पेशाब के बाद कैसे करें वजाइना की सफाई और ये क्यों जरूरी है? डॉक्टर से जानें टॉयलेट हाइजीन की जरूरी बातें

पेशाब के बाद वजाइना की सफाई करना बहुत जरूरी होता है। अन्यथा इससे कई तरह की बीमारियां होने का खतरा बना रहता है। जानें कैसे करें अपनी वजाइना की सफाई 

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Jun 08, 2021
पेशाब के बाद कैसे करें वजाइना की सफाई और ये क्यों जरूरी है? डॉक्टर से जानें टॉयलेट हाइजीन की जरूरी बातें

वजाइना महिलाओं का सबसे सेंसिटिव यानी संवेदनशील पार्ट (Vagina is Sensitive Part of Women) होता है। इसके प्रति थोड़ी सी भी लापरवाही महिलाओं पर भारी पड़ सकती हैं। दूसरे अंगों की तरह ही वजाइना की सफाई करना भी बेहद जरूरी (Importance of Vagina Cleaning) होता है। अकसर महिलाएं पेशाब करने के बाद अपनी वजाइना को साफ करना या धोना भूल जाती हैं, लेकिन वजाइना को स्वस्थ रखने के लिए इसकी सफाई करना बहुत जरूरी होता है। पेशाब के बाद वजाइना की सफाई न करने से इंफेक्शन (Vagina Infection) होने का खतरा बना रहता है।

vagina

दरअसल, पेशाब करने के बाद भी कुछ बूंदे प्यूब्स (Pubes) में रुक जाती है, जो बाद में अंडरवियर में गिर जाती है। इससे अंडरवियर से बदबू आती है और बैक्टीरिया पैदा होने लगते हैं। इससे यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन यानी यूटीआई (Urinary Tract Infection) होने का खतरा बना रहता है। ऐसे में पेशाब के बाद वजाइना एरिया को अच्छे से साफ करना बहुत जरूरी होता है। इसके लिए आप या तो अपनी वजाइना को पानी की मदद से धो सकते हैं। या फिर टिश्यू पेपर की मदद से उसे पोंछ सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- प्रेग्नेंसी में कब जरूरी हो जाता है बेड रेस्ट? जानें डॉक्टर से

दोनों ही तरीकों से वजाइना पर लगी गंदगी और रुकी हुई पेशाब की बूंदें निकल जाती है, लेकिन क्या आप जानती हैं इन दोनों में से कौन-सा तरीका वजाइना को साफ करने के लिए बेहतर है। आपको अपनी वजाइना को कैसे साफ रखना चाहिए? वॉकहार्ट अस्पताल, मुंबई सेंट्रल की स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉकटर इंद्रायणी सालुंखे (Dr Indrayani Salunkhe, Gynaecologist, Wockhardt Hospital, Mumbai Central) से जानें पेशाब के बाद योनि यानी वजाइना को पानी से धोना चाहिए या टिश्यू पेपर से पोछना चाहिए-

पानी से धोएं (Wash From Water)

इन दिनों टॉयलेट में टॉयलेट पेपर यानी टिश्यू पेपर का इस्तेमाल ज्यादा किया जाता है। अकसर लोग पेशाब या मल त्याग करने के बाद टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करते हैं। अपनी वजाइना को साफ करने के लिए आप चाहें तो पानी का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। पानी से वजाइना धोने पर सारे प्यूरिब में रुकी पेशाब की बूंदें साफ हो जाती है, लेकिन इससे वजाइना गीली रहती है और उसमें नमी बनी रहती है। जिससे बैक्टीरिया पनपने का खतरा ज्यादा रहता है।

vagina

टिश्यू पेपर से साफ करें (Clean From Tissue Paper) 

पेशाब करने के बाद वजाइना एरिया गीला हो जाता है, ऐसे में अगर इसे सही से साफ न किया जाए तो बैक्टीरिया होने की संभावना बढ़ जाती है। पहले अकसर लोग अपनी वजाइना को साफ करने के लिए पानी का इस्तेमाल करते थे, लेकिन पानी से वजाइना गीली रहती है। इससे वजाइना में नमी बनी रहती है, जो बैक्टीरिया को जन्म देती है। वजाइना हाइजीन के लिए वजाइना का सूखा या ड्राय होना बहुत जरूरी होता है, जिससे संक्रमण नहीं होता है। टिश्यू पेपर वजाइना की नमी को अवशोषित करने में काफी मददगार होता है। टिश्यू पेपर की मदद से वजाइना को आसानी से साफ किया जा सकता है। लेकिन टिश्यू पेपर को वजाइना में ज्यादा और तेजी से रगड़ने से उसमें जलन और दर्द महसूस हो सकता है। यह काफी संवेदनशील अंग होता है, जिसे हल्के हाथों से साफ करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें - ल्यूकोरिया यानी सफेद पानी के मरीजों के लिए डाइट टिप्स, जानें क्या खाएं और किन चीजों से करें परहेज 

  • पेशाब के बाद वजाइना को पानी से धोने से उसमें नमी बनी रहती है, जिससे इंफेक्शन होने का खतरा रहता है।
  • टिश्यू पेपर को रगड़ने से वजाइना में जलन और दर्द हो सकता है। ऐसे में हल्के हाथों से इसे साफ करें।

डॉक्टर इंद्रायणी सालुंखे बताती हैं कि पेशाब के बाद वजाइना की सफाई के लिए आप पानी और टिश्यू पेपर दोनों में से किसी का इस्तेमाल कर सकती हैं। लेकिन अच्छी हाइजीन के लिए आपको दोनों का एक साथ में उपयोग करना चाहिए। इसके लिए पहले आप पेशाब के बाद साफ पानी से अपनी वजाइना को धो लें। फिर इसके बाद उसे हल्के हाथों से टिश्यू पेपर से पोंछ लें, जिससे वजाइना गीली नहीं रहेगी और इंफेक्शन का खतरा काफी हद तक कम हो जाएगा।

Read More Articles on Womens Health in Hindi

Disclaimer