Doctor Verified

बादाम और खसखस के फायदे: दूध में बादाम और खसखस मिलाकर पीने से सेहत को मिलते हैं ये 9 लाभ

khaskhas badam doodh: हेल्दी रहने के लिए दूध पीना जरूरी होता है। लेकिन अगर दूध में बादाम और खसखस मिला लिया जाए, तो इसके फायदे कई गुना बढ़ जाते हैं।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatUpdated at: Jan 05, 2022 10:20 IST
बादाम और खसखस के फायदे: दूध में बादाम और खसखस मिलाकर पीने से सेहत को मिलते हैं ये 9 लाभ

Khaskhas Badam Doodh: स्वस्थ रहने के लिए डॉक्टर हमेशा दूध पीने की सलाह देते हैं। दूध में कैल्शियम, प्रोटीन होता है, जो सेहत के लिए जरूरी होते हैं। अगर आपको सिर्फ दूध पीना पसंद नहीं है, तो आप इसमें बादाम और खसखस मिलाकर पी सकते हैं। इससे दूध का स्वाद और पोषक तत्व दोनों बढ़ेंगे। दूध में बादाम और खसखस मिलाकर (badam khaskhas ke fayde) पीने से सेहत को कई लाभ मिलते हैं। इस दूध को रोजाना पीने से इम्यूनिटी बढ़ती है, हड्डियां मजबूत बनती हैं, वेट कंट्रोल में रहता है और कब्ज की समस्या से भी राहत मिलती है। दूध में बादाम और खसखस मिलाकर पीने से होने वाले फायदों के बारे में विस्तार से जानने के लिए हमने राम हंस चेरिटेबल हॉस्पिटल के आयुर्वेदाचार्य श्रेय शर्मा से बातचीत की-(badam khaskhas ke fayde)-

बादाम में पोषक तत्व (Almond Nutrition)

बादाम (badam ke fayde) में प्रोटीन, विटामिन ई, फाइबर और ओमेगा 3 काफी अच्छी मात्रा में होता है। इसके अलावा बादाम में मोनोअनसैचुरेटेड फैट, मैग्नीशियम, नियासिन, राइबोफ्लेविन तत्व पाए जाते हैं। इसलिए बादाम (almond benefits) को सेहत के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है।

almond milk benefits

खसखस के पोषक तत्व (khaskhas nutrition value)

खसखस में प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम और फास्फोरस पर्याप्त मात्रा में होता है। इसके अलावा खसखस (khaskhas se fayde) में आयरन की अच्छी मात्रा में होता है। खसखस कैलोरी और फैट भी होता है, लेकिन वेट लॉस (weight loss) के दौरान इसका सेवन डायटीशियन की सलाह पर ही करना चाहिए।

बादाम और खसखस के फायदे (poppy seeds and almond milk benefits)

बादाम और खसखस दोनों सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। ये दोनों प्रोटीन, कैल्शियम और आयरन का अच्छा सोर्स हैं। अगर बादाम और खसखस को दूध के साथ मिलाकर लिया जाए, तो इससे सेहत को कई लाभ हो सकते हैं। badam and khaskhas ke fayde 

1. शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए (immunity booster food)

सर्दियों में इम्यूनिटी कमजोर पड़ जाती है, ऐसे में बादाम और खसखस का सेवन दूध के साथ किया जाए तो इम्यूनिटी में सुधार होता है। इस दूध को रोजाना पीने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत (immunity) बनती है। आप जल्दी से बीमार भी नहीं पड़ेंगे।

इसे भी पढ़ें - सुबह खाली पेट बादाम खाने से मिलते हैं ये 5 फायदे, जानें कुछ नुकसान भी

2. वेट लॉस सहायक (weight loss food)

बादाम और खसखस वाला दूध काफी हेल्दी होता है। अगर आप वेट लॉस करना चाहते हैं, तो भी इसे अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इस दूध में फाइबर अच्छी मात्रा में होता है, जिससे भूख कम लगती है और वेट लॉस में सहायता मिलती है।

3. हड्डियां मजबूत बनाए (strong bones food)

दूध और खसखस में पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम होता है। अगर आप हड्डियों, जोड़ों में दर्द से परेशान हैं या फिर आपकी हड्डियां कमजोर हैं, तो आप बादाम और खसखस वाला दूध पी सकते हैं। इससे हड्डियां मजबूत (strong bones) बनती हैं और हड्डियों से जुड़े रोग भी दूर होते हैं।

पदै ूद मदलूीदत वतदद् जीाेेहीा

4. ब्लड प्रेशर कंट्रोल रखे (how to control blood pressure)

बादाम वाला दूध ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल में रखने में मदद करता है। इसमें पोटैशियम होता है, जो ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखने में सहायक होता है। लेकिन अगर आपका ब्लड प्रेशर पहले से ही बढ़ा हुआ है, तो आपको इसका सेवन डॉक्टर की सलाह पर ही करना चाहिए।

5. मांसपेशियां मजबूत बने (how to make muscles strong)

बादाम और खसखस वाले दूध पोषक तत्वों से भरपूर होता है। ऐसे में इस दूध को रोजाना पीने से मांसपेशियां मजबूत बनती हैं। मांसपेशियों का विकास तेज होता है। दरअसल, मांसपेशियों के विकास के लिए प्रोटीन बहुत जरूरी होता है। इस दूध में प्रोटीन अच्छी मात्रा में होता है, जिससे मांसपेशियां मजबूत बनती हैं।

6. कब्ज से राहत दिलाए (how to get rid from constipation)

पेट से जुड़ी समस्याओं में कब्ज एक सामान्य समस्या है। आजकल अधिकतर लोग कब्ज की समस्या का सामना कर रहे हैं। बादाम और खसखस वाले दूध में फाइबर पाया जाता है। ऐसे में बादाम और खसखस दूध कब्ज से राहत दिलाने में मदद करता है।

इसे भी पढ़ें - विटामिन E के कारण बालों के लिए बेस्ट होता है बादाम का तेल, जानें इसके फायदे और इस्तेमाल के 3 तरीके

7. अनिद्रा की समस्या दूर करे (how to get rid from insomnia)

अनिद्रा यानी रात भर नींद न आना। बादाम और खसखस का दूध अनिद्रा की समस्या को भी दूर करता है। कुछ दिनों तक लगातार इस दूध को पीने से अनिद्रा की समस्या दूर होती है और नींद काफी अच्छी आती है। अगर आपको नींद नहीं आती है, तो आप रात के समय इस दूध का सेवन कर सकते हैं।

8. एनीमिया की समस्या से दूर करे (anemia foods to eat)

आजकल महिलाओं में एनीमिया की समस्या काफी आम हो गई है। एनीमिया यानी शरीर में खून की कमी। अधिकतर महिलाओं को इस समस्या का सामना करना पड़ता है। ऐसे में बादाम और खसखस का दूध पीना फायदेमंद होता है। इसमें आयरन होता है, जिससे एनीमिया की समस्या दूर होती है।

9. डिप्रेशन और तनाव कम करे (how to get rid from stress and depression)

बादाम, खसखस का दूध पीने से डिप्रेशन और तनाव में भी आराम मिलता है। आजकल अधिकतर लोग तनाव का सामना कर रहे हैं, ऐसे में वे डिप्रेस्ड रहते हैं। अगर आप भी तनाव, चिंतित रहते हैं तो बादाम और खसखस वाला दूध पी सकते हैं।

आयुर्वेद के अनुसार पित्त प्रकृति के लोगों को हमेशा बादाम भिगोकर ही सेवन करना चाहिए। बादाम की तासीर बेहद गर्म होती है, इससे त्वचा पर रैशेज, जलन या एलर्जी हो सकती है। जबकि बादाम को भिगोकर खाने से उनकी तासीर सामान्य हो जाती है। ऐसे में पित्त प्रकृति वाले लोग भी आसानी से बादाम, खसखस वाले दूध का सेवन कर सकते हैं।

बादाम और खसखस दूध बनाने का तरीका 

  • बादाम और खसखस का दूध बनाना काफी आसान है। इसके लिए सबसे पहले बादाम को 2-4 घंटे के लिए भिगोकर रख दें।
  • इसके बाद एक गिलास दूध में खसखस और बादाम को छिलकर डाल दें। 
  • आप चाहें तो इसे मिक्सी में डालकर ग्रांइड भी कर सकते हैं।  
  • इसके अलावा आप चाहें तो इसमें पिस्ता भी डाल सकते हैं।
  • अगर आप इसे थोड़ी मीठी बनाना चाहते हैं, तो शहद मिला सकते हैं।
  • इससे दूध का स्वाद भी बढ़ेगा और पौष्टिक भी बनेगा।

आप भी बादाम और खसखस वाले दूध को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। इसे पीने से हड्डियां मजबूत बनती हैं और इम्यूनिटी भी तेज होती है। लेकिन इसे पीने से पहले आपको डॉक्टर की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

Disclaimer