हेल्थ भी, टेस्ट भी: सर्दियों में जरूर खाएं गाजर का हलवा, जानें सेहत के लिए कैसे और कितना फायदेमंद है ये हलवा

सर्दियों में 'गाजर का हलवा' जरूर खाएं। जानें गाजर के हलवे में मौजूद पोषक तत्व, कैलोरीज और ढेर सारे स्वास्थ्य लाभ।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Dec 27, 2019Updated at: Dec 07, 2020
हेल्थ भी, टेस्ट भी: सर्दियों में जरूर खाएं गाजर का हलवा, जानें सेहत के लिए कैसे और कितना फायदेमंद है ये हलवा

सर्दियों में मीठे की बात करते ही ज्यादातर लोगों को गाजर का हलवा याद आ जाता है। भारत में, गाजर का हलवा शायद सबसे लोकप्रिय मीठे व्यंजनों में से एक है। लेकिन क्या आप गाजर के हलवे के मूल इतिहास के बारे में जानते हैं? दरअसल गाजर का हलवा असल में मुगलों का व्यंजन है। गाजर का हलवा पहली बार मुगल काल के दौरान उनके शासकों को खाने में पेश किया गया था और इसी से इसका अरबी नाम और शब्द 'हलवा' भी उत्पन्न हुआ है, जिसका अर्थ होता है 'मीठा'। वहीं मुगलों के जाने के बाद यह पंजाब से जुड़ा रहा और आज ये पूरे भारत के लिए मीठे में सबसे पसंदीदा विकल्प है।

inside_gajarkahalwa 

गाजर का हलवा मूल रूप से गाजर, दूध,घी और मेवे आदि से बनता है लेकिन आजकल इसमें मावे (खोया) जैसी कई अन्य सामग्रियां भी शामिल की जाती हैं। यह इसे बनाने का सबसे पारंपरिक तरीकों में से एक है। इसकी गर्म तासीर आपको सर्दी-जुकाम से बचाए रखने में मदद करती है। वहीं बात गाजर की जाए, तो इसमें विटामिन-ए और बीटा केरोटीन नामक पोषक तत्व होते, जो आंखों का रोशनी बढ़ाने, कब्ज और लो बल्ड प्रेशर को ठीक करने में मदद करते हैं। पर वहीं इसकी मिठास वजन बढ़ने और डायबिटीज के मरीजों के लिए एक चिंता का कारण हो सकती है। पर इसके लिए हमें सबसे पहले इसके संपूर्ण पोषण के बारे में जानना होगा। तो इसे जानने के लिए 'ऑन्ली माई हेल्थ' ने डायटिशियन दीपिका चौधरी से बात की, जिन्होंने डायटेटिक्स और न्यूट्रीशन में डिप्लोमा किया है। 

इसे भी पढ़ें : सेहत की थाली: जानें 1 प्लेट Veg Momos (वेज मोमोज) खाने से मिलने वाली कैलोरीज और सेहत पर असर

डॉ. दीपिका बताती हैं कि पहले तो आप देखे कि गाजर के हलवे में क्या-क्या सामग्री हैं और उनके न्यूट्रीशनल वैल्यू क्या हैं। उन्होंने बताया कि आमतौर पर घरों में बनने वाले गाजर के हलवे में देसी घी, दूध, गाजर कद्दूकश किया हुआ, इलायची और कुछ ड्राई फ्रूट्स आदि। आइए अब पहले इनके न्यूट्रीशनल वैल्यू को देख लेते हैं-

गाजर के हलवे की सामग्री और उनके न्यूट्रीशनल वैल्यू 

  • 100 ग्राम गाजर- 41 कैलोरी
  • 2 कप दूध - 206 कैलोरी
  • 1 बड़ा चम्मच घी- 115 कैलोरी
  • 1 बड़ा चम्मच चीनी- 69 कैलोरी
  • 5 ग्राम काजू- 32 कैलोरी
  • 8 ग्राम इलायची - 0 कैलोरी
  • 3 ग्राम किशमिश- 11 कैलोरी
  • टोटल कैलोरी= 474
ingredientsandfacts

पोषक तत्वों की बात करें, तो

  • फैट- 21.7 कैलोरी
  • प्रोटीन-5.3 ग्राम
  • कार्बोहाइड्रेट- 31.6 ग्राम
  • डाइट्री फाइबर-2.2 ग्राम
  • कोलेस्ट्रोल- 5 एमजी
  • विटामिन-ए 38 %
  • विटामिन- बी1 -10%
  • विटामिन -बी2 -9 %
  • विटामिन -बी3- 5%
  • विटामिन- सी 10%
  • कैल्शियम- 50%
  • आयरन -4%
  • मैग्नीशियम -4%
  • फास्फोरस -95%

स्वास्थ्य लाभ-

डॉ. दीपिका की मानें, तो गाजर का हलवा खाने के कई फायदे भी हैं। दरअसल भले आपको इसके मिठास से डर लगता हो, पर इसे खाने से आपके शरीर में विटामिन-ए और फाइबर की मात्रा बढ़ जाती है। इस तरह ये आपके पेट के लिए अच्छा होता है। वहीं इससे आपका लो ब्लड प्रेशर भी नॉर्मल हो सकता है। इसनें विटामिन-बी1 भी होता है, जो कि एक एंटिऑक्सीडेंट है और शरीर को कई हानिकारक बैक्टीरिया से लड़ने में मदद करता हैं। वहीं इसमें दूध और ड्राई फ्रूट्स के रूप में कैल्शियम और फास्फोरस की अच्छी मात्रा भी होती है, जो आपके हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक माना जाता है।

insidecaloriesofhalwa

गाजर के हलवे से नुकसान और उसका उपाय-

वहीं लगभग एक कटोरी गाचर का हलवा खाकर आप लगभग 386 से 474 कैलोरी या इससे ज्यादा आप गेन कर लेते हैं। इसका मतलब ये भी है कि आपने ने अपने पूरे दिन के कैलोरी का एक बड़ा हिस्सा इसे खाकर प्राप्त कर ली है। ये सारी चीजें आपके लिए पूरी तरह से हेल्दी नहीं हो सकती है। इतना फैट आपको मोटा बना सकता हैं। साथ ही डायबिटीज और ब्लड प्रेशर से पीड़ित लोगों के लिए ये काफी अनहेल्दी हो जाता है। जो लोग वेट लूज कर रहे हैं, उनके लिए तो ये पूरी तरह से नुकसानदेह है। इसलिए ऐसे लोगों को चाहिए कि वे इस थाली में कुछ चीजों को कम करें। इसके लिए-

  • -फुल क्रीम दूध की जगह आप लो फैट मिल्क का इस्तेमाल करें।
  • -घी का प्रयोग न करें, सीधे दूध में ही गाजर को पकाएं।
  • -चीनी की जगह आप शुगर फ्री और खजूर को पीस कर भी मिठास के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • -वहीं अगर आप डायबिटीक हैं या वेट बढ़ने की चिंता है तो रात के वक्त या खाली पेट इसे कभी न लें।

इसे भी पढ़ें : सेहत की थाली: सेहत के लिए कितनी फायदेमंद है बिरयानी, जानें इससे मिलने वाली कैलोरीज, फायदे और नुकसान

inside_burncaloriesofhalwa

कैसे करें गाजर के हलवे से मिले कैलोरीज को बर्न?

इसके अलावा गाजर के हलवे की कैलोरी बर्न करने के लिए आप कुछ व्यायाम, एक्सरसाइज और योग आदि कर सकते हैं। इसके अलावा भी आफ इन चीजों की मदद से गाजर के हलवे की कैलोरी बर्न कर सकते हैं। जैसे-

  • लगभग 50 मिनट तक साइकिल चलाएं
  • 39 मिनट रनिंग
  • 6 किलोमिटर वॉकिंग
  • लगभग 1 घंटे स्विमिंग

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer