प्रेगनेंट महिलाओं के लिए खतरनाक हो सकता है इस पोजीशन में बैठना, जानें होने वाले नुकसान

गर्भवती महिलाओं को किसी भी पोजीशन में बैठना पहले सतर्क रहना चाहिए। गलत तरीके से बैठने की वजह से गर्भ में पल रहे शिशु को नुकसान हो सकता है।

Meera Tagore
Written by: Meera TagoreUpdated at: Mar 12, 2023 15:00 IST
प्रेगनेंट महिलाओं के लिए खतरनाक हो सकता है इस पोजीशन में बैठना, जानें होने वाले नुकसान

3rd Edition of HealthCare Heroes Awards 2023

sitting position to avoid during pregnancy : गर्भधारण करना हर महिला के लिए बहुत बड़ी खुशखबरी होती है। लेकिन इस सफर में कई तरह के उतार चढ़ाव आते हैं। कभी स्वास्थ्य प्रभावित होता है तो कभी मन बेचैन हो जाता है। इस सफर में कुछ भी स्थाई नहीं होता है। इसलिए महिलाओं को कई तरह की सावधानियां बरतनी पड़ती है ताकि वह खुद की और गर्भ में पल रहे अपने शिशु का पूरा ध्यान रख सके। इसी क्रम में महिलाओं को अपने बैठने की पोजीशन का भी ध्यान रखना चाहिए। तो क्या आप जानती हैं कि प्रेगनेंसी में किन पोजीशंस में आपको नहीं बैठना चाहिए? आइए इस बारे में हम आपको बताते हैं।

what sitting position to avoid during pregnancy

आलती-पालथी मारकर

कई लोगों को आलती-पालथी मारकर बैठना अच्छा लगता है। इस अवस्था में आमतौर पर फर्श पर बैठना चाहिए, इससे बैठने वाले को काफी आराम मिलता है और ब्लड सर्कुलेशन भी बेहतर होता है। इस पोजीशन में बैठने के और भी कई फायदे होते हैं। लेकिन गर्भवती महिलाओं को इस पोजीशन में नहीं बैठना चाहिए। फिजियोथेरेपिस्ट खुद उन गर्भवती महिलाओं को फर्श पर आलती-पालथी मारकर बैठने से मना करते हैं, जिन्हें पेट दर्द और कमर दर्द की शिकायत रहती है और पेल्विक गर्डल पेन होता है। इसके अलावा कई बार लंबे समय तक इस पोजीशन में बैठने की वजह से पैरों पर दबाव बनता है जिससे ब्लड सर्कुलेशन प्रभावित होता है, जो कि गर्भवती महिलाओं को असहज कर सकता है।

इसे भी पढ़ें : प्रेग्नेंसी के दौरान बैठने का सही तरीका क्‍या होना चाह‍िए? जानें एक्सपर्ट से

क्रॉस करके बैठना

विशेषज्ञों के अनुसार गर्भवती महिलाओं को पैरों को क्रॉस करके बैठने में कोई समस्या नहीं होती है बल्कि इस पोजीशन पर बैठने से डिलीवरी आसान हो सकती है। लेकिन हर गर्भवती महिला पर यह बात लागू नहीं होती है। कुछ प्रेगनेंट महिलाओं को इस अवस्था में बैठने से दिक्कतें होती हैं। दरअसल जब वे इस पोजीशन में बैठती हैं तो इससे ब्लड सर्कुलेशन अवरुद्ध होने लगता है जिससे गर्भवती महिला का ब्लड प्रेशर बढ़ सकता है। हाईबीपी से प्रेगनेंट महिला को कई अन्य परेशानियां हो सकती हैं। अगर किसी प्रेगनेंट महिला को इस पोजीशन में बैठना ही है, तो कोशिश करें कि 30 मिनट से ज्यादा इस अवस्था में न बैठें।

किस पोजीशन में बैठें

कुछ पोजीशन ऐसी भी होती है, जो डिलीवरी के दौरान काफी हेल्पफुल होती है। इन्हीं में से एक पोजीशन है, स्क्वॉट पोजीशन। इस पोजीशन  में बैठने से पेल्विक एरिया की मांसपेशियां मजबूत और लचीली होती हैं। डिलीवरी के दौरान पेल्विक एरिया का खुलना जरूरी है ताकि प्रसव आसानी से हो। यही वजह है कि एक्सपर्ट्स खुद गर्भवती महिलाओं को गर्भावस्था के आखिरी के महीनों में इस अवस्था में बैठने की सलाह देते हैं। वैसे स्क्वॉट एक किस्म की एक्सरसाइज भी है, आप चाहें तो एक्सपर्ट की मदद लेकर इस एक्सरसाइज कर सकती हैं।

image credti : freepik

Disclaimer