अक्सर रहता है पेट खराब तो कारण हो सकती हैं आपकी ये 10 आदतें, जल्द करें इनमें बदलाव

पेट को स्वस्थ रखने के लिए स्वस्थ आदतें होना बेहद जरूरी है। पर इससे पहले हमें अपनी उन आदतों के बारे में जानना चाहिए जो अनजाने में पेट खराब करते हैं। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Oct 28, 2021Updated at: Oct 28, 2021
अक्सर रहता है पेट खराब तो कारण हो सकती हैं आपकी ये 10 आदतें, जल्द करें इनमें बदलाव

पेट खराब होने का कारण आपका खराब डाइजेस्टिव हेल्थ नहीं है बल्कि आपकी कुछ आदतें भी हैं, जो कि धीमे-धीमे पेट को नुकसान पहुंचाती हैं। दरअसल, पेट का खराब होना आपकी अपनी खराब आदतों का नतीजा है। जी हां, लखनऊ के अवध लाइफ केयर अस्पताल में कार्यरत डॉ. मनीष गुप्ता की मानें तो, हमारी लाइफस्टाल और डाइट से जुड़ी गलत आदतें ही हमारे खराब पाचन तंत्र का कारण बनती हैं। ज्यादातर लोग इस बात पर ध्यान नहीं देते और वे जागरूक भी तब होते हैं जब उन्हें पेट से जुड़ी कोई समस्या होने लगती है। ऐसे में डॉ. मनीष बताते हैं कि हमें सबसे पहले अपने उन आदतों के बारे में जनाना चाहिए जो कि सीधे तौर पर पेट के स्वास्थ्य को प्रभावित करते हैं। उसके बाद हमें अपनी इन आदतों में सुधार लाना चाहिए और कुछ हेल्दी बदलाव करने चाहिए। तो, आइए विस्तार से जानते हैं हमारी उन आदतों के बारे में जो कि हमारे पेट के स्वास्थ्य को प्रभावित करते हैं।

Insidestomachhealth

पेट खराब करने वाली आदतें-Unhealthy habits that can cause stomach issues 

1. खाने का गलत समय 

 डॉ. मनीष बताते हैं कि पेट का स्वास्थ्य सीधे तौर पर हमारे खान-पान से जुड़ा हुआ है।  पर जब आप गलत समय पर खाते हैं तो, असल में सारी परेशानियां वहीं से शुरू हो जाती हैं। जैसे कि सुबह का नाश्ता समय पर ना करना आपमें भूख की क्रेविंग बढ़ाता है और दिन के बाकी खाने को असंतुलित करता है। इसके कारण आप दोपहर में ज्यादा खाना खा लेते हैं और फिर शाम को आपको ब्लॉटिंग की समस्या हो जाती है। उसके अलावा रात को 8 बजे के बाद खाना या फिर लेट नाइट खाना आपके पेट के पीएच लेवन को बिगाड़ देता है और इससे पेट के हेल्दी अस्तर का नुकसान हो जाता है। ऐसे में इन परतों के अस्तर का क्षरण होने से शरीर में एसिडिटी और बढ़ती है और ये पेट की कई अन्य बीमारियों का कारण बन जाता है। इसलिए अपने नाश्ते, लंच और रात के खाने का सही समय तय करें और उसी समय में खाना खा लें। कोशिश करें कि बिस्तर पर जाने से कम से कम दो से तीन घंटे पहले अपना अंतिम भोजन या नाश्ता करके अपने पाचन तंत्र की मदद करें।

2. एक साथ ज्यादा खाना 

ज्यादातर लोगों की आदत होती है कि वे खाना छोड़ देते हैं और एक बार में ही बहुत सारा खाने की कोशिश करते हैं। ये शरीर को अचानक से नुकसान पहुंचाने का काम करता है। दरअसल, इस तरह एक बार में ज्यादा खाने से आपका ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है। इसलिए आपको आराम से थोड़ा-छोड़ा करके दिन भर में कई बार खाने की कोशिश करनी चाहिए।

3. एक जैसी चीजों को खाना

आपको हमेशा कोशिश करनी चाहिए कि आप एक बैलेंस डाइट लें। यानी कि आप हर दिन एक बदल-बदल के चीजों को खाएं। अपने खाने में कुछ साबुत अनाज और रंग-बिरंगी सब्जियों को शामिल करें। खाने में फाइबर, प्रोटीन और कार्ब्स का संतुलन बनाएं। साथ ही आपको अंडा, मीट और मछली आदि का भी सेवन करना चाहिए। फाइबर जहां, आपके पेट में मेटाबोलिज्म और बोवेल मूवमेंट को सही रखता है वहीं, प्रोटीन हार्मोनल हेल्थ और डाइजेस्टिव एंजाइम्स के संतुलन को संतुलित करने में मदद करता है। 

Insidestomachhealthyhabits

4. खाने से पहले या बीच में पानी पीना

आपने सुना होगा कि हमें खाने से पहले या बीच में पानी पीने से बचना चाहिए। पर अक्सर ज्यादातर लोग खाने से पहले पानी पी लेते हैं और या फिर खाने के साथ बीच-बीच में पानी पीते रहते हैं। इससे होता ये है कि पानी आपके पेट की लेयरिंग और आंतों से डाइजेस्टिव एंजाइम्स को धो देता है जिससे खाना पचाना मुश्किल हो जाता है। इसके अलावा खाने से पहले जूस और यहां तक कि चाय पीना भी नुकसानदेह ही होता है। इससे शरीर में सूजन बढ़ती है और ब्लॉटिंग की समस्या हो जाती है। इसलिए भोजन के दौरान या बीच में पानी पीने से बचें।ट

इसे भी पढ़ें : क्या डेंगू संक्रामक रोग है? डॉक्टर से जानें डेंगू कैसे फैलता है

5. सोडा और ऑयली फूड्स 

सोडा और ऑयली फूड्स ये दोनों ही आपके पेट और पाचन के लिए नुकसानदेह है। दरअसल, ऑयली फूड्स पेट में चिकनाहट पैदा करते हैं और मेटाबोलिज्म को धीमा कर देते हैं जिससे खाना आसानी से नहीं पचता है। दूसरा कार्बोनेटेड ड्रिंक सूजन और खट्टी डकार की भावनाओं को बढ़ाता है। साथ ही ये एसिड रिफल्स को भी ट्रिगर करता है। इसके अलावा ऑयली फूड्स कब्ज का भी कारण बनते हैं और पेट से जुड़ी बाकी परेशानियों को बढ़ाते हैं। 

6. जल्दी-जल्दी खाने की आदत

आज कल की व्यस्त जिंदगी में हमें जल्दी-जल्दी खाने की आदत हो गई है। हम जल्दी में होते हैं तो फटाफट खाना खाते हैं और खड़े-खड़े पानी पी कर भाग जाते हैं। ये दोनों ही आदतें पेट के लिए नुकसानदेह है। जल्दी-जल्दी खाना खाने से खाना अच्छे से पचता नहीं है। हमारा पाचन तंत्र और हमारी आंतें इसे अच्छे से पचा नहीं पाती है। इसके अलावा फटाफट खा लेने से हमारे शरीर को ये महसूस ही नहीं होता कि उसने क्या  खाया है और फिर आपको बार-बार क्रेविंग होती रहती है। इससे मोटापा बढ़ता है और मेटाबोलिज्म का स्लो होना बैली फैट बढ़ने का कारण बनता है। 

7.  खाने के बाद तुरंत बैठना या लेटना 

खाने के बाद तुरंत बैठना या लेटने की आदत आपको मोटापा और डायबिटीज जैसी बीमारियों का शिकार तो बना ही सकता है पर कई बार ये पाचन प्रक्रिया में हस्तक्षेप करता है। यानी कि जब आप खाने के बाद सीधे सो जाते हैं तो इसका मतलब है कि आपके शरीर को उन कैलोरी को जलाने का मौका नहीं मिला है। साथ ही आपका पाचन तंत्र भी आपके द्वारा खाए गए भोजन पर काम नहीं कर पाता है जिससे आपको एसिडिटी और अन्य पाचन समस्याएम होती हैं। 

8. पॉटी लगने पर ना जाना

पॉटी लगने पर ना जाना या थोड़ी देर के लिए इसे नजरअंदाज कर देना कब्ज का कारण बन सकता है। दरअसल जब आपका शरीर मल त्याग करना चाहता है तो इसका मतलब ये है कि आपका शरीर पूरे दिन काम कर रहा है और फिर खाने के बाद खाना पच गया है और वेस्ट प्रोडक्ट बाहर आना चाहता है। तो, इस भावना को नजरअंदाज करना स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है। 

Insideunhealthyhabits

इसे भी पढ़ें : जानें दाहिने और बाएं करवट सोने से शरीर को मिलने वाले फायदे और नुकसान के बारे में

10. अनएक्टिव लाइफस्टाइल

अनएक्टिव लाइफस्टाइल आपके पेट के काम काज को नुकसान पहुंचाता है। दरअसल, इससे पाचन क्रिया स्लो हो जाता है। साथ ही आप जो खाते हैं आपके शरीर में ही रह जाता है। जैसे कि शुगर। शुगर जब आपके शरीर में ज्यादा जमा हो जाता है और पसीने के रूप में निकलता नहीं है तो ये मोटापा और डायबिटीज का कारण बनता है। इससे पेट का स्वास्थ्य भी पूरी तरह से प्रभावित होता है। 

10. एंटीबायोटिक दवाओं का ज्यादा सेवन

एंटीबायोटिक दवाओं के लगातार उपयोग से न केवल एंटीबायोटिक प्रतिरोध हो सकता है, बल्कि यह पेट के गुड बैक्टीरिया को भी नष्ट कर सकते हैं।  ये माइक्रोबायोटा की संरचना को खराब करता है और बॉडी के पीएच को भी असंतुलित कर देता है। इससे पेट खराब हो जाता है।

इस तरह ये तमाम आदतें आपके पेट के काम काज को नुकसान पहुंचाते हैं और पेट से जुड़ी गंभीर बीमारियों का भी शिकार बनाते हैं। इसके अलावा एक्सरसाइज ना करना और स्मोकिंग आदि की आदत भी पेट के लिए नुकसानदेह है।

All images credit: freepik

Disclaimer