पॉजिटिव सेल्फ टॉक से बढ़ाएं अपना कॉन्फिडेंस और जोश, एक्सपर्ट से जानें 5 आसान तरीके

आत्मविश्वास को बढ़ाने के साथ-साथ खुश रहना भी जरूरी है। ऐसे में पॉजिटिव सेल्फ टॉक के ये 5 तरीके आपके बेहद काम आ सकतें। जानते हैं एक्सपर्ट से...

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Jul 05, 2021Updated at: Jul 05, 2021
पॉजिटिव सेल्फ टॉक से बढ़ाएं अपना कॉन्फिडेंस और जोश, एक्सपर्ट से जानें 5 आसान तरीके

तनावभरी जीवनशैली और गलत आदतों के चलते अक्सर लोग उलझन, कई मानसिक विकार और असामान्य परिस्थितियों का सामना करते हैं। ऐसी परिस्थितियों में विचारों का अस्पष्ट होना भी स्वभाविक है। ऐसे में जीवन में आने वाले उतार चढ़ाव व्यक्ति के आत्मविश्वास पर भी प्रभाव डालते हैं। आत्मविश्वास का डगमगाना यानी आंतरिक शर्म का पैदा होना। ऐसे में इस समस्या को दूर करने में पॉजिटिव सेल्फ टॉक (Positive Self Talk) आपके काम आ सकती हैं। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि पॉजिटिव सेल्फ टॉक के जरिए आप कैसे आत्मविश्वास को बढ़ा सकते हैं। साथ ही ये तरीके आपको खुश रखने में भी मदद करेंगे। ये लेख गेटवे ऑफ हीलिंग साइकोथेरेपिस्ट डॉ. चांदनी (Dr. Chandni Tugnait, M.D (A.M.) Psychotherapist, Lifestyle Coach & Healer) से बातचीत पर आधारित है। पढ़ते हैं आगे...

1 - भविष्य की कल्पना करें

आत्मविश्वास को बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका है भविष्य की कल्पना करना। आप सोचिए की आप भविष्य में क्या करना चाहते हैं? और उस सपने को पूरा करने के लिए जरूरी स्किल्स को बढ़ाने के लिए पर्सनल डेवलपमेंट के लिए खुद को तैयार करना शुरू करें। ऐसे में कल्पनाएं करना भी जरूरी हैं। ऐसा करने से न केवल आप खुद पर भरोसा कर पाएंगे बल्कि खुद को उस रूप में देख पाएंगें, जिसके लिए आप खुद को तैयार कर रहे हैं। लेकिन जरूरी है कि भविष्य की कल्पना करते वक्त सकारात्मक पहलुओं पर नजर डालें। नकारात्मक पहलू को हाईलाइट करने से आप उस काम के प्रति प्रोत्साहित नहीं होंगे और आपका आत्मविश्वास कमजोर हो सकता है।

इसे भी पढ़ें- घर या ऑफिस में काम बिगड़ जाने पर तुरंत झल्ला उठते हैं आप? जानें पॉजिटिव रहने के 7 तरीके जो ऐसे समय आएंगे काम

2 - शीशे में देख कर खुद से बातें करना

अक्सर आपने देखा होगा कुछ लोग शीशे पर खड़े होकर खुद से बातें करते हैं खुद की तारीफ करते हैं और आपको लगता होगा यह कितने पागल हैं पर नहीं ऐसा करना जरूरी है यह मिरर थेरेपी के लाती है शीशे में खड़े होकर खुद की तारीफ करना आपके आत्मविश्वास को बढ़ा सकता है आमतौर पर आप कैसे भी दिखते हो उदाहरण के तौर पर आप मानते हैं या आपका रंग डार्क है या आप की हाइट कम है आपको बस तेज तेज और जोर से यह कहना है कि आज आप बहुत अच्छी लग रही हो इतना कहने भर से ही आपके अंदर नई ऊर्जा का संचार और आपका आत्मविश्वास बढ़ेगा।

इसे भी पढ़ें- खुश रहने के 7 फायदे जिनका सेहत पर पड़ता है सीधा असर

3 - अपने आसपास सकारात्मक लोगों को रखना

अपने आसपास सकारात्मक लोगों को रखना जरूरी होता है। अक्सर आपने देखा होगा अगर हमारे पास कुछ ऐसे लोग मौजूद होते हैं जो हर वक्त दुखी और नकारात्मक विचार वाले होते हैं तो उनके कारण हमारा भी स्वभाव वैसा ही हो जाता है। ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि लोगों का हमारे जीवन पर काफी प्रभाव पड़ता है। जरूरी है उन लोगों का चुनाव करना जो भविष्य में कुछ कर दिखाने की चाह रखते हों, साथ ही जिनकी सोच, दृष्टिकोण और भावनाएं सकारात्मक हैं।

4 - खुश रहने की वजह ढूंढना

खुश रहने से ना केवल तनाव दूर होता है बल्कि व्यक्ति में हैप्पी हार्मोन का उत्पादन भी होता है। ऐसे में खुशी की वजह तलाशना भी आपकी जिम्मेदारी है। खुश रहना जितना सुनने में आम है उतना करने में मुश्किल भी है। ऐसे में आप निश्चित करें कि दिन में कम से कम 80 से 90 बार हंसें। ऐसा करने से आपका तनाव तो दूर होगा ही आप खुद को खुश रख पाएंगे। ध्यान रखें कि खुश माहौल में खुद को खुश रखना तो आसान है लेकिन दुख माहौल में भी खुद को खुश रखने के तरीके आना और आशावादी रखना  अपने आप में एक बड़ी चुनौती है। ऐसा करने से आत्मविश्वास बढ़ता है।

5 - सकारात्मक माहौल में रहना

घर में सकारात्मक माहौल बनाए रखने से मतलब है कि अपने आसपास ऐसी फोटोज़ या ऐसे कोट्स रखें जो आपको सकारात्मक ऊर्जा देते हों। उदाहरण के तौर पर यदि आपको महात्मा गांधी का कोई विचार पसंद है तो आप अपने दीवार पर उसको लगा सकते हैं। ऐसा करने से आप खुद को सकारात्मक उर्जा दे पाएंगे। इसके अलावा आप अपने मोबाइल फोन की मुख्य स्क्रीन पर भी प्रेरित करने वाले लोगों की फोटो या महान व्यक्तियों के विचारों को लगा सकते हैं। ऐसे में आप जब भी अपने फोन को खोलेंगे और उस विचार को पढ़ेंगे तो आपके अंदर सकारात्मक सोच का विकास होगा।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदु से पता चलता है कि लोगों में सकारात्मक सोच और आत्मविश्वास को बढ़ाने के लिए पॉजिटिव सेल्फ टॉक बेहद जरूरी है। ऊपर बताएं गए 5 तरीके आपको खुश रहने के साथ-साथ पॉजिटिव और आशावादी भी बनाएंगे।

इस लेख में इस्तेमाल की जानें वाली फोटोज़ Freepik से ली गई हैं।

Read More Articles on mind body in hindi

Disclaimer