वेट लॉस के लिए ग्रीन टी पी कर थक चुके हैं आप तो ट्राई करें Oolong Tea, जानें इसे बनाने का तरीका और 5 फायदे

उलांग टी के सेवन से आप अपने वजन को कंट्रोल कर सकते हैं। आइए जानते हैं किस तरह तैयार करें उलांग टी और इसके अन्य फायदे-

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jan 29, 2021Updated at: Jan 29, 2021
वेट लॉस के लिए ग्रीन टी पी कर थक चुके हैं आप तो ट्राई करें Oolong Tea, जानें इसे बनाने का तरीका और 5 फायदे

ऊलांग टी ग्रीन और ब्लैक टी तरह तरह ज्यादा प्रचलित नहीं है, लेकिन इसका सेवन काफी लंबे समय से किया जा रहा है। यह एक हर्बल टी है, जो स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद है। यह कैमेलिया सिनेसिस (Camellia Sinensis) नामक पेड़ की पत्तियों से तैयार किया जाता है। इस चाय को बनाने की प्रक्रिया भी अन्य चाय बनाने की प्रक्रिया से अलग है। यह सेहत के लिए ग्रीन टी से दोगुना फायदेमंद है। आइए जानते हैं इस चाय को बनाने की विधि (Oolong tea Recipe) और इसके अनोखे फायदे (Health Benefits of Oolong tea) -

किस तरह तैयार करें ऊलांग टी (How to Prepare Oolong Tea)

आवश्यक सामाग्री (Ingredients)

  • ऊलांग टी की पत्तियां- 1 टीस्पून
  • पानी - 1 कप (काफी गर्म हुआ)
  • शहद - आवश्यकतानुसार
  • आइस - 1 कप

कैसे बनाएं (Steps to Make It)

  • गर्म पानी में उलांग टी की पत्तियों को मिक्स करें। 
  • इसे करीब 5 से 6 मिनट के लिए छोड़ दें और बाद में पत्तियों को छानकर बार निकाल लें।
  • अब इसमें अपनी आवश्यकतानुसार शहद डालें और इसे मिलाएं।
  • इसके बाद इसे एक गिलास में डालकर आइस के कुछ टुकड़ें डालें। लीजिए तैयार है उलांग टी।

उलांग टी पीने के फायदे

मोटापा करे कम ऊलांग टी

वजन कम करना आज के समय में हर किसी की चाहत है। लेकिन मोटापे को कंट्रोल करना बहुत ही मुश्किल भरा काम होता है। आप अपने वजन को तब ही कंट्रोल में रख सकते हैं, जब आपका मेटाबॉलिज्म रेट बेहतर हो। उलांग टी के बारे में एक्पर्ट का कहना है कि इस टी में पॉलिफेनोल्स मौजूद होता है, जो शरीर के मेटाबॉलिज्म रेट को बढ़ाने में आपकी मदद करता है। इससे आपका वजन कंट्रोल में रह सकता है। चाय में कैफीन और पॉलिफेनोल्स दोनों मौजूद होते हैं, जो कैलोरी बर्न करने में आपकी मदद कर सकते हैं। जिससे आपके शरीर का मोटापा तेजी से घटेगा। 

कैंसर से करे बचाव

उलांग टी में एंटीऑक्सीडेंट भरपूर रूप से मौजूद होते हैं, तो हमें विभिन्न तरह के कैंसर से बचाव कर सकते हैं। एंटीऑक्सीडेंट्स हमारे शरीर से स्वस्थ सेल्स को नष्ट होने से बचाव करने में हमारी मदद करते हैं। जिससे कैंसर होने की संभावना कम होती है। 

इसे भी पढ़ें - मूड को अच्छा करने के लिए क्या खाएं? एक्सपर्ट से जानें इन 6 चीजों के बारे में

कोलेस्ट्रॉल करे कम

ऊलांग टी में एंटीऑक्सीडेंट्स की मात्रा भरपूर रूप से होती है। नियमित रूप से उलांग टी का सेवन करने से आपके दिल का स्वास्थ्य बेहतर होगा। कई रिसर्च में पाया गया है कि उलांग टी के सेवन से कोलेस्ट्रॉल लेवल को कंट्रोल किया जा सकता है। इसके सेवन से हृदय रोग के खतरे को कम कर सकते हैं। 

मस्तिष्क को करे शांत

मस्तिष्क को शांत रखने में उलांग टी काफी मददगार साबित हो सकता है। यह ब्रेन के फंक्शन को सुधारने में आपकी मदद करता है। कुछ स्टडीज में देखा गया है कि उलांग टी के सेवन से ब्रेन अच्छे से कार्य करता है। इससे मेमोरी पावर मजबूत होती है। साथ ही अल्जाइमर्स जैसी बीमारियों से भी बचा जा सकता है। 

इसे भी पढ़ें - जड़ वाली सब्जी 'कसावा' से बनाया जाता है साबूदाना, जानें सेहत के लिए कितना फायदेमंद या नुकसानदायक है कसावा

हड्डियों को रखे मजबूत

हड्डियो को मजबूत बनाए रखने में भी उलांग टी आपकी मदद कर सकता है। इससे आपके दांतों की हड्डियां भी मजबूत होती है। दरअसल, इस चाय में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स हड्डियों और दांतों को मजबूत करने में आपकी मदद करते हैं। इसके साथ ही यह महिलाओं में होने वाली मोनोपॉज की समस्याओं को भी कम करता है। इसके सेवन से पाचन क्रिया को भी बेहतर किया जा सकता है। 

Read More Articles on Healthy Diet in hindi 

Disclaimer