अपने स्‍वास्‍थ्‍य लाभ हैं, मगर वजन कम करने के लिए कौन ज्‍यादा बेहतर है, जानिए। 

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Sep 16, 2020Updated at: Sep 16, 2020
Green Tea vs Black Coffee: ग्रीन टी और ब्‍लैक कॉफी में कौन है ज्‍यादा सेहतमंद, जानिए फायदे

वजन कम करने की कोशिश कर रहे लोगों के लिए ग्रीन टी और ब्लैक कॉफ़ी दो बेहतरीन पेय हैं। दोनों पेय चाय और कॉफी के लिए स्वस्थ विकल्प हैं। इनमें कम कैलोरी और अधिक स्वस्थ पोषक तत्व होते हैं। कई अध्ययनों से पता चलता है कि ये पेय आपके मेटाबॉलिज्‍म को बढ़ावा देते हैं और फैट बर्न की प्रक्रिया को गति देते हैं। इसके अलावा, इन गर्म पेय में अन्य गुण होते हैं जो अच्छे स्वास्थ्य को बढ़ावा देते हैं। यहां इस लेख में, हम यह पता लगाने की कोशिश करेंगे कि कौन सा पेय वजन प्रबंधन के लिए अधिक प्रभावी है? 

वजन घटाने के लिए ग्रीन टी

ग्रीन टी में कैफीन और एक प्रकार का फ्लेवोनोइड होता है जिसे कैटेचिन कहा जाता है। कैटेचिन वास्तव में एक एंटीऑक्सिडेंट का एक प्रकार है। अध्ययनों से पता चलता है कि ये यौगिक चयापचय को गति देने में मदद कर सकते हैं, जबकि कैटेचिन शरीर में अतिरिक्त वसा को प्रभावी ढंग से तोड़ने के लिए जाना जाता है।

green-tea

2010 में किए गए एक छोटे से अध्ययन से पता चला है कि ग्रीन टी की खुराक वास्तव में उन लोगों पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकती है, खासकर जो अतिरिक्‍त वजन कम करने और अपने वजन का प्रबंधन करने की कोशिश कर रहे हैं।

ग्रीन टी को सेवन के लिए सुरक्षित माना जाता है लेकिन रोजाना 2 से 3 कप से अधिक नहीं होनी चाहिए। यह सच है कि ग्रीन टी सुरक्षित और स्वस्थ है, लेकिन इसमें कैफीन की कुछ मात्रा होती है। तो, एक दिन में कैफीन का अधिक सेवन नींद की समस्या पैदा कर सकता है और हृदय की समस्याओं से पीड़ित लोगों के लिए हानिकारक हो सकता है।

ग्रीन टी के अन्य लाभ

ग्रीन टी न केवल वजन कम करने की कोशिश कर रहे लोगों के लिए अच्छी है, बल्कि यह खुद को स्वस्थ रखने में भी मददगार है। चाय में विटामिन बी, फोलेट, मैग्नीशियम और फ्लेवोनोइड शामिल हैं, जो कोलेस्ट्रॉल को कम करने, दिल के कामकाज में सुधार, अल्जाइमर रोग के जोखिम को कम करने और टाइप 2 डायबिटीज के प्रबंधन सहित कई स्वास्थ्य लाभों से जुड़े हैं।

वजन घटाने के लिए ब्लैक कॉफी

कॉफी एक अन्य लोकप्रिय पेय है जिसे ज्यादातर लोग पसंद करते हैं। खासकर जब लोग अपना वजन कम करने की कोशिश कर रहे होते हैं। ग्रीन टी की ही तरह, कॉफ़ी में भी कुछ आश्चर्यजनक स्वास्थ्य ला होते हैं जैसे कि सतर्कता बढ़ाना और टाइप 2 डायबिटीज़ के खतरे को कम करना।

ब्लैक कॉफी पारंपरिक कॉफी का एक स्वस्थ संस्करण है क्योंकि यह क्रीम और शुगर से मुक्‍त है। यह आमतौर वजन कम करने का प्रयास करने वालों की पसंद होती है। बस इसे ज़्यादा सेवन करने से कुछ नकारात्मक स्वास्थ्य प्रभाव हो सकते हैं।

ब्लैक कॉफी में कैफीन होता है जो चयापचय गतिविधि को बढ़ा सकता है और शरीर में ऊर्जा के स्तर को बढ़ा सकता है। उच्च चयापचय गतिविधि भूख को दबा सकती है और आपके अस्वास्थ्यकर खाद्य पदार्थों के सेवन पर रोक लगा सकती है। कई अध्ययनों से संकेत मिलता है कि कॉफी आपके चयापचय दर को 3 से 11 फीसदी तक बढ़ा सकती है।

इसे भी पढ़ें: जानें ऐसे 5 खराब कार्ब्स के बारे में, जो वास्तव में सेहत के लिए हैं बेहद उपयोगी

ब्लैक कॉफ़ी के अन्य फायदे

ब्लैक कॉफी पोषक तत्वों और एंटीऑक्सीडेंट से भरी हुई है। इसमें विटामिन बी 2, बी 3, बी 5, मैंगनीज, पोटेशियम और मैग्नीशियम शामिल हैं। ब्लैक कॉफ़ी के नियमित सेवन से याददाश्त बढ़ाने और कसरत के दौरान प्रदर्शन को बेहतर बनाने में मदद मिल सकती है। लेकिन एक दिन में 2 कप से अधिक ब्लैक कॉफी स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: कौन सा विटामिन आपके शरीर में क्या फंक्शन करता है? क्या विटामिन्स और मिनरल्स आपको नुकसान भी पहुंचा सकते हैं?

कौन है ज्‍यादा बेहतर

सबूत के तौर पर कई तथ्‍य हैं जो साबित करते हैं कि वजन कम करने की कोशिश करते समय दोनों पेय प्रभावी हो सकते हैं। इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ता। लेकिन जब समग्र स्वास्थ्य की बात आती है तो ब्लैक कॉफी की तुलना में ग्रीन टी अधिक फायदेमंद होती है। यह एंटीऑक्सिडेंट में समृद्ध है और इसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं। 

बस इनका अत्‍यधिक सेवन नहीं किया जाना चाहिए। यहां तक कि स्वस्थ चीजों को भी कम मात्रा में सेवन करना चाहिए। इसके अलावा, वजन कम करने के लिए एक स्वस्थ आहार खाने और नियमित व्यायाम जरूरी है। आप केवल ग्रीन टी या ब्लैक कॉफ़ी पीकर अपना वजन कम नहीं कर सकते। आपको अपनी जीवनशैली में भी आवश्यक बदलाव करने होंगे।

Read More Articles On Healthy Diet In Hindi

Disclaimer