हार्मोन का असंतुलन होने पर अपनाएं ये 6 घरेलू उपाय

हार्मोन के असंतुलित हो जाने पर अक्सर व्यक्ति को कई समस्या का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में कुछ घरेलू उपाय समस्या को दूर करने में उपयोगी है।

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Sep 02, 2021Updated at: Sep 02, 2021
हार्मोन का असंतुलन होने पर अपनाएं ये 6 घरेलू उपाय

हार्मोन हमारे शरीर में रक्त के माध्यम से अंगों और ऊतकों तक अपनी पहुंच बनाते हैं। इनका महत्वपूर्ण योगदान शरीर के विकास, मूड स्विंग, मेटाबॉलिज्म आदि में होता है। ऐसे में जब हार्मोनल असंतुलन की समस्या होती है तो शरीर की वृद्धि, मेटाबॉलिज्म और मूड आदि पर प्रभाव पड़ता है। बता दें कि हमारे शरीर में जब हार्मोन असंतुलित हो जाते हैं तो इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं। जैसे भरपूर मात्रा में नींद ना लेना, तनाव कम होना, समय पर भोजन ना करना, अनियमित जीवनशैली आदि। ऐसे में कुछ घरेलू उपचार इस समस्या को दूर करने में आपके काम आ सकते हैं। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि ऐसे कौन से घरेलू उपाय आप अपना सकते हैं। इसके लिए आयुर्वेद संजीवनी हर्बल क्लिनिक शकरपुर, लक्ष्मी नगर के आयुर्वेदाचार्य डॉ एम मुफिक (Ayurvedacharya Dr. M Mufik) से भी बात की है। पढ़ते हैं आगे...

1 - अलसी के बीजों का उपयोग

अलसी के बीजों से भी हारमोंस को संतुलित किया जा सकता है। ऐसे में अलसी के बीज का सेवन प्रतिदिन करें। ऐसा करने से न केवल मासिक धर्म के दर्द से आराम मिलता है। बल्कि इसके अंदर पाए जाने वाला ओमेगा 3 फैटी एसिड हार्मोन को संतुलित भी रखने में  भी आपकी मदद कर सकते हैं।

2 - डार्क चॉकलेट का सेवन

अकसर हम डाार्क चॉकलेट का उपयोग स्वास्थ्य को अच्छा करने और मूड स्विंग की समस्या को दूर करने में किया जाता है। लेकिन आपको बता दें कि डार्क चॉकलेट एंड्रोफिन हार्मोन के स्तर को बढ़ाने में उपयोगी है। इस हारमोन के बढ़ने से व्यक्ति डिप्रेशन की समस्या से दूर रहता है हर ख़ुशी का एहसास करता है। इसके अलावा हारमोन के असंतुलन की समस्या से भी छुटकारा मिल सकता है।

इसे भी पढ़ें- खून की गंदगी साफ करने के लिए आजमाएं Luke coutinho के बताए ये 10 टिप्स, नैचुरल तरीके से होगा ब्लड डिटॉक्स

3 - नारियल तेल का उपयोग

नारियल के तेल से भी हार्मोन को संतुलित किया जा सकता है। ऐसे में व्यक्ति अपने आहार में नारियल के तेल को शामिल करें। ऐसा करने से न केवल वजन नियंत्रित रहता है बल्कि हारमोंस भी संतुलित रह सकते हैं।

4 - दालचीनी का उपयोग

दालचीनी के सेवन से हार्मोन के अंदर होने की समस्या को दूर किया जा सकता है। ऐसे में आप दालचीनी का पाउडर बनाएं और इसका इस्तेमाल खाने में या दालचीनी की चाय के रूप में कर सकते हैं ऐसा करने से न केवल चयापचय बढता है बल्कि हार्मोन भी संतुलित रह सकते हैं।

5 - दही का सेवन

दही के अंदर भरपूर मात्रा में प्रोबायोटिक्स पाया जाता है। वहीं दही के सेवन से अच्छे बैक्टीरिया अपना संतुलन बनाए रख सकते हैं। ऐसे में यदि व्यक्ति प्रतिदिन दही का सेवन करें तो ऐसा करने से न केवल मेटाबॉलिज्म अच्छा होता है बल्कि हार्मोन बदलाव की समस्या से भी छुटकारा मिल सकता है।

इसे भी पढ़ें- शरीर की अंदरूनी सूजन दूर करने के लिए आजमाएं ये 10 जड़ी-बूटियां और मसाले

6 - ग्रीन टी का सेवन

ग्रीन टी के सेवन से हारमोंस को आसानी से संतुलित किया जा सकता है। ग्रीन टी का सेवन अगर सुबह खाली पेट किया जाए तो यह ना केवल चयापचय की प्रक्रिया को बेहतर बनाता है बल्कि मूड स्विंग को रोकने, शरीर का विकास आदि में भी मददगार साबित हो सकता है।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि कुछ घरेलू उपाय से हार्मोन असंतुलन की समस्या को दूर किया जा सकता है। लेकिन डाइट में किसी भी बदलाव को करने से पहले या अपनी डाइट में किसी भी चीज को जोड़ने से पहले एक बार एक्सपर्ट की सलाह जरूरी है। खासकर गर्भवती महिलाओं में अगर हार्मोन चेंजेंस की समस्या हो रही है तो इन महिलाओं को अपनी डाइट में बदलाव करने से पहले एक बार एक्सपर्ट की सलाह लेनी जरूरी है।

इस लेख में इस्तेमाल की जानें वाली फोटोज़ Freepik or shutterstock से ली गई हैं।

Read More Articles on home remedies in hindi

Disclaimer