Hair Care: पसीने और उमस से भी बालों में होता है Scalp Psoriasis, छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये 5 घरेलू उपाय

सोरायसिस एक इम्यून मिडिएटिड जेनेटिकल डिटर्माइन स्किन कंडीशन है। वहीं स्कै‍ल्प पर होने वाली इरिटेशन, खुजली और जलन स्कैल्प सोरायसिस के कारण हो सकती है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariUpdated at: May 29, 2020 11:08 IST
Hair Care: पसीने और उमस से भी बालों में होता है Scalp Psoriasis, छुटकारा पाने के लिए अपनाएं ये 5 घरेलू उपाय

सोरायसिस (Psoriasis) त्वचा की एक ऐसी स्थिति है जो त्वचा, स्कैल्प, नाखून और जोड़ों को प्रभावित कर सकती है। जब इसमें स्कैल्प शामिल होता है, तो हम इसे स्कैल्प सोरायसिस (Scalp Psoriasis) कहते हैं। आमतौर पर अत्यधिक रूसी के रूप में ये इसके रोगियों में पाया जाता है। कभी-कभी ये पैच दर्दनाक हो सकते हैं और दरार और खून आ सकते हैं। अक्सर, यह स्थिति खोपड़ी, माथे, कान के पीछे और गर्दन को प्रभावित करती है। जिन लोगों को स्कैल्प सोरायसिस की परेशानी रहती है, उनमें गर्मियों में ये फिर से उभर सकता है। दरअसल बालों में पसीने की समस्या और उमस के कारण होनी वाली गंदगी से स्कैल्प सोरायसिस बढ़ जाता है। ऐसे में आप घर में ही स्कैल्प सोरायसिस का उपचार (Treating Scalp Psoriasis at Home) कर सकते हैं। 

insidehomeremediesScalpPsoriasis

स्कैल्प सोरायसिस का उपचार

घरेलू उपचार से स्कैल्प सोरायसिस लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है। बाकी अगर ये बहुत ज्यादा बढ़ जाए, तो आपको अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

हल्दी और टी ट्री ऑयल 

हल्दी एक जड़ी बूटी है, जो अपने एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुणों के लिए जाना जाता है। वहीं टी ट्री ऑयल सूजन वाली त्वचा की स्थिति का इलाज करता है। स्कैल्प सोरायसिस को ठीक करने के लिए ये दोनों हमारे काम आ सकते हैं। आपको हल्दी को टी ट्री ऑयल में मिलाकर स्कैल्प पर लगाएं, तो यह एक एंटीसेप्टिक के रूप में काम करेगा है। ये स्कैल्प सोरायसिस से जुड़ी सूजन और रेडनस को भी कम करेगा। ध्यान रखें कि कुछ लोगों चाय के पेड़ के तेल से एलर्जी के प्रति संवेदनशील होते हैं, तो ऐसे लोग इसकी जगह एलोवेरा को हल्दी में मिलाकर इस्तेमाल करें।

insidehaldi

इसे भी पढें :  गर्मी का मौसम आते ही बालों पर से उतरने लगी पपड़ी? 5 उपायों से साफ करें सिर पर जमी पपड़ी, खुजली भी हो जाएगी दूर

सेब का सिरका

एप्पल साइडर सिरका स्कैल्प सोरायसिस के साथ जुड़े खुजली को कम करने में मदद कर सकता है। सप्ताह में कुछ बार अपने स्कैल्प पर ऑर्गेनिक एप्पल साइडर विनेगर लगाने की कोशिश करें।आप पानी के साथ एप्पल साइडर सिरका को पतला कर सकते हैं। जलन रोकने के लिए लगाने के बाद त्वचा को रगड़ें। अगर आपकी त्वचा में दरार है या खून बह रहा है, तो इस उपचार का प्रयास न करें। 

बेकिंग सोडा

खुजली वाली खोपड़ी के लिए बेकिंग सोडा एक त्वरित और आसान उपचार है। एक छोटा गिलास पानी लें और बेकिंग सोडा के एक चम्मच में मिला करें। फिर अपने सिर के क्षेत्र पर मिश्रण लागू करने के लिए एक कपास पैड या वाशक्लॉथ का उपयोग करें। ये बालों के नीचे खुजली और सूजन से राहत पाने में आपकी मदद कर सकता है।

insideBAKINGSODA

इसे भी पढें : झड़ते बालों को रोक देगा स्कैल्प मसाज का ये खास तरीका, घर पर बनाए तेल से करें सप्ताह में 3 बार 15 मिनट मसाज

एवोकैडो तेल

नारियल और एवोकैडो स्वस्थ वसा से भरे होते हैं जो त्वचा के स्वास्थ्य को बढ़ाते हैं। इस तेल की कुछ बूंदों की मालिश करें, अपने स्कैल्प पर ठंडा या हल्का गर्म करें और शॉवर कैप लगा लें। 20 मिनट तक प्रतीक्षा करें, टोपी को हटा दें, फिर अपने बालों को हमेशा की तरह धो लें। ये स्कैल्प को साफ करने के साथ खुजली से आराम दिला सकता है।

ओट्स को ऊबाल कर उसके पानी से बाल धोएं

एक कप बिना छीले ओट्स को गर्म स्नान में डालकर 15 मिनट तक भिगोएं या फिर उसे ऊबाल लें। फिस इसके छान लें और इस पानी को अपने स्कैल्प को धोएं। ये सोरायसिस के लक्षणों को कम करने में मदद देगी। दरअसल ओट्स खुजली, सूजन, और रेडनस को भी कम करने में मदद करता है। आप इसे रोज स्नान करते समय कुछ दिनों तक करें, ये आपको स्कैल्प से जुड़ी परेशानियों से छुटकारा पाने में मदद करेगा।

Read more articles on Hair-Care in Hindi

Disclaimer