पैकेट वाले फ्रूट जूस सेहत को इन 5 तरीकों से पहुंचा सकते हैं नुकसान, रहें सावधान

पैकेट वाले फ्रूट जूस पीना सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक होता है, जानें इससे सेहत को होने वाले नुकसान।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jun 22, 2022Updated at: Jun 24, 2022
पैकेट वाले फ्रूट जूस सेहत को  इन 5 तरीकों से पहुंचा सकते हैं नुकसान, रहें सावधान

Packaged Juice Side Effects: आज के समय में रेडी टू ईट फूड्स के सेवन का चलन तेजी से बढ़ रहा है। सुबह के नाश्ते से लेकर रात के डिनर तक लोग रेडी टू ईट फूड्स का सेवन खूब करते हैं। मार्केट में तमाम तरह के पैकेज्ड फ्रूट जूस (पैकेट वाले जूस) मिलते हैं। लोग अच्छी सेहत के लिए फलों के जूस का सेवन करते हैं लेकिन भागदौड़ भरी जीवनशैली या आलस की वजह से ताजे फलों का जूस पीने की जगह पर डिब्बाबंद जूस का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि पैकेट वाले फ्रूट जूस का सेवन आपकी सेहत को गंभीर नुकसान पहुंचा सकता है। दरअसल इसे सुरक्षित रखने के लिए पैकिंग से पहले कई तरह के ट्रीटमेंट से गुजरना पड़ता है और इसमें प्रिजर्वेटिव भी मिलाए जाते हैं। यही कारण है कि एक्सपर्ट हमेशा लोगों को पैकेट वाले जूस से बचने की सलाह देते हैं। इस लेख में आइए विस्तार से जानते है पैकेट वाले फ्रूट जूस पीने के नुकसान के बारे में।

पैकेट बंद फ्रूट जूस पीने के नुकसान (Packaged Juice Side Effects in Hindi)

पैकेट वाले फ्रूट जूस न सिर्फ सेहत के लिए नुकसानदायक होते हैं बल्कि कई लोगों को इसका सेवन करने से गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। बच्चों के लिए पैकेट वाले फ्रूट जूस बहुत ज्यादा नुकसानदायक माने जाते हैं। इसमें इस्तेमाल किये गए आर्टिफीसियल कलर और अन्य हानिकारक केमिकल्स सेहत के लिए नुकसानदायक होते हैं। अगर आप भी ताजे फलों के जूस की जगह पर हमेशा पैकेट वाले फ्रूट जूस का सेवन करते हैं तो आपको ये गंभीर नुकसान हो सकते हैं-

इसे भी पढ़ें: आयुर्वेद के अनुसार रोज क्या खाना चाहिए? जानें 10 फूड्स

packaged fruit juice Side effects

1. बच्चों के लिए नुकसानदायक

पैकेज्ड जूस को सुरक्षित रखने और लंबे समय तक खराब होने से बचाने के लिए इसमें कई तरह के केमिकल्स मिलाए जाते हैं। इसलिए इसका सेवन बच्चों के लिए बहुत हानिकारक हो जाता है। अगर आप भी बच्चे को लगातार पैकेट वाले फ्रूट जूस पीने के लिए देते हैं तो उन्हें इसके बजाय ताजे फल दें या ताजे फलों का जूस घर पर निकालकर पिलाएं। पैकेट वाले जूस की वजह से बच्चों को स्किन एलर्जी, फूड एलर्जी जैसी कई गंभीर समस्याएं हो सकती हैं।

2. डायरिया समेत पेट से जुड़ी बीमारियों का खतरा

पैकेट बंद फ्रूट जूस पीने से आपको डायरिया, कब्ज और पाचन तंत्र से जुड़ी कई अन्य बीमारियों का खतरा रहता है। पैकेट वाले जूस में फाइबर की मात्रा बहुत कम होती है जिसकी वजह से इसका सेवन पाचन तंत्र के लिए नुकसानदायक होता है। रोजाना पैकेज्ड फ्रूट जूस पीने वाले लोगों को इसका खतरा ज्यादा रहता है।

इसे भी पढ़ें: तांबे के बर्तन में रखा पानी भी सेहत को पहुंचा सकता है नुकसान, जानें कब नहीं पीना चाहिए इसे

3. दिमाग से जुड़ी समस्याओं का खतरा

मार्केट में मौजूद लगभग सभी पैकेट वाले फ्रूट जूस  को बनाते समय इसमें कार्बनिक, आर्सेनिक, कैडमियम और मरकरी जैसे केमिकल्स मिलाए जाते हैं। इसका सेवन बच्चों के दिमाग पर बुरा असर डालता है। पैकेट वाले जूस में मौजूद मेटल नर्वस सिस्टम को प्रभावित करते हैं और ब्रेन के विकास में बाधा बनते हैं। एनसीबीआई की रिपोर्ट में भी इस बात की पुष्टि की गयी है।

4. डायबिटीज का रहता है खतरा

पैकेट बंद फ्रूट जूस में सामान्य जूस की तुलना में शुगर की मात्रा ज्यादा होती है और इसमें आर्टिफिशियल कलर भी मिलाया जाता है। लंबे समय तक इसका सेवन करने से डायबिटीज की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे लोग जिनके शरीर का ब्लड शुगर हाई है उन्हें ऐसे जूस का सेवन करने से बचना चाहिए।

5. हो सकते हैं मोटापे की समस्या के शिकार

पैकेज्ड फ्रूट जूस का लगातार लंबे समय तक सेवन करने से आपको मोटापे की समस्या का खतरा रहता है। इसमें शुगर की मात्रा अधिक होती है जिसकी वजह से आपका वजन बढ़ सकता है। इसके अलावा पैकेट फ्रूट जूस हार्मफुल केमिकल और प्रिजरवेटिव शरीर में तेजी से फैलने लगते हैं जिसकी वजह से वजन असंतुलित होने का खतरा रहता है।

इसे भी पढ़ें: टमाटर का जूस पीने से सेहत को मिलते हैं कई फायदे, बूस्ट होती है इम्यूनिटी और स्किन पर आती है चमक

अगर आप भी रोजाना पैकेट वाले फ्रूट जूस का सेवन करते हैं तो ऊपर बताई गयी बातों का ध्यान जरूर रखें। रोजाना पैकेट वाले फ्रूट जूस का सेवन आपकी सेहत को बड़ा नुकसान होता है। इसका सेवन करते समय आपको सावधान रहने की जरूरत है। हमेशा ताजे फलों को वरीयता दें। संभव है तो फलों को साबुत खाएं या घर पर जूस निकालें अथवा बाजार से ताजा जूस लाएं।

(All Image Source - Freepik.com)

Disclaimer