प्रेगनेंसी में डिकैफिनेट कॉफी पीना कितना सुरक्षित है? जानें

बहुत-सी महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान कॉफी पीने का मन करता है। इसलिए गर्भवती महिला कैफीनेटेड कॉफी पीती हैं। ये कितनी सुरक्षित है जानते हैं

Monika Agarwal
स्वस्थ आहारWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jul 22, 2022Updated at: Jul 22, 2022
प्रेगनेंसी में डिकैफिनेट कॉफी पीना कितना सुरक्षित है? जानें

प्रेगनेंसी में डाइट का खास ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है। इस दौरान अनहेल्दी डाइट से पूरी तरह से परहेज करने की सलाह दी जाती है। ऐसे में कई महिलाओं के मन में अकसर सवाल रहता है कि वे प्रेगनेंसी के दौरान कॉफी पी सकती हैं या नहीं? इस लेख में हम बात कर रहे हैं डिकैफिनेट कॉफी की। यानी प्रेगनेंसी में डिकैफिनेट कॉफी पीना सुरक्षित होता है या नहीं? इस पर डॉक्टर रंजना बेकन बताती हैं कि डिकैफिनेट कॉफी लगभग नियमित कॉफी जैसी ही होती है, लेकिन इसमें कैफीन की मात्रा बहुत कम यानी 2-3 प्रतिशत ही होती है। इसलिए गर्भवती महिलाओं के लिए भी इसे अच्छा माना गया है। हेल्थ की दृष्टी से देखें, प्रेगनेंसी में डिकैफिनेट कॉफी पीना फायदेमंद हो सकता है। 

प्रेगनेंसी में कितना कैफीन लेना सुरक्षित है?

एक कप पिसे हुए डिकैफिनेट कॉफी में आमतौर पर 2-5 मिलीग्राम कैफीन होता है। गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं की बात करें, तो उन्हें प्रतिदिन दो सौ मिलीग्राम से अधिक कैफीन का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसे में प्रेगनेंट महिलाएं डिकैफिनेट कॉफी के 2-3 कप ले सकती हैं।

इसे भी पढ़ें- क्या प्रेगनेंसी में चाय-कॉफी पीने से होने वाले बच्चे के रंग पर पड़ता है असर? डॉक्टर से जानें सच्चाई

प्रेगनेंसी में डिकैफिनेट कॉफी के नुकसान

जैसे जरूरत से ज्यादा किसी चीज का सेवन ठीक नहीं होता है, उसी तरह अधिक डिकैफिनेट कॉफी का सेवन करना भी नुकसानदायक हो सकता है। अधिक कैफीन लेने से प्रेगनेंट महिलाओं और भ्रूण को नुकसान पहुंच सकता है। प्रेगनेंसी में अधिक डिकैफिनेट कॉफी पीने के नुकसान- 

  • पेट खराब होना
  • सिर चकराना या चक्कर आना
  • सोने में कठिनाई
  • बार-बार पेशाब आना
  • तेज हृदय गति 
  • बीपी हाई होना 

बच्चे के लिए डिकैफिनेट कॉफी के नुकसान

  • गर्भावस्था में कैफीन प्लेसेंटा के माध्यम से बच्चे तक जा सकता है। इससे यह बच्चे के टिशू में जमा हो सकता है। 
  • जन्म के समय कम वजन
  • समय से पहले जन्म
  • गर्भपात
  • गर्भ में पल रहे बच्चे की हार्ट रेट बढ़ना। इसे एरिथमिया कहा जाता है।   
  • एनीमिया की समस्या हो सकती है, क्योंकि कैफीन भोजन में मौजूद आयरन के अवशोषण की क्षमता को कम कर देती है। इससे गर्भावस्था के दौरान स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं होने का जोखिम अधिक रहता है। 

डिकैफिनेट कॉफी को गर्भवती महिलाओं के लिए बेहतर विकल्प माना जाता है। कुछ डिकैफिनेट कॉफी ब्रांड में प्रति कप 10-12 मिलीग्राम कैफीन हो सकता है। इसलिए, डिकैफिनेट कॉफी में कैफीन की सही मात्रा जानने के लिए पैकेजिंग या निर्माता की वेबसाइट जरूर देखें। 

Disclaimer