रात में होती है सीने में जलन की समस्या? डॉक्टर से जानें इसका कारण और बचाव के उपाय

कई लोगों को रात में सीने में जलन-हार्ट बर्न की समस्या सताती है। इसके लिए लाइफस्टाइल व खानपान जिम्मेदार है, डॉक्टर से जानें कैसे करें समस्या से बचाव।

Satish Singh
Written by: Satish SinghPublished at: Sep 15, 2021Updated at: Sep 15, 2021
रात में होती है सीने में जलन की समस्या? डॉक्टर से जानें इसका कारण और बचाव के उपाय

ज्यादातर लोगों को रात में सीने में जलन की समस्या होती है। यह दिन में नहीं होती है रात को ज्यादा होती है। इसके कारण हमारी नींद रात में बार-बार खुल जाती है। इस आर्टिकल में हम जानेंगे रात को ही सोते समय क्यों सीने में जलन की समस्या होती है। एक्सपर्ट के तौर पर एमजीएम अस्पताल जमशेदपुर के डॉक्टर जनरल फिजिशियन सरवार आलम से जानेंगे इसके समाधान के बारे में कि रात में एकाएक सीने में दर्द होने पर क्या करें व क्या नहीं। क्योंकि रात का समय ऐसा समय होता है जब हम किसी एक्सपर्ट की सलाह तक नहीं ले सकते हैं। वहीं बीमारी यदि ज्यादा बढ़ जाए तो कई केस में इमरजेंसी सेवा की जरूरत पड़ती है।

सीने में जलन के ये हैं मुख्य कारण

डॉक्टर बताते हैं कि जब खाने की थैली से खाने की नली में एसिड आता है, तो सीने में जलन की समस्या होती है। रात को सोने के समय यह इसलिए ज्यादा होता क्योंकि लेटे समय गुरुत्वाकर्षण बल (ग्रेविटेशनल फोर्स) के कारण एसिड खाने की थैली से नली में चली जाती है। खड़े होने से ऐसी समस्या नहीं आती है।

Acid Reflux

खाने की नली में वॉल्व में गड़बड़ी है बड़ी वजह

खाने की थैली से नली में एसिड जाने का कारण दोनों बीच का वाल्व होता है। उसकी फंक्शनल गड़बड़ी होने से एसिड थैली से नली में चला जाता है। वाल्व का काम एसिड को रोकना होता है। एसिड अगर खाने की नली में चला जाए तो यह नली को डैमेज करता है।  इससे नली में छाला हो सकता है। छोटे-छोटे दाने हो सकते हैं। इससे अल्सर की भी समस्या आ सकती है। मसालेदार खाने के कारण यह समस्या ज्यादा होती है। कुछ लोग दैनिक जीवन में कई दवाओं का सेवन करते हैं। इससे भी जलन की समस्या आती है। ऐसे में लोगों की कोशिश यही होनी चाहिए कि डाइट में कम मलासे युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें। 

सीने में जलन के समाधान के लिए इन चीजों का रखें ध्यान

1. खाना खाने के तुरंत बाद बिस्तर पर न जाएं

एक्सपर्ट बताते हैं कि खाना खाने के बाद तुरंत बिस्तर पर नहीं लेटना चाहिए। इससे भोजन एसिड को प्रेशर देता है और एसिड खाने की थैली से नली में चली जाती है। इससे जलन की समस्या नहीं होगी। सोने से दो घंटे पहले हमें भोजन करना चाहिए। खाने के तुरंत बाद सो जाते हैं तो गैस की भी समस्या, सीने में जलन की दिक्कत हो सकती है।

2. तनाव में न रहें

डॉक्टर बताते हैं कि तनाव के कारण एसिड का आउटपुट ज्यादा हो जाता है। इसके कारण खाने की थैली की एसिड नली में चले जाती है, जिससे सीने में जलन की समस्या होती है। अगर आप बार-बार इनहेलर लेते हैं तो भी आपके सीने में जलन हो सकती है। आप चाहें तो  इस केस में एक्सपर्ट की मदद ले सकते हैं।

3. धूम्रपान और ज्यादा शराब न पीएं

डॉक्टर बताते हैं कि यह समस्या ज्यादातर धूम्रपान करने वालों में होती है। ज्यादा शराब पीने के कारण भी ऐसी समस्या होती है। खासकर रात में अगर शराब पीते हैं तो एसिड थैली से मूव करके नली में चले जाता है। इसलिए रात को शराब का सेवन न के बराबर करें। इसके साथ धूम्रपान करने से भी बचें।

Acidity

4. मोटापे को कम करना जरूरी

>डॉक्टर के बताए अनुसार अगर मोटापे की समस्या है तो एसिड बॉडी में मूव करेगा। इसके लिए मोटापे को कम करना जरूरी होता है। अगर आपकी तोंद निकली हुई है तो एसिड और खाने की थैली से मूव करते खाने की नली में चले जाता है, जिससे जलन की समस्या (एसिड रिफल्स, हार्ट बर्न) होती है। इसके लिए हमें योग, रनिंग करके अपने वजन को कंट्रोल करना होगा। इसके साथ प्रेग्नेंसी के समय महिलाओं का पेट निकल जाता है। इसके कारण एसिड मूव करके खाने की थैली से नली में चली जाती है। इसके लिए प्रेग्नेंसी के समय महिलाओं को रात में हल्का भोजन करना चाहिए।

5. रात को मसालेदार और हेवी भोजन न करें

डॉक्टर बताते हैं कि अगर आप रात को हेवी और मसालेदार खाना खा रहे हैं तो सीने में जलन की समस्या आ सकती है। ज्यादा खाकर सोते हैं तो खाना प्रेशर बढ़ाएगा और एसिड खाने की थैली से नली की ओर चले जाएगा। रात को हमेशा हल्का भोजन खाएं। वह भोजन करें जो आसानी से पच पाए। कभी कभार जलन की समस्या होती है, तो यह बीमारी नहीं है लेकिन अगर सप्ताह में दो बार ऐसी समस्या होती हैं तो आप तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। इस बात का ध्यान दें कि बिना डॉक्टरी सलाह के दवा का सेवन न करें।

इसे भी पढ़ें : पेट में गैस ज्यादा बनती है तो रोज करें ये ये 3 योगासन, योग एक्सपर्ट से जानें करने का तरीका और फायदे

6. डायबिटीज की बीमारी वाले मरीज रखें ध्यान

एक्सपर्ट बताते हैं कि अगर आपको डायबिटीज की बीमारी है तो आपको सीने में जलन की समस्या हो सकती है। क्योंकि डायबिटीज वाले पेशेंट में एसिड रिफलक्स की समस्या रहती है।

Heartburn

रात को जलन होने के मुख्य तीन कारण

  1. दिन के समय हमेशा मुंह खुला रहता है, जिसके कारण खाने की थैली से नली में आया एसिड वापस थैली में चले जाता है, वहीं रात को मुंह बंद रहता है और स्वेलो नहीं करते हैं, जिससे एसिड नली में ही रहता है और जलन की समस्या होती है।
  2. रात को खाने के बाद हम सो जाते हैं, जिसके कारण खाने थैली और नली एक ही लाइन में हॉरिजोंटल हो जाती है। इससे एसिड रिफ्लेक्स ज्यादा होता है। इससे एसिड के खाने की थैली से नली में जाने की ज्यादा संभावना होती है, जिससे रात को सीने में जलन की समस्या होती है।
  3. दिन के खाने मुकाबले रात के भोजन में एसिड ज्यादा रहता है। इसलिए रात को एसिड ऊपर की तरफ प्रेशर बनाता है, जिसके कारण एसिड थैली से नली में चले जाती है।

इसके लक्षणों को पहचान लें डॉक्टरी सलाह

  • >आपको जी मिचलाना और उल्टी भी हो सकती है
  • खाना निगलने में समस्या होगी
  • सांस लेने में दिक्कत होगी
  • बार-बार खांसी की समस्या होगी
  • रात को आपको सीने में जलन महसूस होना
  • नींद नहीं आएगी या बार-बार नींद खुल जाएगी
  • खट्टा पानी मुंह में आ जाएगा
  • आप जब सांस लेंगे उसमें बदबू आएगी, यह दूसरों को भी महसूस होगा

बिना डॉक्टरी सलाह के दवा का सेवन न करें

आर्टिकल में दी गई टिप्स बस जानकारी के लिए। अगर आपको सीने में जलन की समस्या हो रही है तो सबसे पहले डॉक्टर से सलाह लें। इसके बाद इन उपयोगी बातों को पालन करें। कोशिश करें कि बिना डॉक्टरी सलाह के दवा का सेवन न करें। अच्छी लाइफस्टाइल अपनाने के साथ खानपान पर ध्यान दें। खाने में तेल युक्त व मसालेदार भोजन का सेवन करने से बचें। एक्सरसाइज और योग के लिए समय निकालें। समय पर उठे व समय पर सोएं व डॉक्टर की बताई गई बातों पर ध्यान दें।

Read More Articles On Other Diseases

Disclaimer