महिलाओं में बाल तेजी से बाल झड़ने का कारण हो सकता है 'फीमेल पैटर्न बाल्डनेस', जानें इसके कारण और उपचार

बाल झड़ने के लिए हमारा खान-पान और हमारा लाइफस्टाइल दोषी है। लेकिन इसके अलावा और भी बहुत से कारक हैं जिसकी वजह से बाल झड़ते हैं।

Monika Agarwal
महिला स्‍वास्थ्‍यWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jul 21, 2021Updated at: Jul 21, 2021
महिलाओं में बाल तेजी से बाल झड़ने का कारण हो सकता है 'फीमेल पैटर्न बाल्डनेस', जानें इसके कारण और उपचार

बाल चाहे लंबे हो या छोटे, जरूरी है मजबूत और घने बाल। लेकिन प्रदूषण और हमारे लाइफस्टाइल की वजह से आज कल बालों के झड़ने की समस्या बढ़ती जा रही है। एक्सपर्ट के अनुसार यदि रोजाना 50 से 100 बाल झड़ते हैं तो यह आम बात है। क्योंकि इसकी जगह नए उगने वाले बाल ले लेते हैं। लेकिन कुछ महिलाओं के बाल जितने अधिक झड़ते हैं उतने उगते नहीं। जिस कारण उन्हें सिर के उस भाग में गंजापन ( Baldness) दिखने लगता है। इसे फीमेल पैटर्न बाल्डनेस (Female Pattern Baldness) कहा जाता है। यह बाल झड़ने का एक ऐसा प्रकार है जो अधिकतर महिलाओं को प्रभावित करता है। हालांकि यह पुरुषों में भी होता है लेकिन अगर पुरुषों के बाल झड़ते हैं तो उनकी हेयर लाइन कम होने लगती है और थोड़ा थोड़ा गंजापन दिखने लगता है। वहीं महिलाओं में अगर यह समस्या होती है तो उन्हें हेयर थिनिंग की समस्या होने लगती है। जो उनके बालों की वॉल्यूम को कम करती है। महिलाओं में इसका पहला लक्षण यह होता है कि बाल पहले जितने अधिक घने नहीं रहते। फिर स्कैल्प भी दिखने लगता है। यह समस्या उम्र के साथ साथ और अधिक बढ़ने लगती है।

Inside6Femalepatternbaldness

क्या इसका कोई जेनेटिक लिंक है?

अगर आपके अधिक बाल झड़ते हैं तो यह जेनेटिक भी हो सकता है। अर्थात आपके परिवार के लोगों में भी यह समस्या पहले से यदि हो। महिलाएं इसे अपने माता या पिता से अनुवांशिक पा सकती हैं। यह गंजापन तब और अधिक बढ़ने लगता है जब महिलाएं 50 की उम्र की होने लगती है और ये समस्या मेनोपॉज के बाद भी ज्यादा हो जाती है। इसलिए हार्मोन्स में बदलाव भी इसका एक कारण हो सकता है।

बाल झड़ने के कुछ अन्य कारण -Causes For Female Pattern Baldness

1. दवाइयां (Medication)

बहुत सी दवाइयां खास कर अगर आप कैंसर की दवाइयां खा रही हैं तो बाल झड़ना उसका एक साइड इफेक्ट भी हो सकता है। हालांकि जब आप उस दवाई को लेना बंद कर देंगी तो बाल फिर से बढ़ने लग जायेंगे।

2. ऑटो इम्युन डिजीज (Alopecia)

एलोपेसिया नामक एक ऐसी बीमारी होती है जो ऑटो इम्युन होती है और यह हेयर फॉलिकल्स पर अटैक करती है इसलिए आपके बाल अधिक झड़ने (Hair Falling) लगते हैं।

3. बीमारी (Illness)

अगर आपको कोई गंभीर इंफेक्शन, बुखार  हो गया हो तो भी आपके बाल झड़ सकते हैं (Hair Falling) और यह अगर आप किसी सर्जरी से गुजरी हैं तो उसका भी एक साइड इफेक्ट हो सकता है।

इसे भी पढ़ें: बालों पर लौकी का रस लगाने से दूर होती हैं ये 5 समस्याएं, जानें प्रयोग का तरीका

फीमेल पैटर्न बाल्डनेस का उपचार-Female pattern baldness treatment in hindi

हेयर ट्रांसप्लांट (Hair Transplant)

कुछ महिलाएं बालों की समस्या से छुटकारा पाने के लिए हेयर ट्रांसप्लांट का भी सहारा लेती हैं और इसके बहुत से अलग अलग तरीके होते हैं। इस प्रक्रिया के दौरान डॉक्टर आपके सिर के इस भाग से बाल हटा देते हैं जहां बालों की ग्रोथ अच्छी खासी होती है और उस जगह चिपका देते हैं जहां बाल कम होते हैं।

Inside5hairtransplant

ओरल दवाइयां (Oral Medicine)

महिलाओं में गंजेपन को ठीक करने के लिए सबसे ज्यादा प्रयोग करने वाली दवाई डायरेटिक होती है। यह दवाइयां आपके शरीर से एक्स्ट्रा पानी निकालती है। इससे एंड्रोजन का प्रोडक्शन भी ब्लॉक हो जाता है। जिससे आपके बाल झड़ने बंद हो जाते हैं और दुबारा से उगने शुरू हो जाते है।

लेजर ट्रीटमेंट (Laser Treatment)

इस तरीके में लो लेवल लेजर थेरेपी का प्रयोग किया जाता है जिस में आपके बाल दुबारा से ग्रो होना शुरू हो जाए हैं।

इसे भी पढ़ें: रूखे और उलझे बालों को तुरंत ठीक करेगा ये एंटी फ्रिजी सीरम, जानें घर पर बनाने का तरीका

अगर आप अपने बालों को झड़ने से बचाना चाहती हैं तो आपको स्ट्रेटनिंग, कर्लिंग और स्टाइलिंग आदि का कम से कम प्रयोग करना होगा। इसके साथ ही एक ऐसी डाइट खाएं जिसमें आपको अधिक से अधिक प्रोटीन, विटामिन और आयरन से युक्त चीजें हों। अपने बालों को सूर्य के डेमेज से तो जरूर बचाएं और इसके लिए एक हैट जरूर पहनें। जब बाल गीले और अधिक उलझे हुए हों तब उन्हें कॉम्ब न करें। अगर आपके बाल अधिक उलझे हुए होते हैं तो उन्हें सुलझाने के लिए पहले कंघी की बजाए अपनी उंगलियों का प्रयोग करें।

Read more articles on Hair-Care in Hindi

Disclaimer