शरीर में क्रिएटिनिन लेवल बढ़ने के क्या कारण होते हैं? डॉक्टर से जानें इसके लक्षण और बचाव के घरेलू उपाय

क्रिएटिनिन शरीर में जमा होने वाली गंदगी है। इसका लेवल बढ़ने पर शरीर कुछ संकेत देता है, जिन्हें पहचानकर इसे जल्द से जल्द ठीक करना बहुत जरूरी होता है।

Monika Agarwal
अन्य़ बीमारियांWritten by: Monika AgarwalPublished at: Oct 10, 2021
शरीर में क्रिएटिनिन लेवल बढ़ने के क्या कारण होते हैं? डॉक्टर से जानें इसके लक्षण और बचाव के घरेलू उपाय

हमारे शरीर में जो खाना पच नहीं पाता है या जो अपशिष्ट (Waist) होता है। वह हमारा शरीर बाहर निकाल देता है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि अगर शरीर का अपशिष्ट (Waist) पदार्थ बाहर निकालने की क्षमता ढीली पड़ जाए तो क्या होगा? इस स्थिति में आपके क्रिएटिनिन लेवल (Creatinine Level) बढ़ जाते हैं। जो कि एक गंभीर स्थिति बन सकती है। फोर्टिस हॉस्पिटल में लिवर ट्रांसप्लांट और जी आई सर्जरी विभाग के डायरेक्टर व चेयरमैन डॉक्टर विवेक विज के अनुसार, पहले तो आपका यह जानना जरूरी है कि क्रिएटिनिन होता क्या है? दरअसल यह एक प्रकार का अपशिष्ट होता है जो कि आमतौर पर मांसपेशियों की टूट-फूट से शरीर में बनता है। इससे ऊर्जा का उत्पादन होता है। जिससे आपकी कसरत करने की क्षमता बेहतर होती है। आपके शरीर का लगभग 2% क्रिएटिनिन आपकी किडनियों तक ट्रांसफर होता है और आपकी किडनी इसे बाहर निकाल देती हैं। अगर आपका यूरिनेशन कम हो रहा है तो हो सकता है हाई क्रिएटिनिन लेवल जमा हो गए हों।हालांकि क्रिएटिनिन लेवल (Creatinine Level) आपकी आयु और लिंग और आपके शरीर के साइज पर निर्भर करता है।

हाई क्रिएटिनिन लेवल होने के कारण (Causes For High Creatinine Level)

डायबिटीज

अगर आप एक डायबिटीज के मरीज हैं तो अक्सर संभावना रहती है कि आपके क्रिएटिनिन लेवल अधिक हो सकते हैं।

हाई ब्लड प्रेशर

हाई ब्लड प्रेशर के मरीज भी इस बीमारी से जूझ सकते हैं।

यूटीआई

अगर आपको यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन है तो इस प्रकार के इंफेक्शन से क्रिएटिनिन लेवल में एक उछाल आ सकता है।

इसे भी पढ़ें : शरीर में बढ़े हुए क्रिएटिनिन लेवल को कम करने के आसान घरेलू उपाय

 High-Creatinine-Level

हाई क्रिएटिनिन लेवल के कुछ लक्षण (Symptoms Of High Creatinine Level)

  • सूजन आना
  • सांस फूलना
  • बार बार अधिक प्यास लगना
  • थकान
  • उल्टियां आना और जी घबराना
  • दुविधा में फंसे रहना

क्रिएटिनिन को कम करने के नैचुरल तरीके (Ways To Lower High Creatinine Level)

1. एप्पल साइडर विनेगर

एप्पल साइडर विनेगर में एसिटिक एसिड होता है। जो किडनी में पथरी होने का रिस्क बहुत कम करता है। इसकी एंटी माइक्रोबियल प्रॉपर्टी हर प्रकार के इंफेक्शन को दूर रखने में मदद करती है और आपके खून में क्रिएटिनिन लेवल (Creatinine Level) आपकी आयु और लिंग, आपकी जाति और आपके शरीर के साइज पर निर्भर करता है। बढ़ने से भी रोकती है। आपको इसका सेवन करने के लिए एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच एप्पल साइडर विनेगर को मिक्स कर, उसे पीना है।

2. करेला

करेला बहुत से एंटी ऑक्सिडेंट, मिनरल, विटामिन, फाइबर आदि का स्रोत होता है। यह एक प्राकृतिक डायरेटिक का काम कर सकता है, क्योंकि यह आपके ब्लड सर्कुलेशन की बेहतर रूप से होने में मदद करता है। यह आपकी किडनी स्वस्थ रखने में भी मदद करता है। यही नहीं यह आपके शरीर को टॉक्सिंस से दूर रखने में भी सहायक है। यह प्राकृतिक रूप से शरीर के क्रिएटिनिन लेवल को कम करने में बहुत मददगार है।

 High-Creatinine-Level

इसे भी पढ़ें : पाचन क्रिया को कमजोर करता है शरीर में क्रिएटिनिन का असंतुलन, जानें कैसे ठीक रखें क्रिएटिनिन का लेवल

3. दालचीनी

इसे भी एक प्राकृतिक डायरेटिक्स ही माना गया है। यह आपकी किडनी के फिल्टर करने वाले फंक्शन को और अधिक मजबूत बनाती है। साथ ही आपके शरीर के क्रिएटिनिन लेवल को नियंत्रित रखने में भी सहायक है। आधी से भी कम चम्मच दालचीनी का पाउडर लें और उसे गर्म पानी के गिलास में मिक्स करके रोजाना सुबह सुबह पी लें।

4. ग्रीन टी

यह एक प्राकृतिक एंटी ऑक्सिडेंट होता है। जिसमें डायरेटिक गुण भी होते हैं। यह आपकी किडनियों की फिल्टरेशन क्षमता को बढ़ाती है और अगर आपके शरीर में क्रिएटिनिन के लेवल अधिक भी है तो भी यूरिन की मात्रा को अधिक बढ़ाने में मदद करती है। रोजाना सुबह सुबह एक गिलास ग्रीन टी तो अवश्य ही पिएं।

इसे भी पढ़ें : डेंगू के मरीजाें में प्लेटलेट्स कम होने का कारण बनती है विटामिन बी12 की कमी, जानें इस विटामिन के स्त्राेत

अगर आपके शरीर में भी क्रिएटिनिन लेवल (Creatinine Level) आपकी आयु और लिंग, आपकी जाति और आपके शरीर के साइज पर निर्भर करता है। अधिक मात्रा में हैं तो इनसे बचने के लिए आपको कुछ खाद्य पदार्थों से दूरी बनानी चाहिए। जैसे पालक, डेयरी पदार्थ आदि। आप क्रिएटिनिन लेवल को बढ़ा देने वाले सप्लीमेंट लेने से भी बचें।

(Image source - LifeExtension)

( Image source - Harvard Health)

Disclaimer