कैंसर से संबंधित इन लक्षणों को महिलाएं न करें नज़रअंदाज, गायनोकोलॉजिस्ट से लें जानकारी

सामान्य दिखने वाले बदलाव भी कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। ऐसे में महिलाओं को मुख्य बदलावों के बारे में पता होना चाहिए।

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Oct 26, 2020Updated at: Oct 26, 2020
कैंसर से संबंधित इन लक्षणों को महिलाएं न करें नज़रअंदाज, गायनोकोलॉजिस्ट से लें जानकारी

महिलाओं के शरीर में हमेशा किसी न किसी प्रकार के बदलाव होते रहते हैं, लेकिन कई बार बिल्कुल सामान्य दिखने वाले बदलाव भी कैंसर के लक्षण हो सकते हैं। महिलाओं के लिए जरूरी है कि वे किसी बड़े बदलाव को अनदेखा न करके तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर से परामर्श लें। आइये जानते हैं कुछ ऐसे ही बदलावों के बारे में, जो महिलाओं में कैंसर का संकेत हो सकते हैं। पढ़ते हां आगे...

स्तन में बदलाव

महिलाओं के स्तन उनके शरीर का एक अहम हिस्सा हैं, जिसमें आए दिन किसी न किसी प्रकार के बदलाव होते रहते हैं। लेकिन कई बार सामान्य दिखने वाले ये बदलाव स्तन कैंसर का संकेत हो सकते हैं। इसलिए यदि आपके स्तन में सूजन, गांठ, बिना स्तनपान के निप्पल डिस्चार्ज, सिकुड़ी त्वचा, हल्का लाल या नारंगी रंग, स्तन में गंभीर खुजली, निप्पल के आसपास की त्वचा का ढ़ीला पड़ना आदि जैसी समस्याएं नजर आ रही हैं, तो तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर से संपर्क करें।

महीने में दो बार पीरियड्स होना

सामान्यतौर पर महिलाओं का मासिक धर्म 25-28 दिनों के अंतराल के आधार पर चलता है। लेकिन कई ऐसी भी महिलाएं होती हैं, जिन्हें महीने में एक बार से ज्यादा पीरियड्स होते हैं। ऐसी महिलाओं में बहुत दर्द और अधिक रक्तबहावकी संभावना ज्यादा होती है, जिसके कारण उन्हें हमेशा कमजोरी का एहसास होता है। जिन महिलाओं में पीरियड्स बंद होने के बाद दोबारा खून आजाता है, आमतौर पर महिलाएं इसे गंभीरता से नहीं लेती हैं, और यही लापरवाही बाद में उनपर भारी पड़ जाती है। हालांकि, कई बार इस समस्या के कारण अलग हो सकते हैं, वहीं कई बार ये समस्या कैंसर का संकेत हो सकती है, इसलिए इसे नजरअंदाज करने की गलती बिल्कुल न करें।

पेशाब या मल के साथ खून आना

यदि आपको पेशाब या मल के दौरान ब्लीडिंग की समस्या हो रही है, तो तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें। आमतौर पर यदि लगातार कई दिनों से मल के साथ खून आ रहा है, तो आपको पाइल्स की समस्या हो सकती है, लेकिन यह कोलन कैंसर का संकेत भी हो सकता है। पेशाब में खून की समस्या पित्त की थैली या किडनी के कैंसर की ओर इशारा करती है।   

इसे भी पढ़ें- महिलाओं में पेट की परेशानी के पीछे हो सकते हैं ये 3 कारण, जानें कैसे आपके हार्मोन आपका हाजमा बिगाड़ सकते हैं

त्वचा में बदलाव

कई बार त्वचा पर अजीब दिखने वाले चकत्ते पड़ने लगते हैं, जिसमें पीड़ित व्यक्ति को खुजली का अनुभव भी हो सकता है। इसके अलावा कई बार चलते-फिरते चोट लगने के कारण चोट वाली जगह का रंग बदल जाता है। यदि कई हफ्तों के बाद भी त्वचा का रंग सामान्य नहीं हो रहा है, तो यह त्वचा के कैंसर का लक्षण हो सकता है।

बेवजह वजन कम होना

यदि बिना किसी एक्सरसाइज या खास डाइट के बाद भी आपका वजन बहुत तेजी से कम हो रहा है, तो यह एक चिंताजनक बात है। आमतौर पर वजन का अचानक कम होना कैंसर नहीं बल्कि थायरॉइड की समस्या हो सकती है, लेकिन कई बार यह कैंसर का भी लक्षण हो सकता है।

इसे भी पढ़ें- गर्भवती महिलाओं को पहली तिमाही के बाद से नहीं करने चाहिए घर के ये 5 काम, गर्भ में शिशु को हो सकती है परेशानी

निगलने में कठिनाई

गले में खराश, संक्रमण, टॉन्सिल्स आदि जैसी समस्याओं के चलते हमें निगलने में कठिनाई हो सकती है। लेकिन अगर बिना किसी स्पष्ट कारण के आपको काफी समय से निगलने में समस्या हो रही है या छाले ठीक नहीं हो रहे हैं तो यह गले या मुंह का कैंसर हो सकता है। इसके अलावा यदि खाते ही उल्टी हो जाती है, तो यह खाने की नली/पेट के कैंसर की ओर इशारा करता है। ऐसी समस्या होने पर तुरंत किसी अच्छे डॉक्टर से संपर्क करें।

ये लेख मैक्स सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, साकेत की गायनेकोलॉजिस्ट ऑन्कोलॉजिस्ट, डॉक्टर चारु गर्ग, से बातचीत पर आधारित है।

Read More Articles on Women Health in Hindi

Disclaimer