विटामिन B7 (बायोटिन) की कमी होने पर शरीर में दिखते हैं ये 5 लक्षण, जानें किन फूड्स से मिलेगा Vitamin B7

अगर आप भी अपने शरीर में विटामिन बी 7 की कमी को पूरा नहीं कर रहे तो आपको इस तरह के सामान्य लक्षण दिख सकते हैं।

Vishal Singh
स्वस्थ आहारWritten by: Vishal SinghPublished at: Jan 15, 2021
विटामिन B7 (बायोटिन) की कमी होने पर शरीर में दिखते हैं ये 5 लक्षण, जानें किन फूड्स से मिलेगा Vitamin B7

हमारे शरीर के लिए हर तरह के विटामिन्स और मिनिरल्स जरूरी होते हैं, ये सभी हमे लंबे समय तक स्वस्थ रहने के साथ बीमारियों से दूर रखने का काम करते हैं। ऐसे ही विटामिन बी 7 यानी बायोटिन है जिससे हमे स्वस्थ रहने में मदद मिलती है। विटामिन बी 7 हमारे शरीर की तंत्रिका तंत्र, वसा और प्रोटीन को काम करने के लिए मदद करता है, ये न सिर्फ आपके स्वास्थ्य को ठीक रखता है बल्कि ये आपकी आंखों, त्वचा और बालों की भी देखभाल करता है। आपको बता दें कि बायोटिन की मात्रा बहुत ही कम खआद्य पदार्थों में पाई जाती है और ये पानी में घुलनशील होता है। यानी ये आसानी से आपके शरीर में पानी में घुल जाता है। लेकिन अगर शरीर में विटामिन बी 7 यानी बायोटिन की कमी होने लगती है तो इससे आपके शरीर में कई तरह की समस्याएं भी दिखाई दे सकती है। जी हां, आपको बायोटिन की कमी के कारण कई तरह की त्वचा संबंधित और स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं देखने को मिल सकती है। हम आपको इस लेख के जरिए बताएंगे कि शरीर में विटामिन बी 7 की कमी होने के कारण आपको किस तरह के लक्षण मिल सकते है और इसकी पूर्ति करने के लिए किन फूड्स का करना चाहिए सेवन। 

biotin

बार-बार मतली का अनुभव होना

मतली एक आम समस्या है जिसके कारण अक्सर कई बार लोग परेशान रहते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं बार-बार मतली आने का एक कारण विटामिन बी 7 की कमी भी हो सकती है। जिसके कारण आपको मतली और उल्टी का अनुभव हो सकता है। लेकिन लोग अक्सर इसे एक आम समस्या समझते हुए नजरअंदाज कर देते हैं। इस दौरान आपको भूख न लगने जैसी स्थिति भी दिखेगी जिसमें आपको कुछ भी न खाने की इच्छा हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: सुबह ब्रेकफास्ट में चॉकलेट खाने से सेहत को मिलेंगे कई लाभ, एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे और खाने का तरीका

हल्के तनाव की स्थिति

तनाव और चिंता आपके मस्तिष्क को बुरी तरह से प्रभावित करती है जिसके कारण आप मानसिक रूप से बीमार भी हो सकते हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए जरूरी होता है कि आप तनावमुक्त रहें और मस्तिष्क को सही मात्रा में ऊर्जा दें। लेकिन जब आपके शरीर में विटामिन-बी 7 की कमी होने लगती है तो इससे आपके मस्तिष्क को पर्याप्त मात्रा में ऊर्जा नहीं मिलती जिसके कारण वो हल्के तनाव और चिंता की स्थिति में हो सकता है। 

त्वचा पर लालिमा

त्वचा पर लालिमा या जलन आपको किसी कीड़े के काटा हुआ लग सकता है जबकि ये बायोटिन की कमी के कारण हो सकता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि बायोटिन आपके शरीर में पानी में घुलकर पूरे शरीर में पहुंचता है लेकिन जब ये शरीर में पहुंचता ही नहीं और इसकी कमी शरीर में होने लगती है तो आपकी त्वचा में इस तरह के लक्षण नजर आ सकते हैं। 

biotin

कमजोर मांसपेशियां

विटामिन बी 7 की कमी शरीर में होने के कारण न सिर्फ आपको हल्के लक्षण बल्कि कुछ ऐसे भी लक्षण दिख सकते हैं जिसे आप आसानी से ये जान सकते हैं कि आप विटामिन बी 7 की कमी का शिकार हो रहे हैं। जी हां, शरीर में विटामिन-बी 7 की कमी के कारण आपके शरीर की मांसपेशियों काफी कमजोर और हल्की नजर आ सकती है। आप कितने भी फिट या फिर वर्कआउट करते हों लेकिन जब आपके शरीर में विटामिन-बी 7 की कमी होती है तो आपके  शरीर की मांसपेशियां काफी कमजोर दिख सकती है। इस दौरान आपकी मांसपेशियों में जकड़न और दर्द भी हो सकता है। 

झड़ते बाल की समस्या

झड़ते बाल की समस्या आपको सिर्फ गलत ब्यूटी प्रोडक्ट्स के इस्तेमाल से नहीं होते बल्कि आपी कुछ गलतियों के कारण आपके बालों की समस्या पैदा हो सकती है। आमतौर पर आपके पूर्ण स्वास्थ्य तभी बेहतर हो सकता है जब आप एक बेहतरीन डाइट और पोषक तत्वों से भरपूर डाइट का सेवन करते हैं। इससे आप पूरी तरीके के साथ स्वस्थ रहने के अलावा आप खुद के झड़ते बालों की समस्या को भी दूर कर सकते हैं। अगर आपके शरीर में विटामिन बी 7 की कमी होती है तो इस दौरान आपके बाल भी झड़ सकते हैं जो आपको काफी परेशान कर सकते हैं। इसके कारण आपके बाल काफी कमजोर हो जाते हैं जो आसानी से टूटने लगते हैं। इसके लिए जरूरी है कि आप अपनी डाइट में विटामिन बी 7 की कमी को पूरा करें और विटामिन बी 7 से युक्त आहार का सेवन करें। 

इसे भी पढ़ें: सर्दियों में जरूर खाने चाहिए अमरूद क्योंकि सेहत को मिलते हैं ये 8 फायदे, लेकिन एक्सपर्ट से जानें 4 नुकसान भी

किन खाद्य पदार्थों से करें 

  • साबुत अनाज की रोटी।
  • सामन।
  • पोर्क।
  • सार्डिन।
  • मशरूम और फूलगोभी।

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer