कमर दर्द, योनि में दर्द, कब्ज जैसी इन 5 समस्याओं में फायदेमंद है 'रास्ना' औषधि, जानें प्रयोग का तरीका

रास्ना औषधि से शरीर में होने वाले दर्द, सर्दी-जुखाम, इंफेक्‍शन, हेयर लॉस आद‍ि समस्‍याओं से छुटकारा म‍िलता है, जानें अन्‍य फायदे

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Aug 10, 2021 16:48 IST
कमर दर्द, योनि में दर्द, कब्ज जैसी इन 5 समस्याओं में फायदेमंद है 'रास्ना' औषधि, जानें प्रयोग का तरीका

रास्ना औषधि में ढेर सारे आयुर्वेद‍िक गुण होते हैं। रास्ना औषधि से अर्थराइट‍िस का दर्द भी दूर होता है और ये कब्‍ज की समस्‍या दूर करने में भी फायदेमंद मानी जाती है। रास्ना से योन‍ि में होने वाले दर्द, कमर के दर्द, क‍िडनी की समस्‍या दूर होती है। अगर आप रास्ना औषधि से बनी चाय या काढ़ा प‍िएं तो सर्दी-जुखाम, बुखार, दर्द की समस्‍याओं से बच सकते हैं। अगर घाव हो गया है तो भी आप रास्ना औषधि के पत्‍तों का रस घाव पर लगा सकते हैं। रास्ना औषधि में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण मौजूद होते हैं। इस लेख में हम रास्ना औषधि के फायदों पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की।

rasna herb benefits

(image source:imimg)

1. कमर का दर्द दूर करती है रास्ना औषध‍ि (Rasna herb helps to cure back pain)

कमर का दर्द दूर करने में रास्ना औषध‍ि फायदेमंद मानी जाती है। आपको रास्ना औषध‍ि का पाउडर गुनगुने पानी में म‍िलाकर द‍िन में दो बार इस्‍तेमाल करना है। इस औषध‍ि से दर्द दूर होता है। अर्थराइट‍िस में जोड़ों में होने वाले दर्द में भी रास्ना औषध‍ि फायदेमंद मानी जाती है। आप रास्ना का काढ़ा बनाकर भी पी सकते हैं। घुटने का दर्द दूर करने के ल‍िए आप रास्ना औषध‍ि के तेल का इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं। एंटी-ऑक्‍सीडेंट प्रॉपर्टीज होने के कारण रास्ना औषध‍ि क‍िडनी डैमेज से भी आपको बचाती है। 

इसे भी पढ़ें- सिर दर्द, गले के इंफेक्शन जैसी इन 5 समस्याओं में फायदेमंद है अरहर के पत्ते, जानें इस्तेमाल का तरीका

2. योन‍ि का दर्द दूर करती है रास्ना औषध‍ि (Rasna herb cures vaginal pain)

योन‍ि या वजाइना में दर्द होने पर भी रास्ना औषध‍ि का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इस दौरान औषध‍ि का काढ़ा बनाकर पीना फायदेमंद होता है। इससे वजाइना में होने वाले दर्द और सूजन से आराम‍ म‍िलेगा। आपको रास्ना औषध‍ि के पत्‍तों को दो कप पानी में उबालना है जब पानी आधा हो जाए तो उसमें शहद, काली म‍िर्च, अदरक डालकर प‍िएं। इससे योन‍ि में दर्द की समस्‍या दूर हो जाएगी। 

3. कब्‍ज की समस्‍या दूर करती है रास्ना औषध‍ि (Benefits of rasna herb to cure constipation)

rasna herb uses

(image source:dravyagunatvpm)

अगर आपको कब्‍ज की समस्‍या है तो आप रास्ना औषध‍ि के चूरण का सेवन करें। इस औषध‍ि का चूरण बनाने के ल‍िए जड़ को पीसकर पाउडर बना लें अब पाउडर में अजवाइन और सेंधा नमक म‍िलाकर गुनगुने पानी के साथ लें तो कब्‍ज की श‍िकायत दूर हो जाएगी। रास्ना औषध‍ि से बनी चाय या काढ़ा पीने से हीमोग्‍लोब‍िन की मात्रा बढ़ती है, ज‍िन लोगों को खून की कमी है उनके लि‍ए ये औषध‍ि फायदेमंद है। 

4. गंजेपन का उपाय है रास्ना औषध‍ि (Rasna herb benefits to get rid of baldness)

रास्ना औषध‍ि के इस्‍तेमाल से आप गंजेपन की समस्‍या से बच सकते हैं। रास्ना की पत्‍त‍ियों का पाउडर आंवला के साथ म‍िलाकर लगाने से बालों की ग्रोथ बढ़ती है। रास्ना औषध‍ि से स्‍कैल्‍प का ब्‍लड सर्कुलेशन बेहतर होता है और बाल दोबारा उगने लगते हैं। आपको एक द‍िन में 1 से 2 ग्राम से ज्‍यादा रास्ना औषध‍ि का सेवन नहीं करना चाह‍िए। 

इसे भी पढ़ें- दांत का दर्द, पीर‍ियड्स की अन‍ियम‍ितता जैसी इन 6 बीमारियों में फायदेमंद है नकछ‍िकनी, जानें प्रयोग का तरीका

5. सर्दी-जुखाम को दूर करने के ल‍िए इस्‍तेमाल करें रास्ना औषध‍ि (Rasna herb cures cough and cold)

अगर आप सर्दी या जुखाम का इलाज ढूंढ रहे हैं तो रास्ना औषध‍ि का इस्‍तेमाल कर सकते हैं क्‍योंकि रास्ना औषध‍ि की तासीर गरम होती है। इस औषध‍ि की पत्‍त‍ियों को पीसकर रस न‍िकाल लें उस रस को शहद और गुनगुने पानी में म‍िलाकर प‍ीने से सर्दी और जुखाम की समस्‍या दूर होती है। बैक्‍टीर‍ियल इंफेक्‍शन दूर करने के ल‍िए आप रास्ना औषध‍ि का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। 

अगर आपको कोई गंभीर बीमारी या त्‍वचा संबंधी रोग है तो अपने डॉक्‍टर से सलाह लेकर ही रास्ना औषध‍ि का इस्‍तेमाल करें। 

(main image source:archanaskitchen)

Read more on Ayurveda in Hindi

Disclaimer