प्रेगनेंसी में एक्जिमा त्वचा रोग होने के कारण, लक्षण और इलाज

गर्भावस्था के दौरान यदि महिलाएं एक्जिमा की समस्या से ग्रस्त हो जाएं तो उन्हें काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। जानें कारण, लक्षण और बचाव

Garima Garg
Written by: Garima GargUpdated at: Sep 15, 2021 12:16 IST
प्रेगनेंसी में एक्जिमा त्वचा रोग होने के कारण, लक्षण और इलाज

गर्भावस्था के दौरान अक्सर महिलाएं कुछ ऐसी समस्याओं का सामना करती हैं, जिनके कारण उन्हें काफी दिक्कत महसूस होती है। ऐसी ही एक समस्या है त्वचा संबंधित समस्या एक्जिमा। ये एक चर्म रोग है जिसे आम भाषा में त्वचा की सूजन के नाम से भी जाना जाता है। जब त्वचा पर ज्यादा सूजन आ जाती है और त्वचा रूखी हो जाती है तो महिलाएं खुजली का सामना भी करती हैं और उनके शरीर में लाल चकत्ते भी बनने लगते हैं। मुख्य तौर पर एक्जिमा चेहरे कोहनी, घुटने, हाथ, पैर आदि पर दिखाई देते हैं। अगर इसका सही समय पर इलाज न किया जाए तो यह लंबे समय तक शरीर को अपना घर बना सकते हैं। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि गर्भावस्था के दौरान एक्जिमा की समस्या महिलाओं के लिए किस प्रकार नुकसानदेह साबित हो सकती है। साथ ही कारण, लक्षण, बचाव के बारे में भी जानेंगे। पढ़ते हैं आगे...

 

बता दें कि गर्भावस्था के दौरान एक्जिमा की समस्या काफी कम देखी गई है हालांकि जो महिलाएं पहले इस चर्म रोग का शिकार रह चुकी हैं वह प्रेगनेंसी के दौरान इस समस्या का सामना कर सकती हैं। इससे संबंधित एक रिसर्च भी सामने आई है जो यह बताती है कि महिलाओं में एक्जिमा का खतरा शुरुआत के दो तिमाही के दौरान हो सकता है। इससे संबंधित रिसर्च पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

 इसे भी पढ़ें- गर्भावस्था के दौरान नाक से खून आने के 9 कारण, जानें बचाव के उपाय

प्रेगनेंसी के दौरान एक्जिमा होने के कारण

1 - यदि महिलाओं की इम्यूनिटी बेहद कमजोर है तो एक्जिमा का खतरा बढ़ सकता है। वहीं एक्जिमा होने पर कमजोर इम्यूनिटी के कारण ये काफी समय तक रह भी सकता है।

2 - जब महिलाएं धूल, खराब पर्यावरण या पशुओं के सम्पर्क में आती है और उनसे एलर्जी महसूस करती है तब भी एक्जिमा का खतरा बढ़ सकता है।

3 - त्वचा में नमी की कमी हो जाती है तो त्वचा पर संक्रमण का खतरा बढ़ने लगता है इसके कारण हुई महिलाएं एक्जिमा का शिकार हो सकती हैं।

4 - जब मौसम में परिवर्तन आता है तो तापमान बढ़ने के कारण महिलाओं की त्वचा रूखी होनी शुरू हो जाती है इसके कारण भी एक्जिमा का खतरा बढ़ सकता है।

5 - जब महिलाओं के जीवन में परिवर्तन आता है तब भी इस प्रकार की समस्या हो सकती है।

6 - शरीर में सूजन आ जाती है और इसके कारण त्वचा को क्षति पहुंचती है तब भी एक्जिमा हो सकता है।

गर्भावस्था के दौरान एक्जिमा के लक्षण

महिलाओं को एक्जिमा की समस्या होती है तो इस दौरान महिलाओं को काफी लक्षण नजर आ सकते हैं। यह लक्षण निम्न प्रकार हैं-

1 - महिलाओं की त्वचा का लाल हो जाना।

2 - महिलाओं की त्वचा पर चकत्ते हो जाना।

3 - त्वचा का रूखी हो जाना

4 - त्वचा पर खरोंच दिखाई देना।

5 - महिलाओं की त्वचा पर तेज खुजली होना।

6 - कोहनी और घुटने की त्वचा पर पपड़ी जमना।

इसे भी पढ़ें- प्रेगनेंसी में केसर खाने के फायदे, नुकसान और सावधानियां

गर्भावस्था के दौरान एग्जिमा से कैसे कर सकते हैं बचाव

1 - बता दें कि जो महिलाएं गर्भावस्था के दौरान सूती कपड़े पहनती हैं या टाइट कपड़ों का चुनाव नहीं करती है तो वे एक्जिमा की समस्या से बच सकती हैं। इससे अलग महिलाएं जब भी नए कपड़े को पहनें तो उससे पहले उन्हें अच्छे से धो लें, जिससे खराब बैक्टीरियल खत्म हो जाएं।

2 - जब भी किसी डिटर्जेंट या रसायनिक पदार्थ का प्रयोग करें तो उस दौरान अपनी त्वचा को उस संपर्क से बचाने के लिए दस्ताने का चुनाव करें।

3 - हमेशा अपने आसपास के माहौल को सामान्य रखें। न तापमान को ज्यादा बढ़ने दें और ना ही ज्यादा घटने दें।

4 - त्वचा पर किसी भी उत्पाद के इस्तेमाल करने से पहले यह ध्यान रखें कि आपको उत्पाद से किसी प्रकार की एलर्जी तो नहीं है।

5 - शरीर को निर्जलीकरण से बचाना भी जरूरी है। ऐसे में डिहाइड्रेशन की समस्या से बचने के लिए भरपूर मात्रा में पानी पिएं।

6 - नाखूनों के अंदर कुछ ऐसे बैक्टेरियाज़ मौजूद होते हैं जो त्वचा के संपर्क में आकर एक्जिमा की समस्या को बढ़ा सकते हैं। ऐसे में नाखूनों को छोटा रखें और साफ रखें, जिससे कि जब भी आपको त्वचा पर खुजली लगे तो नाखूनों के अंदर मौजूद बैक्टीरिया से आपकी त्वचा पर ना चिपक पाएं।

8 - प्रेगनेंसी के दौरान अपनी त्वचा को मोइस्चराइज करना ना भूलें।

9 - जब भी घर से बाहर जाएंगे या धूप के संपर्क में आएं तो सनस्क्रीन का प्रयोग करें। ऐसा करने से न केवल आप त्वचा को सनबर्न से बचा पाएंगे बल्कि आपकी त्वचा भी अच्छी बनी रहेगी।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि प्रेगनेंसी के दौरान एक्जिमा की समस्या महिलाओं के लिए काफी दर्दनाक हो सकती है। ऐसे में गर्भावस्था में यह समस्या ज्यादा दिनों तक रहनी ठीक नहीं है। ऐसे में लक्षणों को पहचान कर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। इससे अलग प्रेगनेंसी के दौरान कुछ बचावों को अपनाकर अपनी समस्या से बच भी सकते हैं।

इस लेख में फोटोज़ shutterstock से ली गई हैं। 

Read More Articles on women health in hindi

Disclaimer