दांत दर्द, सिर दर्द, खांसी जैसी इन 5 समस्याओं को दूर करता है सिरस (शिरीष) का पेड़, जानें प्रयोग का तरीका

स‍िरस औषध‍ि से शरीर की कई समस्‍याएं दूर होती हैं जैसे स‍िर दर्द, दांत का दर्द आद‍ि, अन्‍य लाभ और इस्‍तेमाल का तरीका जानने के ल‍िए पढ़ें पूरा लेख

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Aug 16, 2021 09:52 IST
दांत दर्द, सिर दर्द, खांसी जैसी इन 5 समस्याओं को दूर करता है सिरस (शिरीष) का पेड़, जानें प्रयोग का तरीका

स‍िरस एक पेड़ है ज‍िसके फल, पत्‍ते, बीज, छाल में औषध‍िय गुण होते हैं ज‍िससे शरीर की कई समस्‍याओं को दूर क‍िया जा सकता है। स‍िरस औषध‍ि के क्‍या लाभ हैं?स‍िरस के इस्‍तेमाल से स‍िर का दर्द, माइग्रेन, दांत का दर्द, खांसी, त्‍वचा संबंधी रोग, पील‍िया, बवासीर आद‍ि समस्‍याओं को ठीक क‍िया जा सकता है। स‍िरस के तने भूरे रंग के होते हैं और छाल खुरदरी होती है, बीज बाहर से भूरा होता है वहीं पत्‍ते द‍िखने में इमली के पत्‍तों जैसे नजर आते हैं। इस पेड़ पर उगने वाले फूल पीले और सफेद होते हैं। इस लेख में हम स‍िरस औषध‍ि के फायदे और उसे इस्‍तेमाल करने के तरीकों पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की। 

siras herb benefits

(image source:imimg.com)

1. दांत का दर्द दूर करती है स‍िरस या शिरीष औषध‍ि (Shirish herb cures toothache)

अगर आपके दांत में दर्द है तो आप स‍िरस औषध‍ि का लाभ उठा सकते हैं। स‍िरस के बीज से दर्द दूर हो जाता है। स‍िरस के बीजों का इस्‍तेमाल करने के ल‍िए आप स‍िरस के बीजों को पीसकर पाउडर बना लें अब इसमें लौंग का तेल म‍िलाएं और उस दांत पर लगा लें जहां दर्द है, फिर 20 म‍िनट बाद कुल्‍ला कर लें। इससे दांत का दर्द ठीक हो जाएगा। आप स‍िरस के बीजों का पाउडर अपने टूथपेस्‍ट में म‍िलाकर भी लगा सकते हैं इससे दांतों में सड़न की समस्‍या नहीं होगी पर आपको पायर‍िया के लक्षण या मुंह या दांत से जुड़ी अन्‍य बीमारी के लक्षण नजर आते हैं तो डॉक्‍टर की सलाह पर इस नुस्‍खे को आजमाएं। 

इसे भी पढ़ें- घाव, सूजन, त्वचा रोग जैसी इन 5 समस्याओं को दूर करती है 'गोरख इमली', जानें इस औषधि के प्रयोग का तरीका

2. स‍िर में दर्द हो तो इस्‍तेमाल करें स‍िरस औषध‍ि (Shirish herb cures headache)

अगर आपके स‍िर में दर्द या माइग्रेन जैसी बीमारी के लक्षण हैं तो आप स‍िरस पेड़ के फूलों का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। स‍िरस के ताजे फूलों की खुशबू से स‍िर का दर्द ठीक होता है आपको केवल इस फूल को सूंघना है। फूल को सूंघने के ल‍िए आपको फूल को सीधे हाथ में लेने के बजाय ऐसे कंटेनर में पीसकर डाल दें ज‍िसके ढक्‍कन में छेद हों फ‍िर इसकी खुशबू लें या फ‍िर आप स‍िरस के फूलों को रूमाल में लपेटकर भी इसकी खुशबू ले सकते हैं।

3. स्‍किन से जुड़ी समस्‍याओं को दूर करे स‍िरस (Shirish herb cures skin related problems)

siras herb uses

(image source:pinimg.com) 

आपके शरीर में खुजली होती है तो स‍िरस औषध‍ि का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। स‍िरस के बीज को पीस लें और इसमें एलोवेरा जेल म‍िलाकर त्‍वचा पर लगा लें तो इससे खुजली की समस्‍या दूर हो जाएगी। स‍िरस के पत्‍तों को जली या कटी त्‍वचा पर लगाने से त्‍वचा में जलन कम होती है। स‍िरस की छाल में भी औषध‍िय गुण होते हैं, इसे पीसकर भी आप खुजली वाले ह‍िस्‍से में लगाएंगे तो त्‍वचा को आराम म‍िलेगा। इसके अलावा कुछ लोग सि‍रस के फूलों के रस का सेवन भी करते हैं ज‍िससे खून साफ होता है पर आप आयुर्वेद‍िक डॉक्‍टर से सलाह ल‍िए ब‍िना इसके रस को न प‍िएं। चेहरे पर दाग-धब्‍बे, मुंहासे को हटाने के ल‍िए भी स‍िरस के फूलों का रस इस्‍तेमाल कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- काला जीरा (शाह जीरा) से दूर हो सकती हैं मोटापा, पेट दर्द, फुंसी जैसी ये 5 समस्याएं, जानें उपयोग का तरीका

4. खांसी होने पर इस्‍तेमाल करें स‍िरस या श‍िरीष औषध‍ि (Shirish herb cures cough)

खांसी की समस्‍या दूर करने के ल‍िए आप स‍िरस के बीजों का काढ़ा बना लें, इस काढ़े को पीने से खांसी की समस्‍या दूर हो जाएगी। काढ़ा बनाने के लि‍ए आपको स‍िरस के बीजों को पीसकर पाउडर बनाकर रख लेना है। अब आप दो ग‍िलास पानी लें और इसमें काली म‍िर्च, शहद, स‍िरस के बीज का पाउडर डालकर उबालें। जब पानी आधा रह जाए तो इसका सेवन करें।स‍िरस से खांसी की समस्‍या दूर होती है। 

5. शरीर की कमजोरी दूर करती है स‍िरस की छाल (Shirish herb cures fatigue)

स‍िरस की छाल में भी औषधिय गुण होते हैं। अगर आप शरीर की थकान या कमजोरी दूर करने के उपाय ढूंढ रहे हैं तो आप स‍िरस का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इस पेड़ की छाल को पीस लें और पाउडर को घी में म‍िलाकर खाएं, इससे शरीर की कमजोरी दूर होगी। ज‍िन लोगों को पीलि‍या के लक्षण नजर आते हैं उनके ल‍िए स‍िरस फायदेमंद है। पील‍िया होने पर स‍िरस की छाल का पानी पीना फायदेमंद होता है। स‍िरस की छाल को रातभर भ‍िगोकर रख दें और सुबह उठकर खाली पेट छाल का पानी पी लें तो पील‍िया रोग से छुटकारा पा सकते हैं। 

कई लोगों को नैचुरल औषध‍ि से एलर्जी हो सकती है इसल‍िए अपने आयुर्वेद‍िक डॉक्‍टर से संपर्क करके ही क‍िसी भी औषध‍ि का इस्‍तेमाल करना चाह‍िए। 

(main image source:iafaforallergy)

Read more on Ayurveda in Hindi 

Disclaimer