तेल मसाले वाले खाने के साथ जरूर खाएं तिल से बनी ये खास चटनी, फैट रहेगा कम और कोलेस्ट्रॉल होगा कंट्रोल

तिल की चटनी मेनोपॉज से गुजर रही महिलाओं के लिए भी फायदेमंद है। इसे खाने से हार्मोनल हेल्थ सही रहता है। आइए जानते हैं तिल की चटनी के फायदे और रेसिपी। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Sep 10, 2021Updated at: Sep 10, 2021
तेल मसाले वाले खाने के साथ जरूर खाएं तिल से बनी ये खास चटनी, फैट रहेगा कम और कोलेस्ट्रॉल होगा कंट्रोल

तिल सेहत के लिए कई तरह से फायदेमंद है। लोग इसे खाने से लेकर लगाने तक के लिए इस्तेमाल करते हैं। पर क्या आपने कभी तिल की चटनी खाई है। जी हां, दक्षिण भारत में तिल की चटनी कई प्रकारों से बनाई और खाई जाती है। तिल की चटनी खाने का सबसे बड़ा फायदा ये है कि ये आयरन से भरपूर है और शरीर में खून की कमी को दूर करता है। ये चटनी फाइबर से भरपूर भी है जो कि पेट साफ करती है और अपच और एसिडिटी जैसी परेशानियों से बचाती है। ये एंटी इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर है जो कि शरीर में सूजन को कम करने में मदद करती है। साथ ही सबसे बड़ी खास बात ये है कि ये डायबिटीज, ब्लड प्रेशर और हड्डियों से जुड़ी परेशानियों से जूझ रहे लोगों के लिए भी फायदेमंद है। तो, आइए जानते हैं तिल की चटनी बनाने की रेसिपी और इसे खाने के फायदे।

Insidetilkichutney

image credit: Palate's Desire

तिल की चटनी बनाने की रेसिपी - til ki chutney recipe

1. तिल की सूखी चटनी

तिल की चटनी बनाने के लिए आप काला या सफेद तिल किसी का भी इस्तेमाल करते हैं। हालांकि काला और सफेद तिल दोनों ही स्वास्थ्य के लिए अलग-अलग तरीके से फायदेमंद हैं पर आप चटनी बनाने के लिए इन दोनों में से वो तिल चुनें जिसका स्वाद आपको अच्छा लगे। सफेद तिल खाने में ज्यादा टेस्टी होता है और काला तिल सफेद तिल की तुलना में थोड़ा कड़वा लगता है। तो, आप अपने स्वादानुसार तिल चुनें और इसने चटनी बनाना शुरू करें। 

  • - 1 कप काला या सफेद तिल लें
  • -2 लाल मिर्च तवे पर गर्म कर रख लें। 
  • -4 लहसुन की कली ले लें।
  • -2 चम्मच जीरा लें।
  • -1 चम्मच हींग
  • -नमक

अब एक पैन लें और इसमें तिल डाल कर लगभग 5 मिनट तक धीमी आंच पर भूनें। ध्यान रखें कि तिल जले नहीं। अब इसे एक प्लेट में निकाल लें और ठंडा होने दें। अब मिक्सर में भूना हुआ तिल और लाल मिर्च, लहसुन, जीरा, हींग और नमक डालें। सभी को दरदरा पीस लें। तो, हो गई तैयार आपकी ड्राई तिल की चटनी।

Inside3drytilchutney

image credit: SPICEography

इसे भी पढ़ें : National Nutrition Week 2021: प्रेग्नेंसी के दौरान थाली में जरूरी हैं ये 5 पोषक तत्व, दूर रहेंगी कई बीमारियां

2.  तिल की गीली चटनी

तिली की गीली चटनी खाने में बहुत टेस्टी होती है। इसे खाने से आप मतली और अपच की समस्या से तुरंत आराम पा सकते हैं। खास कर कि जब आप तला-भूना कुछ खा रहे हों और आपको एसिडिटी का डर हो। तो इस चटनी को बनाने के लिए पहले

  • -सबसे पहले काला या सफेद तिल जिस भी तिल से आपको चटनी बनानी है उसे भून कर रख लें। 
  • -उसके बाद 1 चम्मच धनिया के बीज को भी भून कर रख लें। 
  • -भूनते समय इसमें कसा हुआ नारियल, 1 लाल मिर्च और थोड़ा सा जीरा  डालें।
  • -सबको हल्की आंच पर भूनें और और अब मिक्सर में पीस कर चटनी बना लें। 
  • -ज्यादा स्वाद के लिए इसमें ऊपर से करी पत्ता और सरसों के बीज का तड़का लगा लें। 

तिल की चटनी के फायदे -Til ki chutney benefits

1.  एंटीऑक्सीडेंट से है भरपूर 

तिल के बीज एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर है जो कि इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करता है। साथ ही ये ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने में मदद करता है और कोशिकाओं को इसके नुकसान से बचाते हैं। इसके इस गुण का सबसे ज्यादा फायदा दिल से जुड़ी बीमारियों के रोगी को होता है। जो कि इस चटनी का रेगुलर सेवन कर दिल की कोशिकाओं और सेल्स को हेल्दी रख सकते हैं।

Inside1oilyfoods

इसे भी पढ़ें : PCOD से परेशान महिलाएं सुबह से रात तक के रूटीन में शामिल करें ये 5 आदतें, जल्द दूर होगी समस्या

2. फैट पचाने में मददगार

अगर आप कुछ तला भुना खा रहे हैं तो आपको इसके साथ तिल की चटनी ज्यादा मात्रा में खानी चाहिए। दरअसल, तिल आपके मेटाबोलिज्म को तेज करता है और फैट पचाने में मदद करता है। इससे आप जो भी तला-भुना खा रहे होते हैं वो तेजी से पच जाता है और आपको एसिडिटी और अपच की शिकायत भी नहीं होती।

3. कोलेस्ट्रॉल कम करती है

आप अगर कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल करना चाहते हैं तो आपको तिल की चटनी जरूर खानी चाहिए। दरअसल, इसे खाने से हाई कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने में मदद मिल सकती है। तिल की चटनी में  पॉलीअनसेचुरेटेड और मोनोअनसैचुरेटेड फैट होता है। इसे खाने से आपके कोलेस्ट्रॉल को कम करने में और हृदय रोग के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।

तो, ये थे तिल की चटनी खाने के फायदे और इसे बनाने का तरीका। अगर आपने कभी तिल की चटनी नहीं खाई है तो, आप इसे अपने घर में बनाएं और भजिया, समोसे और पकौड़े के साथ इसका सेवन करें। 

Main image credit: pinterest and Masalachilli

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer