एक्सरसाइज की तुलना में तेजी से वजन घटाता है 'कार्डियो योग', जानें क्या है ये और इसे करने का सही तरीका

कार्डियो योग वजन घटाने के अलावा भी शरीर के कई अंगों के लिए फायदेमंद है। आइए जानते हैं इसे करने का तरीका और फायदे।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Oct 22, 2020
एक्सरसाइज की तुलना में तेजी से वजन घटाता है 'कार्डियो योग', जानें क्या है ये और इसे करने का सही तरीका

योग और प्राणायाम शरीर को शारीरिक शांति के साथ मानसिक शांति देने का भी काम करते हैं। वहीं शरीर के अलग-अलग अंगों के हिसाब से भी कई खास योगासन होते हैं, जो कि शरीर के उस विशेष अंग को ही ज्यादा लाभ पहुंचाते हैं और उनसे जुड़ी बीमारियों को कम करने में मदद करते हैं। पर आज हम आपको योग के खास प्रकार के बारे में बताने जा रहे हैं, जो कि आपको तेजी से वजन घटाने में मदद कर सकता है। जी हां, आज हम बात कार्डियो योग (cardio yoga)की करेंगे, जो कि पारंपरिक योग के विपरित है। इसमें सांस लेने की तकनीक, शरीर के प्रवाह और मुद्राएं पारंपरिक योग से काफी अलग है। इस कार्डियो योग में अधिक गतिशील आंदोलनों को शामिल किया गया है, जो आपकी तीव्रता को बढ़ाता है, जिससे मांसपेशियों पर बल पड़ता है और वजन घटाने में आसानी होती है। तो आइए जानते हैं क्या है ये कार्डियो योग (What is cardio yoga) और फिर इसे करने का तरीका और फायदे।

insidehowtodocardioyoga

कार्डियो योग क्या है (What is cardio yoga)?

योग को अक्सर चिंता, चेतना, ध्यान, श्वास तकनीक और ध्यान प्रथाओं पर ध्यान केंद्रित रहा है। लेकिन कार्डियो योग में इन तमाम चीजों पर ध्यान रखते हुए गति के बारे में ज्यादा सोचा जाता है। इस योग में हार्ट बीट की गति को बढाने और मांसपेशियों को मजबूत बनाने पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है। कार्डियो योग वर्कआउट में तेज गति से योग-प्रेरित मूवमेंट्स को शामिल किया और अधिक मांसपेशियों को संलग्न करने के लिए निरंतर प्रवाह के साथ और आपके हृदय, या संचार प्रणाली को चुनौती दिया जाता है। वहीं इसे करने का एक सीक्वेंस भी है, जिसे अगर आप सही से फॉलो करें , तो इसका ज्यादा से ज्यादा लाभ उठा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : पारंपरिक उपवास और वजन घटाने के लिए भूखा रहने में क्या अंतर है? डायटीशियन रुजुता दिवेकर से जानें दिलचस्प बातें

कार्डियो योग करने का तरीका

  • -अपने पैरों के साथ सीधे खड़े होना शुरू करें और समान रूप से वजन का वितरित करें।
  • - आपके कंधों को पीछे की ओर ले जाएं और आपके हाथ जमीन के समानांतर आपकी ठोड़ी आपकी तरफ लटके होने चाहिए।
  • - श्वास लें और अपने घुटनों को थोड़ा मोड़ें, अपने हाथों को अपने सिर के ऊपर उठाते हुए अपनी हथेलियों को एक साथ लाएं और अपने अंगूठे की तरह देखें।
  • - सांस छोड़ें और अपने पैरों को सीधा करें। कूल्हों से आगे झुकें और अपने हाथों को नीचे लाएं। अपनी गर्दन को आराम दें।
  • -फिर श्वास लें और अपनी रीढ़ को लंबा करें, आगे की ओर देखते हुए और अपने कंधों को खोलें।
  • -सांस छोड़ें और कूदें या अपने पैरों को पीछे ले जाएं। अपनी कोहनी मोड़ें। 
  • -आप या तो अपने घुटनों को जमीन से दूर रख सकते हैं, या अपने घुटनों को जमीन पर लाकर व्यायाम को संशोधित कर सकते हैं।
  • -अब इसी मुद्रा में कुछ पुशअप्ल लगाएं।
  • -इसे बार-बार दोहराते रहें और नॉर्मल हो जाएं।
insidebenefitsofcardioyoga

इसे भी पढ़ें : बीमारियों से बचे रहना है तो संतुलित रखें अपना वजन, जानें वेट लॉस के लिए कुछ खास व्यायाम

वजन घटाने के लिए कार्डियो योग कैसे फायदेमंद है?

कार्डियो योग में शरीर का मूवमेंट बहुत तेज होता है, जिससे कि तेजी से कैलोरी बर्न होती है। वहीं इस योग से शरीर की वजन, बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई), कमर की परिधि या शरीर में फैट के प्रतिशत में कमी लाई जा सकती है। साथ ही इस कार्डियो को करने का एक फायदा ये भी है कि ये शरीर की बाकी मांसपेशियों को भी स्वस्थ रखने का काम करती है। वहीं शरीर के कुछ अंग जैसे बैली फैट, थाइस फैट और हाथों के फैट को बर्न करने के लिए भी ये कार्डियो योग फायदेमंद है।

तो हर दिन 30 मिनट के लिए प्रति सप्ताह कम से कम 5 बार कार्डियो योग करें, आप पाएंगे कि ये आसानी से आपके फैट पर असर दिखाएगा।  हालांकि, ध्यान रखें कि पैरों में दर्द और गठिया आदि की शिकायत होने पर कार्डियो योग करने से बचें।

Read more articles on Yoga in Hindi

Disclaimer