Doctor Verified

साउथ कोरिया: भगदड़, हार्ट अटैक और मौत का खौफनाक मंजर, अब तक 151 लोगों की मौत, जानें क्या है वजह

South Korea Hallowean Stampade: दक्षिण कोरिया में हेलोवीन पार्टी के दौरान भगदड़ और हार्ट अटैक के कारण सैकड़ों लोगों की जान चली गयी, पढ़ें रिपोर्ट। 

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghUpdated at: Oct 30, 2022 14:03 IST
साउथ कोरिया: भगदड़, हार्ट अटैक और मौत का खौफनाक मंजर, अब तक 151 लोगों की मौत, जानें क्या है वजह

South Korea Hallowean Stampade: दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में हेलोवीन पार्टी के दौरान मौत का ऐसा खौफनाक मंजर देखने को मिला जिससे पूरी दुनिया की आँखे नाम हो गयीं। रिपोर्ट्स के मुताबिक पार्टी में लगभग 1 लाख लोगों की भीड़ थी जिसमें भगदड़ मचने पर सैकड़ों लोग बेसुध होकर जमीन पर गिरे। जान बचाने की जद्दोजहद में सैंकड़ों लोगों को सड़क पर सीपीआर (हार्ट अटैक आने पर दी जाने वाली प्राथमिक चिकित्सा) देते हुए देख लोगों का कलेजा निकल गया। खबर यह है कि सियोल में आयोजित हेलोवीन पार्टी में लाखों लोगों की भीड़ मौजूद थी। भीड़ ज्यादा होने के कारण लोगों को सांस लेने में भी तकलीफ हो रही थी और इसी वजह से भगदड़ मची और भगदड़ के बीच दिल का दौरा पड़ने से सैकड़ों लोगों की जान चली गयी। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक इस घटना में लगभग 151 लोगों की मौत हुई है जिनमें दर्जनों विदेशी लोग भी शामिल हैं। दुनिया के तमाम प्रमुख देशों के राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और बड़े पदों पर कायम लोगों ने इस घटना पर दुःख व्यक्त किया है। 

हेलोवीन का जश्न बदला मातम में- Halloween Horror In South Korea in Hindi

इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर साझा किये गए सैकड़ों वीडियो और तस्वीरों में साफ देखा जा सकता है कि भगदड़ के दौरान लोग अपनी जान बचाने के लिए आखिरी प्रयास कर रहे थे। इस घटना में मृतकों की संख्या के और ज्यादा होने की आशंका है। घटना के बाद मौके पर प्रशासन की तरफ से मेडिकल टीम और सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस फोर्स तैनात की गयी है। नेशनल फायर एजेंसी के एक अधिकारी चोई चेओन-सिक के बयान के मुताबिक इस घटना में लगभग 50 से ज्यादा लोगों को मौके पर हार्ट अटैक (Heart Attack) आया जिसकी वजह से उनकी मौत हो गयी है। इसके अलावा इस घटना में घायल हुए लोगों का इलाज चल रहा है।

South Korea Hallowean Stampade

इसे भी पढ़ें: युवाओं में क्यों बढ़ रहे हैं अचानक कार्डियक अरेस्ट के मामले? हार्ट के डॉक्टर से जानें इसका कारण और इलाज

सड़क पर सीपीआर, मौत का खौफनाक मंजर- Cardiac Arrest CPR and Death in Seoul

दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में हुई इस घटना की वायरल तस्वीरों में सड़क पर मौत का खौफनाक मंजर देखने को मिला, जिससे सबकी आंखें नाम हो गयी। बताया जा रहा है कि घटना के दौरान सैकड़ों लोगों को हार्ट अटैक या कार्डियक आया, जिसके बाद सड़क पर ही लोग एक दूसरे की जान बचाने के लिए सीपीआर देने लगे। सड़क पर बेसुध पड़े लोगों को सीपीआर देकर जन बचाने का यह दृश बड़ा ही भयावह है। हालांकि इस घटना में हुई मौत के कारणों के बारे में अभी कोई आधिकारिक सूचना सामने नहीं आई है, लेकिन कुछ रिपोर्ट में वीडियो के आधार पर यह कहा जा रहा है कि ज्यादातर लोगों की मौत हार्ट अटैक आने के कारण हुई है।

नाचते-गाते क्यों हो रहे हैं लोग हार्ट अटैक के शिकार?- Sudden Cardiac Arrest Death Causes in Hindi

दक्षिण कोरिया में हुई इस घटना के बाद एक बार फिर यह सवाल उठ पड़ा है कि आखिर क्यों लोगों की मौत चलते-फिरते, नाचते-गाते कार्डियक अरेस्ट या हार्ट अटैक होने के कारण हो रही है। इस घटना में भगदड़ और सांस लेने में तकलीफ होने पर लोगों को अचानक कार्डियक अरेस्ट या हार्ट अटैक की समस्या हुई जिसकी वजह से सैकड़ों लोग मौत का शिकार हो गए। लेकिन यह केवल एक घटना नहीं है। भारत में भी तमाम ऐसे मामले सामने आए हैं जहां लोगों की मौत अचानक नाचते-गाते या एक्सरसाइज करते हुई है। इन सभी मौतों में एक चीज जो कॉमन है वह है कार्डियक अरेस्ट के कारण मौत। मौत की इन घटनाओं और अचानक हो रहे कार्डियक अरेस्ट (Sudden Cardiac Arrest in Hindi) के पीछे लोगों की मौजूदा जीवनशैली और खानपान को जिम्मेदार माना जा रहा है। बीते कुछ सालों में युवाओं में भी कार्डियक अरेस्ट के मामले बहुत ज्यादा देखे गए हैं। लखनऊ के मशहूर कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. केके कपूर कहते हैं कि सियोल में हुई घटना की पूरी रिपोर्ट सामने आने के बाद ही चीजों को स्पष्ट रूप से बताया जा सकता है, लेकिन जिस तरह से ऐसी घटनाएं बढ़ रही हैं वह चिंताजनक है।

इसे भी पढ़ें: बीते 2 साल में केके समेत इन हस्तियों की हार्ट अटैक से गयी जान, जानें कम उम्र में क्यों बढ़ रहे हैं ऐसे मामले

डॉ. कपूर कहते हैं कि तनाव भरी जीवनशैली, खानपान में गड़बड़ी और क्षमता से अधिक एक्सरसाइज करने के कारण भी ऐसी घटनाएं तेजी से बढ़ी हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के एक आंकड़े के मुताबिक साल 2030 तक दुनियाभर में होने वाली मौतों में हार्ट अटैक और कार्डियक अरेस्ट पहले स्थान पर होगा। इसको लेकर दुनियाभर में शोध और अध्ययन जारी है लेकिन इन सबके पीछे लोगों की लापरवाही, खानपान में गड़बड़ी, नींद की कमी, तनाव भरी जीवनशैली और स्मोकिंग आदि को प्रमुखता से जिम्मेदार माना जा रहा है।

हार्ट अटैक या कार्डियक अरेस्ट से कैसे बचें?

  • तनाव और चिंता की समस्या बढ़ने पर एक्सपर्ट डॉक्टर से इलाज जरूर कराएं
  • खानपान और लाइफस्टाइल में बदलाव करें
  • अल्कोहल के सेवन से बचें
  • स्मोकिंग की लत को छोड़ें
  • जंक फूड्स या प्रोसेस्ड फूड का सेवन न करें
  • चीनी और साल्ट के सेवन से भी परहेज रखें
  • हार्ट के लिए फायदेमंद ताजे फल और सब्जियों का सेवन करें
  • रोजाना एक्सरसाइज या योग जरूर करें
  • सकारात्मक दृष्टिकोण (पॉजिटिव थिंकिंग) बनाए रखें, इससे स्ट्रेस को दूर करने में फायदा मिलेगा
  • लक्षण दिखने पर लापरवाही न बरतें

दक्षिण कोरिया के सियोल में हुई यह घटना पूरी दुनिया के लोगों के लिए एक सबक है। तेजी से बढ़ रहे हार्ट अटैक और कार्डियक अरेस्ट के मामले सामान्य नहीं है। खासतौर से युवाओं में हार्ट अटैक के मामले बढ़ना बड़ी चिंता का विषय है। स्वस्थ जीवनशैली और पौष्टिक खानपान के जरिए आप इसके जोखिम को कम कर सकते हैं।

(Image Courtesy: Twitter)

 

Disclaimer