क्या रोज अश्वगंधा का सेवन करना सुरक्षित है? जानें कितनी मात्रा में लेना चाहिए अश्वगंधा पाउडर

क्या रोजाना अश्वगंधा का सेवन आपके लिए सुरक्षित है? आइए एक्सपर्ट से जानते हैं इस बारे में-

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Dec 02, 2021Updated at: Dec 02, 2021
क्या रोज अश्वगंधा का सेवन करना सुरक्षित है? जानें कितनी मात्रा में लेना चाहिए अश्वगंधा पाउडर

आयुर्वेद में अश्वगंधा का खास महत्व है। कई तरह की परेशानियों को दूर करने के लिए अश्वगंधा का इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। यह कई आयुर्वेदिक गुणों से भरपूर होता है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीऑक्सीडेंट, लीवर टॉनिक और एंटी-बैक्टीरियल जैसे गुण भरपूर रूप से मौजूद होते हैं। यह सभी पोषक तत्व शरीर को कई तरह की बीमारियों से दूर रखने में असरदार हैं। अश्वगंधा के सेवन से स्ट्रेस दूर हो सकता है। साथ ही इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने में अश्वगंधा काफी प्रभावी है। अश्वगंधा के इन्हीं गुणों की वजह से कई लोग इसका रोजाना सेवन करते हैं। ऐसे में सवाल यह है कि क्यो रोज (Ashwagandha is it safe to take daily) अश्वगंधा का सेवन करना सुरधित है? आपके इसी सवाल का जबाव हम इस लेख में देने जा रहे हैं। सिरसा के आयुर्वेदाचार्य डॉक्टर श्रेय शर्मा से जानते हैं रोजाना अश्वगंधा का सेवन सुरक्षित है या नहीं और कितनी मात्रा में लेना चाहिए अश्वगंधा?

क्या रोज अश्वगंधा का सेवन करना सुरक्षित है? (Is It Safe to Take Ashwagandha daily in Hindi)

आयुर्वेदाचार्य डॉक्टर श्रेय शर्मा बताते हैं कि आप रोज अश्वगंधा का सेवन करना सुरक्षित (can we use ashwagandha daily) माना जाता है। इससे किसी भी तरह का साइड-इफेक्ट नहीं होता है। यह आपके स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल सुरक्षित है। हालांकि, आपको अश्वगंधा का पाउडर खरीदते समय इसमें होने वाले मिलावट की जांच जरूर कर लें। अश्वगंधा में किसी भी तरह के केमिकल्य या पारा की मिलावट नहीं होनी चाहिए। इसलिए हमेशा अच्छी कंपनी का ही अश्वगंधा खरीदें।

इसे भी पढ़ें - अश्वगंधा का लेप लगाने से इन 6 समस्याओं में मिलता है आराम, जानें इस्तेमाल का तरीका

आयुर्वेदाचार्य का कहना है कि अश्वगंधा पाउडर फार्म में लेना आपके लिए अधिक फायदेमंद होता है। आप नियमित रूप से अश्वगंधा का पाउडर ले सकते हैं। यह आपके लिए पूरी तरह सुरक्षित है। इतना ही नहीं, एक्सपर्ट का कहना है कि अश्वगंधा का अगर डोज ज्यादा हो जाए, तो भी इससे विशेष तरह का नुकसान नहीं (is too much ashwagandha bad for you) होता है।  कुछ लोगों को अश्वगंधा के अधिक सेवन से हल्की-फुल्की परेशानी जैसे- पेट में दर्द और उल्टी हो सकती है। हालांकि, कुछ देर बाद यह समस्या ठीक हो जाएगी। 

आयुर्वेदा एक्सपर्ट डॉ. श्रेय शर्मा का कहना है कि अश्वगंधा हमेशा अच्छी कंपनी का लें। क्योंकि इसमें हानिकारक केमिकल्स मिक्स को हो सकते हैं, जिससे आपको भले ही शॉर्ट टर्म में किसी भी तरह की परेशानी महसूस न हो। लेकिन इससे आपको लॉन्ग टर्म में समस्याएं हो सकती हैं। इसलिए अश्वगंधा खरीदते वक्त मिलावटी है या नहीं, इस बात का विशेष ध्यान रखें। 

कितनी मात्रा में लेना चाहिए अश्वगंधा पाउडर (How much ashwagandha per day in Hindi)

आयुर्वेदाचार्य श्रेय शर्मा का कहना है कि अश्वगंधा का सेवन आप किसी भी वक्त कर सकते हैं। आप चाहें, तो मार्केट अश्वंगधा पाउडर लेकर रोजाना इसका सेवन कर सकते हैं। नियमित रूप से अश्वगंधा का सेवन निम्न मात्रा में कर सकते हैं। 

  • 1 से 5 सालों तक के बच्चों को आप रोजाना 1 ग्राम अश्वगंधा पाउडर दे सकते हैं। 
  • 6 से 10 सालों तक के बच्चों को आप रोजाना 2 ग्राम अश्वगंधा पाउडर दे सकते हैं। 
  • 11 से 20 साल के बच्चों को आप 2.5 ग्राम अश्वगंधा पाउडर दे सकते हैं। 
  • 20 से अधिक उम्र के लोग इसका सेवन 2 से 5 ग्राम तक कर सकते हैं। 

ज्यादा मात्रा में अश्वगंधा लेने से होने वाले नुकसान  (too much ashwagandha side effects)  

आयुर्वेदाचार्य का कहना है कि अश्वगंधा का किसी भी रूप में सेवन करना आपके लिए लाभकारी होता है। इससे साइड-इफेक्ट होने का खतरा काफी कम है। अगर आप ज्यादा मात्रा में अश्वगंधा ले लेते हैं, तो इससे आपके शरीर को कोई गंभीर नुकसान नहीं होता है। हालांकि, आपको इसकी वजह से पेट में दर्द और उल्टी जैसी परेशानी हो सकती है।

अश्वगंधा का रोजाना सेवन करना स्वास्थ्य के लिए सुरक्षित है। हालांकि, इसमें किसी तरह का मिलावट न हो, इस बात का ध्यान जरूर करें। ताकि मिलावटी अश्वगंधा से होने वाली समस्या से बचा जा सके।

Disclaimer