कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म के कारण हार्ट में कम हो जाता है ब्लड फ्लो, डॉक्टर से जानें इसके लक्षण, कारण और इलाज

स्मोकिंग और ड्रग्स के सेवन के कारण तमाम लोगों में कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म की समस्या होती है, एक्सपर्ट डॉक्टर से जानें इसके कारण, लक्षण और बचाव।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Sep 16, 2021
कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म के कारण हार्ट में कम हो जाता है ब्लड फ्लो, डॉक्टर से जानें इसके लक्षण, कारण और इलाज

असंतुलित खानपान और खराब जीवनशैली के कारण आज के समस्या में कम उम्र के लोग भी दिल से जुड़ी गंभीर बीमारियों के शिकार हो रहे हैं। पिछले एक दशक के आंकड़ों को देखा जाए तो दिल का दौरा, स्ट्रोक और हार्ट फेलियर जैसी गंभीर जानलेवा बीमारियों के मामयुवाओं में तेजी से बढ़ रहे हैं। चिकित्सा विशेषज्ञ और डॉक्टर्स का यह मानना है कि कम उम्र में दिल से जुड़ी गंभीर स्थितियां खराब जीवनशैली और खानपान के साथ-साथ युवाओं में नशे के बढ़ते चलन के कारण हो रही हैं। दिल से जुड़ी एक ऐसी ही गंभीर बीमारी है कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म (Coronary Artery Spasm), जो दिल में रक्त भेजने वाली धमनियों में होने वाली समस्या है। इस समस्या में दिल के एक हिस्से में ब्लड फ्लो ब्लॉक हो जाता है या कम हो जाता है। यदि यह समस्या ज्यादा दिनों तक रहती है तो इसकी वजह से आपको सीने में दर्द (एंजाइना) और दिल का दौरा (मायोकार्डियल इंफार्क्शन) भी हो सकता है। आइये दिल्ली के इंद्रप्रस्थ अपोलो हॉस्पिटल के सीनियर कंसलटेंट कार्डियोथोरेसिस एंड वैस्कुलर सर्जरी डॉ मुकेश गोयल (Dr. Mukesh Goel) से जानते हैं इस समस्या के कारण, लक्षण, इलाज और बचाव के बारे में।

क्या है कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म? (What Is Coronary Artery Spasm?)

दिल में मौजूद रक्त वाहिकाओं की दीवार जब आपस में सिकुड़ जाती है तो इसकी वजह से रक्त वाहिकाएं सही ढंग से दिल तक खून को नहीं पहुंचा पाती हैं। इस समस्या को कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म या कोरोनरी धमनी की ऐंठन भी कहते हैं। इसे प्रिंजमेटल एनजाइना, वैसोस्पैस्टिक एनजाइना या वैरिएंट एनजाइना के नाम से भी जाना जाता है। सबसे ज्यादा यह समस्या स्मोकिंग या ड्रग्स का सेवन करने वाले लोगों में देखी जाती है। दिल में मौजूद धमनियों या रक्त वाहिकाओं में ब्लॉकेज के कारण यह समस्या उत्पन्न होती है। इस समस्या में ऐंठन सामान्य रूप से 15 मिनट तक रहती है। दिल में मौजूद रक्त वाहिकाओं के संकरा होने के कारण दिल तक खून को भेजने में अतिरिक्त मेहनत करनी पड़ती है जिसके कारण आपको ऐंठन या अन्य समस्याएं हो सकती हैं।

Coronary-Artery-Spasm-Symptoms-Causes-Prevention

(image source - freepik.com)

इसे भी पढ़ें : रात में देर तक जागने की आदत आपके दिल (हार्ट) के लिए क्यों है खराब? जानें इससे होने वाली समस्याएं और उनके संकेत

कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म के कारण (What Causes Coronary Artery Spasm?)

डॉ मुकेश गोयल ने हमें बताया कि कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म की समस्या ज्यादातर मामलों में स्मोकिंग या ड्रग्स आदि के सेवन से होती है। इसके अलावा कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म हाई ब्लड प्रेशर और हाई कोलेस्ट्रॉल के कारण भी हो सकता है। 2020 में हुए एक रिसर्च के मुताबिक कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म की समस्या तंत्रिका तंत्र से जुड़ी समस्या जैसे सूजन या दिल की किसी गंभीर बीमारी के कारण भी हो सकती है। एंजाइना या सीने में दर्द की समस्या वाले लगभग 2 प्रतिशत लोग कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म से पीड़ित माने जाते हैं। इसके अलावा एथेरोस्क्लेरोसिस वाले लोगों में भी यह समस्या हो सकती है। इस समस्या में धमनियों के अंदर प्लाक जमा होने के कारण ब्लड सर्कुलेशन बाधित हो जाता है। कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म के कुछ प्रमुख जोखिम कारक इस प्रकार से हैं।

  • धूम्रपान की वजह से।
  • कोकेन आदि ड्रग्स के सेवन से।
  • बीटा ब्लॉकर्स सहित वैसोकॉन्स्ट्रिक्टर दवाओं के अधिक उपयोग के कारण।
  • अत्यधिक शराब का सेवन करने के कारण।
  • भांग का सेवन करने से।
  • शरीर में मैग्नीशियम की कमी की वजह से।
  • कुछ मामलों में कीमोथेरेपी के कारण।
  • ठंड की वजह से।
  • तनाव और अन्य मानसिक समस्याओं के कारण।

Coronary-Artery-Spasm-Symptoms-Causes-Prevention
(image source - freepik.com)

कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म के लक्षण (Coronary Artery Spasm Symptoms)

कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म की समस्या में हर व्यक्ति में दिखने वाले लक्षण अलग-अलग हो सकते हैं। इसमें दिखने वाले लक्षण इतने हल्के और सामान्य हो सकते हैं कि व्यक्ति को उसका अहसास भी नहीं होता है। लेकिन गंभीर मामलों में कई गंभीर लक्षण दिखाई देते हैं। इस समस्या के कारण मरीज को सीने में दर्द हो सकता है। इसके अलावा कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म की समस्या गंभीर होने पर मरीज को दिल का दौरा भी पड़ सकता है। सामान्य रूप से कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म की समस्या में दिखने वाले कुछ लक्षण इस प्रकार से हैं।

  • सीने में गंभीर दर्द।
  • सिर और कंधों में दर्द।
  • सीने में जलन।
  • सीने या छाती में जकड़न
  • अत्यधिक पसीना आना।
  • मतली या बेहोशी।
  • आराम करते समय सिरदर्द।

कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म की समस्या का इलाज (Coronary Artery Spasm Treatment)

ओरोनरी आर्टरी स्पाज्म की समस्या में चिकित्सक मरीज की स्थिति का पता लगाने के लिए सबसे पहले कई तरह की जांच का सहारा लेते हैं। डॉक्टर इस मामले में इमेजिंग परीक्षण करने के बाद इलाज करते हैं। इस समस्या में चिकित्सक इन जांच का सहारा लेते हैं।

इन परीक्षाओं के बाद डॉक्टर स्थिति के अनुसार मरीज को दवाओं के सेवन की सलाह देते हैं। चिकित्सक ब्लॉकेज को कम करने वाली दवाओं के साथ मरीज को कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित करने की दवाओं के सेवन की सलाह देते हैं।

कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म की समस्या में बचाव के टिप्स (Coronary Artery Spasm Prevention Tips)

कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म की समस्या में बचाव के लिए चिकित्सक मरीजों को खानपान और जीवनशैली में बदलाव की सलाह देते हैं। यह समस्या सबसे ज्यादा स्मोकिंग करने के कारण होती है इसलिए डॉक्टर मरीजों को धूम्रपान न करने की सलाह देते हैं। आप कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म से बचाव के लिए इन बातों को अमल में ला सकते हैं।

  • धूम्रपान न करना।
  • एथेरोस्क्लेरोसिस की समस्या से बचाव।
  • कम फैट वाले भोजन का सेवन।
  • शराब का सेवन न करना।
  • ड्रग्स आदि के सेवन से बचना।
  • नियमित रूप से व्यायाम करना।
  • ब्लड प्रेशर को संतुलित रखना।
  • कोलेस्ट्रॉल के स्तर को संतुलित रखना।
  • दिल की पुरानी बीमारी में समय पर दवाओं का सेवन।
Coronary-Artery-Spasm-Symptoms-Causes-Prevention
(image source - freepik.com)

इस समस्या से बचाव के लिए आप ऊपर बताई गयी बातों को अमल में ला सकते हैं। कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म की समस्या खानपान, जीवनशैली और स्मोकिंग या ड्रग्स के सेवन से सबसे ज्यादा होती है। दिल को स्वस्थ बनाये रखने के लिए आप इन आदतों से दूर रहें। कोरोनरी आर्टरी स्पाज्म के लक्षण दिखने पर एक्सपर्ट डॉक्टर की सलाह के अनुसार इलाज जरूर लें।

(main image source - freepik.com)

Read More Articles on Heart Health in Hindi

Disclaimer