आपको भी दूध से है एलर्जी तो कैल्‍श‍ि‍यम की कमी दूर करने के ल‍िये डॉक्टर से जानें 10 Calcium Rich Foods

आपको भी दूध और उसके प्रोडक्‍ट्स से एलर्जी है तो आप खास तरह की सब्‍ज‍ियां, नट्स और फलों से भी कैल्‍श‍ियम की कमी पूरी कर सकते हैं। 

 
Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jan 25, 2021
आपको भी दूध से है एलर्जी तो कैल्‍श‍ि‍यम की कमी दूर करने के ल‍िये डॉक्टर से जानें 10 Calcium Rich Foods

क्‍या आपको दूध या डेयरी प्रोडक्‍ट्स से एलर्जी है? अगर हां तो आपको ऐसे फूड्स की जानकारी होनी जरूरी है जो नॉन डेयरी होने के साथ-साथ शरीर में कैल्‍श‍ियम की कमी दूर कर सकें। दूध से होने वाली एलर्जी को लैक्‍टोज़ इंटोलरेंस कहा जाता है। ज‍िन लोगों को लैक्‍टोज़ इंटोलरेंस की समस्‍या होती है उनके शरीर में लैक्‍टोज़ पच नहीं पाता पर इसका ये मतलब नहीं है क‍ि आप कैल्‍श‍ियम न लें। हड्ड‍ियों और मांसपेश‍ियों की सेहत के ल‍िये कैल्‍श‍ियम जरूरी है। आज हम आपको 10 ऐसे आहार की जानकारी देंगे तो नॉन-डेयरी प्रोडक्‍ट्स हैं और इनमें कैल्‍श‍ियम की भरपूर मात्रा पाई जाती है। इस टॉप‍िक पर ज्‍यादा जानकारी के लिये हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।  

lactos intolerance can lower down calcium

आपको क‍ितना कैल्‍श‍ियम चाहिये? (How much calcium you should take)

कैल्‍श‍ियम हमारे शरीर के ल‍िये जरूरी है। आपको उम्र के मुताबि‍क कैल्‍श‍ियम की मात्रा पता होनी चाह‍िये। 6 माह से कम उम्र वाले बच्‍चों को 400 म‍िली कैल्‍श‍ियम मि‍लना चाह‍िये। 6 माह से 1 साल तक के बच्‍चों को 1 द‍िन में 600 म‍िली कैल्‍श‍ियम देना चाह‍िये। 1 से 10 साल तक के बच्‍चों को रोज़ 800 म‍िली कैल्‍श‍ियम द‍िया जाना चाहिये। 11 साल या उससे ज्‍यादा उम्र है तो आपको रोज़ 1200 म‍िली कैल्‍श‍ियम की जरूरत होती है। 

इसे भी पढ़ें- लैक्टोज सेंसिटिव लोगों के लिए भी फायदेमंद है घी, डॉ. स्वाती बाथवाल से जानें घी से जुड़े सभी सवालों के जवाब

कैल्‍श‍ियम युक्‍त आहार (Calcium rich food)

इन 10 चीज़ों को खाकर आप अपने शरीर में कैल्‍श‍ियम की कमी दूर सकते हैं। जि‍न लोगों को दूध से एलर्जी है उन्‍हें इन आहार के बारे में जानना चाह‍िये।

1. कीवी (Kiwi benefits)

कीवी में 60 म‍िलीग्राम कैल्‍श‍ियम पाया जाता है। आप चाहें तो कीवी को साबुत या इसका जूस पी सकते हैं। अगर आपको कैल्‍श‍ियम लेना है औ दूध की चीज़ों से एलर्जी है तो ये खट्टा-मीठा फल आपको पसंद आयेगा। आप कीवी को सलाद में भी शाम‍िल कर सकते हैं। कीवी खाने से प्‍लेट‍िलेट्स भी बढ़ते हैं। जि‍न लोगों के प्‍लेट‍िलेट्स ग‍िरने लगते हैं डॉक्‍टर उन्‍हें कीवी फल खाने की सलाह देते हैं। 

2. हरी पत्‍तेदार सब्‍जि‍यां (Green vegetables)

अगर आप रोज़ सुबह 1 कटोरी हरी पत्‍तेदार सब्‍जि‍यां खायें तो आपको 100 म‍िलीग्राम कैल्‍शियम म‍िलेगा। इस मौसम में पत्‍तागोभी, मूली, मेथी जैसी हरी सब्‍जियां आ रही हैं आप इन्‍हें खाकर कैल्‍श‍ियम की कमी दूर कर सकते हैं। बच्‍चे अगर हरी सब्‍ज‍ियां नहीं खाते तो आप उन्‍हें सैंडव‍िच या बर्गर में ढेर सारी वेज‍ीटेबल्‍स डालकर ख‍िला सकते हैं। हरी सब्‍ज‍ियों में आयरन की अच्‍छी मात्रा होती है इसल‍िये आप कमजोरी दूर करने के ल‍िये इनका सेवन जरूर करें। 

3. सोयाबीन (Soybean is good for health)

soybean is a good source of calcium

ज‍िन मह‍िलाओं को लैक्‍टोस इंटोलरेंस की समस्‍या है उन्‍हें सोयाबीन जरूर खाना चाह‍िये। ये उन मह‍िलाओं के ल‍िये फायदेमंद है जो प्रेगनेंट हैं या ज‍िन्‍हें एनीम‍िया है। सोयाबीन का सेवन करने से हड्ड‍ियों के दर्द से न‍िजात म‍िलता है। डायब‍िटीज़ के मरीज़ों के ल‍िये सोयाबीन अच्‍छा माना जाता है। कुछ लोग सोयाबीन को सब्‍जी या चावल में म‍िलाकर खाते हैं आप चाहें तो इससे कई तरह के ड‍िश तैयार कर सकते हैं। 

4. ब्रोकली (Health benefits of broccoli)

 बहुत से लोग ब्रोकली नहीं खाते पर अगर आपको लैक्‍टोस इंटोलरेंस की समस्‍या है तो ये सब्‍जी आपके ल‍िये फायदेमंद है। इसमें कैल्‍श‍ियम की भरपूर मात्रा होती है। कैल्‍श‍ियम के अलावा ब्रोकली में आयरन, व‍िटाम‍िन ए, सी जैसे पोषक तत्‍व मौजूद होते हैं। कैल्‍श‍ियम की कमी से तनाव बढ़ जाता है पर ब्रोकली में फोलेट की अच्‍छी मात्रा होती है ज‍िससे ये आपके मान‍स‍िक स्‍वास्‍थ्‍य के ल‍िये भी फायदेमंद है।  

5. अंजीर (Anjeer contains calcium)

हल्‍के पीले रंग का द‍िखने वाला अंजीर दूध का एक अच्‍छा व‍िकल्‍प है। इसको खाने से कमजोरी दूर होती है। इसको खाने से हड्ड‍ियां मजबूत बनती हैं। इसमें सोड‍ियम की मात्रा भी पाई जाती है ज‍िसे खाने से तनाव कम होता है। अगर आपके स‍िर में दर्द है तो भी आप अंजीर का सेवन कर सकते हैं। कैल्‍श‍ियम की कमी दूर करने के ल‍िये अंजीर खाना चाहते हैं तो अंजीर को रात भर पानी में भ‍िगोकर रख दें। सुबह इसे खाकर पानी पी लें। आप चाहें तो अंजीर को सलाद में म‍िलाकर भी खा सकते हैं। कुछ लोगों को अंजीर का टेस्‍ट अच्‍छा नहीं लगता वो इसे दूसरी ड‍िश में म‍िलाकर खा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- दूध नहीं पचा पाते हैं 'लैक्टोज सेंसिटिव' लोग, जानें Lactose Intolerance का असली कारण और दूध के हेल्दी विकल्प

6. पालक (Benefits of spinach)

पालक खाने से हड्ड‍ियां मजबूत होती हैं। इसको खाने से हमारा मानस‍िक स्‍वास्‍थ्‍य भी अच्‍छा रहता है। पालक में व‍िटाम‍िन के, फोलेट, बीटा कैरोटीन जैसे पोषक तत्‍व पाये जाते हैं। पालक आंखों के ल‍िये भी अच्‍छा माना जाता है। इससे आंखों की रौशनी अच्‍छी रहती है। इसमें नाइट्रेट की मात्रा पाई जाती है ज‍िससे ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल रहता है और द‍िल की बीमार‍ियां भी दूर रहती हैं। पालक की सब्‍जी कम मसाले में तैयार की जाती है। अगर आपको प्रोटीन लेना है तो आप पालक की दाल खायें या पालक को सलाद के तौर पर भी खाया जा सकता है। पालक खाने से इम्‍यून‍िटी भी बढ़ती है।    

7. बादाम (Almonds are rich source of calcium)

almonds contains calcium

 बादाम भी कैल्‍श‍ियम से भरपूर होता है। बादाम खाने से ब्‍लड प्रेशर भी कंट्रोल में रहता है और बॉडी को हेल्‍दी फैट भी म‍िलता है। आप रात में 10 बादाम भिगोकर रख दें। सुबह बादाम का छ‍िलका न‍िकालकर खा लें। स्‍नैक्‍स के तौर पर भी आप बादाम का सेवन कर सकते हैं। बादाम में कैल्‍श‍ियम के साथ-साथ फाइबर, मैग्‍न‍िश‍ियम, व‍िटाम‍िन ई जैसे पोषक तत्‍व भी मौजूद होते हैं। आप बादाम नहीं खाना चाहते तो उसे पानी में भ‍िगोकर उसके पानी का इस्‍तेमाल करें। वो भी बहुत फायदेमंद माना जाता है।  

8. चिया सीड्स (Health benefits of chia seeds)

च‍िया सीड्स में कैल्‍शि‍यम और अन्‍य पोषक तत्‍व जैसे मैग्‍न‍िश‍ियम, फाइबर, प्रोटीन मौजूद होता है। आप इन्‍हें क‍िसी ड‍िश में डाल सकते हैं या नट्स के तौर पर खा सकते हैं। इसका पानी पीना भी फायदेमंद होता है। दूध से एलर्जी है तो च‍िया सीड्स आपके शरीर में कैल्‍श‍ियम की कमी को दूर करेंगे। अगर आप वजन घटाने के बारे में सोच रहे हैं तो भी आपको च‍िया सीड्स का सेवन करना चाह‍िये। च‍िया सीड्स को अपनी डाइट में शाम‍िल करने के ल‍िये सुबह-सुबह पानी के साथ भी खाया जा सकता है। ये आपको आसानी से मार्केट में म‍िल जायेंगे।  

9. संतरा (Orange is healthy for body)

अगर आप दूध या डेयरी प्रोडक्‍ट्स नहीं लेना चाहते तो आप संतरा खा सकते हैं। संतरे में अन्‍य फलों के मुकाबले कैल्‍श‍ियम की अच्‍छी मात्रा पाई जाती है। इसमें व‍िटाम‍िन ए, बी, पोटैश‍ियम जैसे तत्‍व पाये जाते हैं। संतरा खाने से अपच की समस्‍या भी दूर होती है। अगर आपको पेट में दर्द या गैस जैसी समस्‍या है तो सं‍तरे का सेवन करें। संतरे में मौजूद कैल्‍श‍ियम मसूड़ों को भी स्‍वस्‍थ्‍य रखता है। हड्ड‍ियों के रोग में भी डॉक्‍टर संतरा खाने की सलाह देते हैं। संतरे में मौजूद व‍िटाम‍िन सी से हड्ड‍ियों में कमजोरी नहीं होती। संतरे को खाते समय उसके रेशे अलग न करें। 

10. ओट्स (Benefits of oats)

ओट्स में कैल्‍श‍ियम, व‍िटाम‍िन बी और मैग्‍न‍िश‍ियम की अच्‍छी मात्रा पाई जाती है। अगर आपको कमजोरी की समस्‍या है तो आपको नाश्‍ते में ओट्स खाना चाह‍िये। ओट्स में ब्‍लड शुगर कंट्रोल रखने की क्षमता होती है। ज‍िन लोगों को डायब‍िटीज़ है उन्‍हें ओट्स का सेवन करना चाहि‍ये। कैल्‍श‍ियम की भरपूर मात्रा होने से आपको पेट संबंध‍ित कोई श‍िकायत नहीं होती। ये पाचन तंत्र को भी दुरूस्‍त रखता है। ओट्स बनाते समय आपको इस बात का ध्‍यान रखना है क‍ि उसमें ज्‍यादा नमक न हो। हेल्‍दी बनाने के ल‍िये आप उसमें ग्रीन वेज‍िटेबल्‍स डाल सकते हैं। 

दूध से एलर्जी होने पर आप कैल्‍श‍ियम से दूरी न बनायें। इन 10 चीज़ों के अलावा भी बहुत सारे आहार हैं ज‍िनमें कैल्‍श‍ियम की अच्‍छी मात्रा होती है। आप अपने डॉक्‍टर से सलाह लेकर उन चीज़ों का सेवन करें। 

Read more on Healthy Diet in Hindi 

Disclaimer