डिलीवरी के बाद रहता है जोड़ों में दर्द? इन घरेलू उपायों से पाएं जल्द राहत

आप डिलीवरी के बाद जोड़ों में दर्द से राहत पाने के लिए कुछ घरेलू उपायों का सहारा ले सकती हैं।

Priya Mishra
Written by: Priya MishraUpdated at: Oct 23, 2022 13:00 IST
डिलीवरी के बाद रहता है जोड़ों में दर्द? इन घरेलू उपायों से पाएं जल्द राहत

मां बनना हर महिला के लिए सबसे सुखद एहसास होता है। प्रेगनेंसी के दौरान एक महिला के शरीर में कई तरह के शारीरिक और मानसिक बदलाव आते हैं। बच्चे के जन्म के बाद एक महिला का शरीर काफी कमजोर हो जाता है। कई महिलाओं को डिलीवरी के बाद घुटनों और जोड़ों में दर्द की शिकायत रहती है। दरअसल, प्रेगनेंसी के दौरान महिला का वजन बढ़ जाता है, जिससे जोड़ों में दर्द की समस्या हो सकती है। इसके अलावा, प्रेगनेंसी और डिलीवरी के दौरान शरीर में होने वाले हार्मोनल असंतुलन के कारण भी जोड़ों में दर्द की समस्या हो सकती है। डिलीवरी के बाद जोड़ों के दर्द की समस्या कुछ हफ्तों से लेकर 4-6 महीनों तक रह सकती है। कई महिलाऐं डिलीवरी के बाद घुटनों और जोड़ों के दर्द से राहत पाने के लिए पेन किलर्स का सहारा लेती हैं। लेकिन, लंबे समय तक पेन किलर्स का सेवन करने से सेहत को नुकसान पंहुच सकता है। आप डिलीवरी के बाद जोड़ों में दर्द से राहत पाने के लिए कुछ घरेलू उपायों का सहारा ले सकती हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खे बताएंगे, जिससे आपको डिलीवरी के बाद होने वाले जोड़ों के दर्द से जल्द राहत मिलेगी (Home Remedies For Joint Pain After Delivery In Hindi) -  

डिलीवरी के बाद जोड़ों में दर्द का कारण - Causes Of Joint Pain After Delivery In Hindi

  • प्रेगनेंसी में बढ़ा हुआ वजन 
  • प्रेगनेंसी और डिलीवरी के दौरान हार्मोनल बदलाव 
  • शरीर में पोषक तत्वों की कमी 
  • आर्थराइटिस 
  • डिलीवरी के दौरान चोट

डिलीवरी के बाद जोड़ों में दर्द के घरेलू उपाय - Home Remedies For Joint Pain After Delivery In Hindi

आराम करें - Rest For Joint Pain After Delivery In Hindi

डिलीवरी के बाद घुटनों और जोड़ों के दर्द से राहत पाने के लिए भरपूर आराम करें। डिलीवरी के बाद महिला के शरीर को रेस्ट की जरूरत होती है, जिससे बॉडी की रिकवरी में मदद मिलती है। अगर डिलीवरी के बाद आपके घुटनों में दर्द रहता है, तो ज्यादा काम ना करें और आराम करें। इसके अलावा, कोई भी झटके वाला काम या भारी सामान उठाने से बचें।  

मेथी - Fenugreek Seeds For Joint Pain After Delivery In Hindi

जोड़ों के दर्द से राहत पाने के लिए आप मेथी का सेवन भी कर सकते हैं। मेथी में एंटीऑक्सिडेंट्स और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जिससे दर्द और सूजन में आराम मिलता है। डिलीवरी के बाद घुटनों के दर्द से राहत पाने के लिए एक चम्मच मेथी के दानों को एक गिलास पानी में रातभर भिगोकर रख दें। अगले दिन सुबह इसे छानकर पी लें। ऐसा करने से कुछ ही दिनों में आपको दर्द में आराम मिल जाएगा। 

इसे भी पढ़ें: डिलीवरी के बाद गुड़ और सोंठ के लड्डू खाने से सेहत को मिलेंगे कई फायदे, जानें रेसिपी

हल्दी - Turmeric For Joint Pain After Delivery In Hindi

डिलीवरी के बाद जोड़ों के दर्द से राहत पाने के लिए आप हल्दी का इस्तमाल भी कर सकते हैं। हल्दी में एंटीऑक्सिडेंट्स और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो दर्द और सूजन को कम करने में मदद करते हैं। इसके लिए रोजाना रात में एक गिलास दूध में एक चम्मच हल्दी और थोड़ा सा शहद मिलाकर पिएं। कुछ दिनों तक इसका सेवन करने से आपके घुटनों का दर्द कम हो जाएगा।

Joint-Pain-After-Delivery

एक्सरसाइज करें - Exercise For Joint Pain After Delivery In Hindi

अगर डिलीवरी के बाद आपके जोड़ों में दर्द रहता है, तो एक्सरसाइज करें। हालांकि, कोई ऐसी एक्सरसाइज ना करें, जिससे घुटनों पर दबाव पड़े। आपको बस ऐसी एक्सरसाइज करनी हैं, जिससे आपका शरीर एक्टिव रहे। इससे आपका प्रेगनेंसी वेट कम होगा और जोड़ों में दर्द से भी राहत मिलेगी।  

तेल मालिश - Oil Massage For Joint Pain After Delivery In Hindi

डिलीवरी के बाद घुटनों के दर्द से छुटकारा पाने के लिए आप तेल से मालिश कर सकते हैं। इसके लिए आप सरसों के तेल को गर्म करके, इससे अपने घुटनों की मालिश कर सकते हैं। सरसों के तेल से घुटनों की मालिश करने से दर्द और सूजन से जल्द राहत मिलेगी। 

सिंकाई करें - Hot Compress For Joint Pain After Delivery In Hindi

डिलीवरी के बाद जोड़ों और घुटने के दर्द से राहत पाने के लिए आप सिंकाई भी कर सकते हैं। घुटनों पर गर्म सिंकाई करने से दर्द में जल्द राहत मिलती है। इसके लिए हॉट वॉटर बैग पर एक कपड़ा लपेटकर, इससे अपने घुटनों की सिंकाई करें। इसके अलावा, आप एक बाल्टी में गर्म पानी और सेंधा नमक डालकर , इसमें अपने घुटनों को डिप करके बैठ सकते हैं।

Disclaimer