रातभर नींद न आना हो सकती है अनिद्रा की समस्या, जानें क्या है इसके लक्षण और बचाव के तरीके

अगर आपको भी रात-रातभर नींद न आने की समस्या है तो जान लें हो सकती है ये अनिद्रा की समस्या, इस तरह इसे पहचानें और अपनाएं ये घरेलू इलाज।

Vishal Singh
विविधWritten by: Vishal SinghPublished at: Dec 26, 2012
रातभर नींद न आना हो सकती है अनिद्रा की समस्या, जानें क्या है इसके लक्षण और बचाव के तरीके

अपने शरीर को आराम देना और अगले दिन के लिए पूरी तरह से खुद को तैयार करने के लिए नींद का पूरा होना बहुत जरूरी है। पूरे दिन काम करने के बाद थकावट उतारने के लिए नींद ही एक बेहतर जरिया है, जिसकी मदद से आप मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ रह सकते हैं और अगले दिन काम करने के लिए तैयार रहते हैं। लेकिन कई लोग ऐसे भी हैं जो नींद न आने के कारण परेशान रहते हैं। 

आप में से ज्यादातर लोगों को नींद आती है, लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें नींद ही नहीं आती यानी उन्हें अनिद्रा (Insomnia) की समस्या होती है। अनिद्रा की समस्या में रात-रातभर लोग जागते हैं और नींद न आने के कारण चिड़चिड़ा बर्ताव करने लगते हैं। इसके पीछे तनाव या टेंशन जैसी समस्याएं हो सकती है। लेकिन इससे समस्या से छुटकारा पाना बहुत जरूरी होता है नहीं तो ये आपके लिए आगे चलकर खतरनाक साबित हो सकती है। आइए पहले तो आपको बताते हैं कि अनिद्रा क्या है और इसके मुख्या कारण क्या है और इससे कैसे अपना बचाव किया जा सकता है। 

insomnia

क्या है अनिद्रा ? (What is Insomnia in Hindi) 

रात-रातभर तक नींद न आने का कारण है अनिद्रा की समस्या होना, अनिद्रा को इंसोमनिया(Insomnia) भी कहा जाता है। अनिद्रा नींद से जुड़ा एक प्रकार का विकार है, जो पीड़ित को नींद न आने का कारण बनता है। यानी आसान भाषा में कहें तो नींद न आने के कारण सोने में परेशानी होना या फिर नींद ही न आना। जिसकी वजह से पर्याप्त नींद न होने के कारण ज्यादा थकावट महसूस होती है। अगर किसी भी शख्स पर अनिद्रा ज्यादा दिनों तक हावी रह जाए, तो पीड़ित कई तरह की मानसिक और शारीरिक समस्याओं की चपेट में आ सकता है।

अनिद्रा के कारण (Causes of Insomnia) 

  • तनाव।
  • चिंता।
  • सीने में जलन महसूस होने के कारण। 
  • किसी प्रकार का स्ट्रोक।
  • किसी दवाई का दुष्प्रभाव।
  • नींद से जुड़े विकार।
  • सिरदर्द
  • अस्थमा और ह्रदयाघात
  • रजोनिवृत्ति

अनिद्रा के प्रकार (Types of Insomnia)

क्रॉनिक इंसोमनिया (Chronic insomnia): क्रॉनिक इंसोमनिया अनिद्रा का एक गंभीर प्रकार है जिसमें महीने भर से ज्यादा आपको नींद न आने की परेशानी हो सकती है। कई मामलों में अनिद्रा का यह प्रकार किसी अन्य शारीरिक बीमारी के दुष्प्रभाव के रूप में भी आ सकता है।

एक्यूट इंसोमनिया (Acute insomnia): एक्यूट इंसोमनिया अनिद्रा की वो स्थिति है जिसमें आपको कुछ दिनों या कुछ हफ्तों तक नींद न आने की परेशानी हो सकती हैं। यह अनिद्रा का आम प्रकार है, जो काम या किसी प्रकर के तनाव के कारण भी हो सकता है। 

लक्षण (Symptoms of Insomnia in Hindi)

  • रात में देर तक जागना।
  • नींद न पूरी होने के कारण थकावट महसूस होना। 
  • सोने से पहले देर तक जागना।
  • सोने के लिए अलग-अलग तरह के तरीके अपनाना।
  • देर से सोने के बाद जल्दी उठ जाना।

इसे भी पढ़ें: नींद पूरी न होने के संकेत हैं शरीर में दिखने वाले ये 7 लक्षण, खतरनाक हैं ये

घरेलू उपचार (Home Remedies for Insomnia)

शहद 

शहद हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है, इसी तरह ये अनिद्रा (Insomnia) की समस्या को दूर करने में भी कारगर है। शहद का इस्तेमाल कर आप अनिद्रा की समस्या से तुरंत छुटकारा पा सकते हैं। शहद में ग्लूकोज की मात्रा काफी कम होती है, जो ओरेक्सिन को बंद करने के लिए मस्तिष्क के साथ संचार करता है। शहद नींद से जुड़ी परेशानियों को दूर करने का काम करता है। इसके लिए आप रोजाना सोने से पहले शहद का सेवन कर सकते हैं।

अरंडी का तेल

अनिद्रा (Insomnia) से राहत पाने के लिए अरंडी का तेल भी असरदार होता है, आप इस तेल की मदद से नींद को पूरा करने में इसका सहारा ले सकते हैं। ये आपकी नींद को बढ़ावा देने का काम करता है। आपको बता दें कि नींद लाने के लिए इस तेल का इस्तेमाल लंबे समय से किया जा रहा है। इसके लिए आप रोजाना सोने से पहले अपनी आंखों के ऊपर इस तेल को लगाएं और हल्के हाथों से मसलें। 

फिश ऑयल

फिश ऑयल में ओमेगा-3 फैटी एसिड भरपूर मात्रा में होता है और ये नींद पूरी करने के लिए असरदार माना जाता है। एक अध्ययन के अनुसार, ओमेगा फैटी एसिड नींद विकारों को ठीक करने का काम कर सकता है। इसलिए जिन लोगों को नींद की समस्या होती है वो लोग फिश ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप चाहें तो फिश ऑयल का सेवन इसके कैप्सूल के रूप में भी कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक है अधूरी नींद

लहसुन

लहसुन भी हमारे स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा माना जाता है, ये हमारी कई समस्याओं को दूर करने का काम करता है। लहसुन का इस्तेमाल कर आप अनिद्रा (Insomnia) की समस्या को भी दूर कर सकते हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार, लहसुन अवसाद और चिंता से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकता है, जिससे आसीन से नींद लाने में इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए आपको लहसुन को दूध में डालकर उबालना होगा और रात में सोने से पहले रोजाना इसका सेवन करना चाहिए। इससे आप जल्द से जल्द अनिद्रा से छुटकारा पा सकते हैं। 

Read More Article on Miscellaneous In Hindi

Disclaimer