बच्चों को खीरा या ककड़ी खिलाना है कितना फायदेमंद? जानें खिलाने का सही तरीका

बच्चों की सेहत के लिए खीरा बेहद लाभदायक माना जाता है। खीरा में अनेकों विटामिन और अन्य पोषक तत्व होते हैं, जानिए इसे खिलाने का सही तरीका।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Apr 03, 2021Updated at: Apr 03, 2021
बच्चों को खीरा या ककड़ी खिलाना है कितना फायदेमंद? जानें खिलाने का सही तरीका

बच्चों के दैनिक जीवन के खानपान को संतुलित और पौष्टिक बनाए रखने के लिए विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थों को डाइट प्लान में शामिल करना पड़ता है। हर किसी खाद्य पदार्थ के अपने अलग-अलग स्वास्थ्य लाभ होते हैं। दैनिक जीवन में खाने में प्रयोग की जाने वाली वस्तुओं में से एक है खीरा। खीर के बारे में एक कहावत "नाम जिसका खीरा है, काम उसका हीरा है" भी सुनने को मिलती है। खीरा खाने के अनेकों फायदे हैं, बच्चों के स्वास्थ्य की दृष्टि से देखा जाए तो खीरा का सेवन बच्चों के लिए भी बेहद फायदेमंद माना जाता है। खीरा या ककड़ी का प्रयोग अमूमन हर भारतीय घरों में होता है, इसे कई प्रकार से भोजन में शामिल किया जाता है। खीर या ककड़ी बच्चों के स्वास्थ्य के लिहाज से बेहद गुणकारी होते हैं, खीरे में विटामिन, एंटीऑक्सिडेंट के गुण पाए जाते हैं और यह पेट के लिए भी बेहद स्वास्थ्यप्रद माना जाता है।

inside4childreneatingcucumber

खीरे को वानस्पतिक भाषा में कुकुमिस सटाईवस नाम से जानते हैं और यह Cucurbitaceae फैमिली का सदस्य है। खीरा या ककड़ी में प्रचुर मात्रा में पानी और कम मात्रा में कैलोरी होती है। खीरा में कोलेस्ट्रॉल और सोडियम भी कम मात्रा में पाया जाता है और यह बच्चों या शिशुओं के स्वास्थ्य के लिहाज से बेहद लाभदायक माना गया है। क्योंकि खीरा विटामिन और एंटीऑक्सिडेंट के गुणों की खान माना जाता है इस लिहाज से यह शिशुओं को कई प्रकार के विकारों से भी मुक्त करता है।

खीरे में पाए जाने वाले पोषक तत्व

खीरा और ककड़ी में अनेकों पौष्टिक गुण होते हैं। खीरे विटामिन और एंटीऑक्सिडेंट के साथ-साथ कई अन्य गुणों से भी भरपूर होते हैं। यह विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन के, विटामिन ई आदि और पोटेशियम से भरपूर होता है। खीरा और ककड़ी का सेवन करने से इनमें मौजूद विटामिन, थायमिन, नियासिन और एंटीऑक्सिडेंट के गुण शरीर को लाभ पहुंचाते हैं। खीरा का सेवन करने से शरीर से टॉक्सिक एलिमेंट्स भी बाहर होते हैं। आइए आपको बताते हैं कि खीरे का सेवन बच्चों के लिए क्यों लाभकारी है और इसमें कौन - कौन से गुण पाए जाते हैं।

  • विटामिन सी - खीरे में विटामिन सी की प्रचुर मात्रा होती है जो कि शरीर की रोग प्रतिरोधी क्षमता को बढ़ाने में भी मदद करता है।
  • विटामिन ई - खीरे में मौजूद विटामिन ई हमारे मस्तिष्क के लिए भी अच्छा माना जाता है, यह शरीर में प्लेटलेट को भी संतुलित रखता है।
  • विटामिन ए - विटामिन ए हमारी आँखों और स्किन के लिए लाभदायक माना जाता है, खीरे में इसकी प्रचुर मात्रा उपलब्ध होती है।
  • विटामिन बी 6 - यह मेटाबोलिज्म और हीमोग्लोबिन के संतुलन को कायम रखता है।
  • विटामिन के - हड्डियों के लिए फायदेमंद होता है।
  • नियासिन विटामिन बी 3 - खीरे में नियासिन विटामिन बी 3 का भी अच्छा स्रोत है, यह यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर को संतुलित करने और हृदय संबंधी दिक्कतों में फायदेमंद है।
  • खीरे में लगभग 90 प्रतिशत पानी पाया जाता है जो शरीर में मौजूद टॉक्सिक एलिमेंट्स को निकालने में मदद करता है।

इसे भी पढ़ें : छोटे बच्चों में कब्ज की समस्या के लक्षण और कारण क्या हैं? जानें बच्चों में कब्ज के लिए घरेलू उपाय

बच्चों को खीरा खिलाने के फायदे

बच्चों को खीरे का सेवन करने से उनके शरीर को अनेकों फायदे होते हैं। खीरा में मौजूद विटामिन की प्रचुर मात्रा और एंटीऑक्सिडेंट के गुण बच्चों की सेहत के लिए बेहद लाभदायक होते हैं। खीरे का सेवन करने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने के साथ-साथ शरीर में पानी की कमी नही होती है। खीरे में मौजूद विटामिन हमारे पेट, त्वचा, और आँखों की रोशनी को फायदा देता है। वयस्कों के लिए तो खीरा वजन कम करने में भी फायदेमंद होता है। खीरा में मौजूद विटामिन ए, सी और के, तथा कुछ अन्य खनिज स्वास्थ्य की दृष्टि से बेहद लाभकारी होते हैं। यह कैंसर जैसी बीमारियों के खतरे को कम करने में भी सक्षम होता है। खीरे में मौजूद लिगनेंस आर पॉलीफिनोल्‍स एंटी कैंसर के गुणों से युक्त होते हैं जो प्रोस्टेट और कई अन्य प्रकार के खतरे से दूर रखते हैं। बच्चों के लिए खीरा अत्यंत फायदेमंद हैं, खीरे का सेवन करने से होने वाले कुछ प्रमुख फायदे इस प्रकार हैं

1.पानी की कमी से बचाता है

खीरा और ककड़ी में लगभग 90 प्रतिशत से अधिक पानी पाया जाता है। खीरे में मौजूद पानी की भरपूर मात्रा शरीर को रि हाइड्रेट करती है और शरीर में पानी की कमी नही होने देता।

2. विटामिन का अच्छा स्रोत 

ककड़ी और खीरे में प्रचुर मात्रा में विटामिन पाया जाता है। इनमें विटामिन सी विटामिन बी -6, विटामिन ई, विटामिन के, नियासिन, थियामिन और फोलेट समेत  विटामिन ए की प्रचुरता होती है। शरीर के इम्म्यून सिस्टम से लेकर आँखों तक के लिए यह बेहद लाभदायक सिद्ध होता है। इसीलिए बच्चों के शरीर के लिए खीरा बेहद गुणकारी माना जाता है।

inside6cucumber

3.पेट के लिए लाभदायक 

खीरा और ककड़ी पेट के लिए भी फायदेमंद होते हैं। पेट में एसिडिटी के साथ - साथ अल्सर जैसी समस्याओं में भी खीरा काम करता है। खीरे का जूस का प्रयोग एसिडिटी और गैस्ट्रिक अल्सर जैसी तकलीफों में भी किया जाता है। बच्चों के लिए खीरा पेट दर्द और गैस की समस्या में बेहद फायदेमंद होता है।

4. एंटीऑक्सीडेंट के गुण

खीरे में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट के गुण शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। खीरा में विटामिन सी के अलावा में बीटा कैरोटीन जैसे एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो शरीर में किसी प्रकार के हानिकारक तत्वों को पनपने नहीं देते।

5. स्किन के लिए लाभकारी

खीरा स्किन के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। खीरे के सेवन के साथ-साथ इसे प्राकृतिक औषधि के रूप में भी प्रयोग में लाया जाता है।

6. किडनी की सेहत के लिए उपयोगी 

खीरे का जूस पीने से से किडनी या ब्लेडर इन्फेक्शन का ख़तरा कम होता है। नियमित रूप से इसका सेवन करने से किडनी की पथरी जैसे रोगों में भी फायदा होता है। खीरे का जूस मूत्राशय (ब्लेडर) के संक्रमण में भी फायदेमंद होता है। शरीर में यूरिक एसिड के बढ़ने पर भी इसका जूस पीना फायदेमंद होता है, इसका जूस सूजन में भी फायदा पहुंचाता है।

इसे भी पढ़ें : बच्चों को बार-बार प्यास लगना कहीं किसी समस्या का संकेत तो नहीं? जानें इसका कारण और बचाव

बच्चों को खीरा या ककड़ी खिलाने से पहले ध्यान रखने योग्य बातें

  • खीरा खरीदते समय यह ध्यान जरुर रखें कि वह साफ, बेदाग और सुरक्षित होना चाहिए। सूखे और फटे हुए खीरे का सेवन करना नुकसानदायक भी हो सकता है।
  • कड़वे कीरों का उपयोग नही करना चाहिए, कड़वाहट होने से खीरा बच्चों के खाने योग्य नहीं रहता है।
  • बच्चों को खीरा खिलाने से पहले उसे अच्छी तरह से धोने के बाद छील लेना चाहिए। बच्चों की पाचन क्षमता बड़ों जितनी नही होती इसलिए खीरे को छील कर खिलाना बच्चों के लिए फायदेमंद होता है।
  • बच्चों को खीरा उबालकर या स्टीम करने के बाद खिलाना बेहतर माना जाता है, उबलने के बाद खीरे में बैक्टीरिया के होने का ख़तरा नही रहता।

अगर बच्चों को किसी भी प्रकार की एलर्जी से जुड़ी समस्या है तो इसका सेवन करने से पहले चिकित्सक से संपर्क जरुर करें। बाज़ार से खीरा लेते समय हो सके तो आर्गेनिक खीरा ही खरीदें।

Read more articles on Childrens-Health in Hindi

Disclaimer