सर्दियों में जरूर खाएं आटे और गुड़ का हलवा, सेहत को मिलेंगे ये 5 फायदे

Wheat Flour Halwa with Jaggery Benefits: सर्दियों में गेहूं के आटे और गुड़ का हलवा खाना सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। आटे का हलवा खाने के फायदे

Anju Rawat
Written by: Anju RawatUpdated at: Dec 19, 2022 16:26 IST
सर्दियों में जरूर खाएं आटे और गुड़ का हलवा, सेहत को मिलेंगे ये 5 फायदे

Wheat Flour Halwa Using Jaggery in Hindi: सर्दियों में हम सभी तरह-तरह का हलवा खाना पसंद करते हैं। अधिकतर लोग सर्दियों में गाजर, सूजी, राजगिरी, सिंघाडे के आटे का हलवा बनाकर खाते हैं। सर्दियों में हलवा खाने से शरीर की इम्यूनिटी बूस्ट होती है। इससे सर्दी, जुकाम और खांसी आदि से बचाव होता है। आप चाहें तो सर्दियों में शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए गेहूं के आटे का हलवा बनाकर खा सकते हैं। वैसे तो कई लोग हलवे को चीनी में बनाकर खाते हैं, लेकिन इसे हेल्दी बनाने के लिए आप गुड़ का उपयोग कर सकते हैं। गेहूं के आटे को गुड़ में मिलाकर हलवा बनाने से सेहत को कई लाभ मिल सकते हैं। तो चलिए, जानते हैं गेहूं के आटे और गुड़ का हलवा खाने से शरीर को क्या-क्या लाभ मिल सकते हैं? या फिर सर्दियों गेहूं के आटे और गुड़ का हलवा खाने के फायदे क्या हैं? (Wheat Flour Halwa Using Jaggery in Hindi)

सर्दी में आटे और गुड़ का हलवा खाने के फायदे- Wheat Flour Halwa with Jaggery Benefits

1. पेट के लिए उपयोगी

सर्दियों में अकसर पेट अपसेट रहता है। लोगों को पेट से जुड़ी समस्याओं (Aate ka Halwa Khane ke Fayde) से परेशान होना पड़ता है। ऐसे में आप आटे के हलवे को गुड़ में बनाकर खा सकते हैं। गुड़ में आटे का हलवा बनाकर खाने से डाइजेशन में सुधार होता है। पाचन तंत्र सही तरीके से काम करता है और पेट की परेशानियों में आराम मिलता है।

इसे भी पढ़ें- हेल्थ भी, टेस्ट भी: सर्दियों में जरूर खाएं गाजर का हलवा, जानें सेहत के लिए कैसे और कितना फायदेमंद है ये हलवा

2. हड्डियां मजबूत बनाए

गुड़ में आटे का हलवा बनाकर खाने से हड्डियां भी मजबूत बन सकती हैं। अगर आपको अकसर ही जोड़ों और मांसपेशियों में दर्द (Aate ka Halwa for Muscles Pain) रहता है, तो आप आटे का हलवा बनाकर खा सकते हैं। गुड़ में मौजूद कैल्शियम और विटामिन्स हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करते हैं। 

3. एनर्जी मिलती है

आटे का हलवा खाने से आपको पर्याप्त एनर्जी मिल सकती है। दरअसल, आटे के हलवे में कार्ब्स, एनर्जी होती है। इससे आपको एनर्जी और ऊर्जा मिलती है। पूरे दिन भर एनर्जेटिक रहने के लिए आप सुबह नाश्ते में आटे का हलवा बनाकर खा सकते हैं। इससे आपकी थकान और कमजोरी भी दूर होगी

4. इम्यूनिटी बढ़ाए

आटे का हलवा खाने से आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता भी मजबूत (Wheat Flour Halwa for Immunity) बन सकती है। दरअसल, सर्दियों में लोगों को सर्दी-जुकाम और खांसी से परेशान होना पड़ता है। ऐसे में अगर आप सर्दियों में गुड़ में बना आटे का हलवा खाएंगे, तो इससे आपकी इम्यूनिटी बढ़ेगी साथ ही आप जल्दी से बीमार भी नहीं पड़ेंगे।

aata gud halwa benefits

5. ब्लड प्यूरीफाई करने में मददगार

सर्दियों में हम सभी फास्ट फूड का अधिक सेवन करते हैं। इससे हमारा पाचन तंत्र खराब होता है। साथ ही ब्लड में भी अशुद्धि होने लगती है। ऐसे में आप अपने रक्त को शुद्ध करने के लिए आटे का हलवा बनाकर खा सकते हैं। गुड़ में बना आटे का हलवा खाने में स्वादिष्ट होने के साथ ही पोषक तत्वों से भी भरपूर होता है। ब्लड को प्यूरीफाई करने के लिए आप पतला-पतला आटे का हलवा बनाकर खा सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- Healthy Breakfast: बच्चों को नाश्ते में पसंद है हलवा? तो सूजी का नहीं बल्कि आटे का हलवा खिलाएं

आटे का हलवा कैसे बनाएं? - Gehu ke Aate ka Halwa Kaise Banaye

आटे का हलवा बनाने की विधि क्या है (How to Make Aate ka Halwa with Jaggery in Hindi)? आटे का हलवा बनाने के लिए सबसे पहले कड़ाही में देसी घी डालें। अब घी को पकाएं और इसमें आटा डाल दें। अब इस आटे को लो फ्लेम पर भून लें। आटे को तब तक भूनते रहें, तब तक यह सुनहरा न हो जाए। साथ ही जब तक इसमें खुशबू न आ जाएं। इसके बाद इसमें गुड़ का पाउडर डालें और फिर मिक्स कर लें। जब आटा और गुड़ मिक्स हो जाए, तो दूध डालें और हलवे को अच्छी तरह से पकने दें। ध्यान रखें कि हलवे की गुठलियां न बन जाएं। दूध डालने के बाद हलवे को 4-5 मिनट तक पकाएं और फिर गैस बंद कर दें। इसके बाद इसमें ड्राई फ्रूट्स डालें और फिर गर्मागर्म खाएं। आप चाहें तो इसमें नारियल का बुरादा भी डाल सकते हैं।

Disclaimer