Expert

सेहत की थाली: खाने में स्वादिष्ट और सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है बथुआ की रोटी, जानें रेसिपी और फायदे

बथुआ एक पत्‍तेदार सब्‍जी है ज‍िससे बनने वाली रोटी स्‍वाद‍िष्‍ट और सेहतमंद होती है, जानते हैं इसे बनाने का तरीका 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Feb 07, 2022Updated at: Feb 07, 2022
सेहत की थाली: खाने में स्वादिष्ट और सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है बथुआ की रोटी, जानें रेसिपी और फायदे

बथुआ एक तरह का साग है ज‍िसका सेवन ज्‍यादातर ठंड के मौसम में क‍िया जाता है, ब‍थुआ की सब्‍जी, रायता या पराठा बनाकर लोग खाते हैं पर इस लेख में हम आपको बथुआ से बनने वाले रोटी के बारे में बताने जा रहे हैं। बथुआ में फाइबर, म‍िनरल, ए, बी, सी जैसे व‍िटाम‍िन मौजूद होते हैं। आप बथुए की रोटी का सेवन कभी भी कर सकते हैं। बथुआ की रोटी को खाने से आपका वजन भी कंट्रोल रहता है क्‍योंक‍ि इसमें फाइबर की अच्‍छी मात्रा होती है। इस लेख में हम बथुआ रोटी के फायदे, उसमें मौजूद पोषक तत्‍व और रेस‍िपी पर चर्चा करेंगे। इस विषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने The Nutriwise Clinic, लखनऊ की  न्‍यूट्रि‍शन‍िस्‍ट नेहा सिन्‍हा से बात की।

bathua

image source:google

क्‍या बथुआ रोटी का सेवन करने से वजन कम होता है? (Bathua roti helps to lose weight)

ज‍िन लोगों को वजन कम करना है उन्‍हें बथुआ रोटी बनाकर खाना चाह‍िए, बथुए में फाइबर की अच्‍छी मात्रा मौजूद होती है। इसका सेवन करने से आपका वजन नहीं बढ़ेगा केवल आपको गेहूं के आटे की जगह होल ग्रेन वीट लेना है। बथुआ रोटी का सेवन करने से आपकी आंखों की रौशनी भी अच्‍छी रहती है। बथुआ में व‍िटाम‍िन ए, ज‍िंक, आयरन मौजूद होता है ज‍िसका सेवन करना फायदेमंद माना जाता है। अगर आप वजन कम करने की कोश‍िश कर रहे हैं तो आपको बता दें क‍ि 100 ग्राम बथुआ में करीब 35 से 40 कैलोरीज होती हैं, इसमें प्रोटीन भी होता है ज‍िससे वजन कम होता है।

इसे भी पढ़ें- मखाना, गुड़ और देसी घी है अच्छी सेहत के लिए अनोखा कॉम्बिनेशन, जानें इसके फायदे और सेवन का तरीका

बथुआ शरीर के ल‍िए क्‍यों फायदेमंद होता है? (Benefits of bathua for health)

बथुआ में ज‍िंक, आयरन, कैल्‍श‍ियम, पोटैश‍ियम, व‍िटाम‍िन बी कॉम्‍प्‍लेक्‍स, व‍िटाम‍िन ए, व‍िटाम‍िन सी, फॉस्‍फोरस आद‍ि पोषक तत्‍व शाम‍िल होते हैं। बथुआ में एम‍िनो एस‍िड भी मौजूद होते हैं जो शरीर के सैल्‍स र‍िपेयर करने का काम करते हैं। बथुआ आपके शरीर को हाइड्रेट रखने में फायदेमंद है, बथुआ में फाइबर की अच्‍छी मात्रा मौजूद होती है, इसका सेवन करने से कॉन्‍सट‍िपेशन की समस्‍या नहीं होती। स्‍क‍िन के ल‍िए भी बथुआ फायदेमंद होता है क्‍योंक‍ि इसका सेवन करने से एक्‍ने की समस्‍या नहीं होती और त्‍वचा सुंदर बनती है।

बथुआ रोटी बनाने का तरीका (How to make bathua roti)

bathua roti

image source:google

सामग्री: बथुआ रोटी बनाने के ल‍िए बथुआ, नमक, पानी, तेल या घी, जीरा, अजवाइन, लहसुन का पेस्‍ट, आटा आद‍ि की जरूरत होगी।

व‍िध‍ि:

  • बथुआ की पत्‍त‍ियों को पानी में साफ कर लें, अब बथुआ की पत्‍त‍ियों को 10 मिनट उबालकर रख लें और पानी न‍िकाल लें।
  • बाउल में आटा डालें और बथुए का पेस्‍ट डाल दें, आटे का रंग डो बनाते समय पूरी तरह से हरा हो जाएगा।
  • अब बाउल में अजवाइन, जीरा, लहसुन का पेस्‍ट और सॉल्‍ट डालें। सारे इंग्रीड‍िएंट्स को अच्‍छी तरह से म‍िक्‍स कर लें।
  • पानी डालकर मुलायम डो तैयार कर लें, डो को फ्लैट सर्फेस पर रखकर रोटी बेल लें।
  • तवे को गरम करें, रोटी को उसपर डालें। घी या हल्‍का तेल रोटी पर लगाएं और रोटी को पलटें।
  • दोनों तरफ से रोटी को अच्‍छी तरह से पका लें और एक्‍सट्रा ऑयल ट‍िशू से पोछकर खाएं।
  • बथुए की रोटी को आप घर की बनी चटनी या सब्‍जी के साथ खा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- नाश्ते में शामिल करें ये 5 मोटे अनाज, जानें इन्हें खाने का तरीका और फायदे

बथुआ क‍ी रोटी में क‍ितनी कैलोरीज होती हैं?

बथुआ की एक रोटी में करीब 70 से 80 कैलोरीज होती हैं। बथुआ की रोटी में कॉर्ब्स, प्रोटीन, करीब 4 ग्राम फैट, फाइबर, सोड‍ियम की मात्रा मौजूद होगी। बथुआ एक पौष्‍ट‍िक हरी सब्‍जी है जो ठंड के मौसम में खाई जाती है, इसे हम प‍िग्‍वीड के नाम से भी जानते हैं।

आप बथुआ के रोटी के साथ दही, चटनी या साग भी खा सकते हैं। बथुआ का रायता और बथुआ की रोटी भी एक साथ खाई जा सकती है।

main image source:google

Disclaimer