Doctor Verified

क्या एसिडिटी और सीने में जलन को डाइट से ठीक किया जा सकता है? जानें एक्सपर्ट की राय

Acid Reflux Diet: अक्सर लोगों के मन में यह सवाल रहता है कि क्या डाइट से एसिड रिफ्लक्स का इलाज किया जा सकता है, यहां जानें विस्तार से।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Apr 29, 2022Updated at: Apr 29, 2022
क्या एसिडिटी और सीने में जलन को डाइट से ठीक किया जा सकता है? जानें एक्सपर्ट की राय

अक्सर लोगों के सीने में जलन या हार्टबर्न (Heartburn) की समस्या होती है। कभी-कभी ऐसा होना बहुत सामान्य है, लेकिन कुछ लोग हर बार खाना खाने के बाद सीने में जलन, ब्लोटिंग और डकार की समस्या होती है। इस स्थिति को मेडिकल भाषा में गैस्ट्रोओसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज (GERD) कहा जाता है, यह पुरानी एसिड रिफ्लक्स (Acid Reflux) स्थिति है। जिसका निदान डॉक्टर द्वारा किया जाता है। एसिड रिफ्लक्स जीवनशैली से जुड़ी एक समस्या है। भोजन-नलिका के निचले भाग के खुल जाने से एसिड रिफ्लक्स होता है। इस एसिड रिफ्लक्स के कारण पेट में दर्द और सीने में जलन आदि महसूस होती है। वर्तमान समय में हम जिस तरह कि जीवनशैली और रूटीन को फॉलो कर रहे हैं, उसके कारण हमारी पाचन क्रिया सही से काम नहीं कर पाती है। वहीं डाइट में फाइबर युक्त भोजन का कम होना और शारीरिक गतिविधियां को ज्यादा न कर पाना गैस्ट्रोएसोफेगल रिफ्लक्स डिजीज या एसिड रिफ्लक्स का कारण (Acid Reflux GERD Causes In Hindi) बनता है। 

सही उपचार से इस समस्या से आसानी से राहत पाई जा सकती है। लेकिन अक्सर लोगों में मन में सवाल होता है कि क्या एसिड रिफ्लक्स को डाइट से ठीक किया जा सकता है (Can Acid Reflux Cure By Diet In Hindi)? अगर ऐसा हो सकता है, तो इसके लिए किस तरह की डाइट को फॉलो करना चाहिए? यह जानने के लिए हमने फोर्टिस अस्पताल, बैंगलोर हमने के वरिष्ठ सलाहकार (गैस्ट्रोएंटरोलॉजी और हैपेटॉबिलिअरी साइंस) डॉ. गणेश शेनॉय से बात की। इस लेख में हम आपको इसके बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

आइए पहले जानते हैं एसिड रिफ्लक्स के कुछ सामान्य कारण (Acid Reflux GERD Causes In Hindi)

एसिड रिफ्लक्स के लिए हमारी जीवन शैली की कई सामान्य आदतें जिम्मेदार हो सकती हैं, जो एसिड रिफ्लक्स के लक्षणों को ट्रिगर करती हैं। जैसे सुबह से शाम तक में खराब रूटीन का फॉलो करना, डाइट से जुड़ी गड़बड़ियां, जिसमें खान-पान की खराब आदतें शामिल हैं। खाना सोने से ठीक पहले खाना, खा कर बैठना या तुरंत लेट जाना आदि। वहीं इनके अलावा कई बार ये समस्या कुछ दवाईयों या अन्य स्थिति के कारण भी हो सकती है जैसे प्रेगनेंसी।

इसे भी पढें: क्या सब के लिए फायदेमंद है कुंदरू? एक्सपर्ट से जानें कुंदरू खाने के फायदे और नुकसान

एसिड रिफ्लक्स के संकेत और लक्षण (Acid Reflux GERD Signs And Symptoms In Hindi)

एसिड रिफ्लक्स या गर्ड होने पर आपको कई संकेत और लक्षण देखने को मिल सकते हैं। जैसे:

  • खट्टी डकारें आना
  • ब्लोटिंग या पेट फूल जाना
  • कफ और गले में दर्द महसूस होना।
  • पेट में दर्द होना
  • सीने में जलन और दर्द महसूस करना।
  • खाने के बाद या खाने के दौरान भी मुंह में बार-बार खराब स्वाद आना।

आइए अब जानते हैं क्या एसिड रिफलक्स (GERD) डाइट से ठीक किया जा सकता है? (Can Acid Reflux GERD Cure By Diet In Hindi)

डॉ. गणेश शेनॉय की मानें तो एसिड रिफ्लक्स या गर्ड (GERD) को डाइट से ठीक नहीं किया जा सकता है। अभी तक ऐसी कोई डाइट नहीं है जिससे एसिड रिफ्लक्स का इलाज (Acid Reflux GERD Treatment In Hindi) किया जा सके। हालांकि, सही खानपान आपको एसिड रिफ्लक्स को कंट्रोल करने में मदद कर सकता है, और समस्या को गंभीर होने से रोक सकता है। आप अपने आहार में कुछ फूड्स को शामिल करके एसिड रिफ्लक्स को कंट्रोल कर सकते हैं, जैसे:

1. फाइबर रिच फूड्स: साबुत अनाज, ओटमील, ब्राउन राइस, शकरकंद, गाजर और चुकंदर जैसी जड़ वाली सब्जियां। हरी सब्जियां जैसे शतावरी, ब्रोकली और हरी बीन्स।

2. अल्कलाइन फूड्स: केला, खरबूजा, गोभी, सौंफ, नट्स, एवोकाडो आदि।

3. पानी वाले फूड्स: अजमोदा (सेलेरी), खीरा, सलाद पत्ता, तरबूज, शोरबा, सूप, हर्बल टी आदि।

इसे भी पढें: शरीर में जिंक की कमी होने पर दिखाते हैं ये 7 लक्षण, जानें जिंक से भरपूर फूड्स जो करेंगे कमी पूरी

यह भी ध्यान रखें

एसिड रिफ्लक्स के लिए सबसे जरूरी है अपने डॉक्टर परामर्श करना। अगर आप ऊपर दिए गए लक्षणों का अनुभव करते हैं तो आपको अपने डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए, जिससे कि वह इसका निदान कर सके और आपको सही उपचार प्रदान सके।

All Image Source: Freepik

(With Inputs: Dr. Ganesh Shenoy K, SENIOR CONSULTANT - Gastroenterology and Hepatobiliary Sciences, Fortis Hospital, Cunningham Road, Bangalore)

Disclaimer