Tips For Morning Sickness: प्रेगनेंसी के दौरान मिचली और उल्‍टी से राहत पाने के लिए अपनाएं ये 6 टिप्‍स

Tips For Morning Sickness: प्रेगनेंसी के समय मॉर्निंग सिकनेस होना आम है, ऐसे में आप इन तरीकों को अपनाकर आराम पाएं। 

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Mar 02, 2020
Tips For Morning Sickness: प्रेगनेंसी के दौरान मिचली और उल्‍टी से राहत पाने के लिए अपनाएं ये 6 टिप्‍स

प्रेगनेंसी के समय मॉर्निंग सिकनेस, मिचली और उल्‍टी आना काफी आम है। इस दौरान गर्भ में बच्चा होने की वजह से अनिद्रा, पैरों में सूजन, मूड मूड स्विंग्‍स होना और और मॉर्निंग सिकनेस महसूस होती है। ज्‍यादातर महिलाओं में यह आमतौर पर पहली तिमाही में होता है। ऐसा इसलिए होता है क्‍योंकि प्रेगनेंसी के दौरान महिला के शरीर में एस्ट्रोजन के स्तर में वृद्धि, लो ब्‍लड शुगर और कुछ सुगंध के प्रति अधिक संवेदनशीलता के कारण मतली होती है, जो कि प्रेगनेंसी के समय बहुत सामान्‍य है, लेकिन बार-बार उल्‍टी आना, वजन घटना या डिहाइड्रेशन इसके कुछ गंभीर लक्षण हो सकते हैं। ऐसे में आपको इससे निपटने के लिए क्‍या करना चाहिए? आइए यहां जानिए। 

Morning Sickness

1. भरपूर आराम करें 

प्रेगनेंसी के समय आपको रात में अच्छी नींद लेने के अलावा, दिन में भी आराम या झपकी ले लेना चाहिए। यह आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है, आप खाने के ठीक बाद सोने न जाएं क्योंकि यह मतली की अहसास को बढ़ा सकता है।

2. कम-कम मात्रा में दिन में कई बार खाना खाएं 

ऐसा नही हैं कि आप प्रेगनेंसी में पूरे दिन केवल 3 टाइम ही खाना खाएं। इसके अलावा, मतली से बचने के लिए खाना छोड़ने की बजाय, कम-कम मात्रा में खाना खाएं और कई बार खाना खाएं। इसके अलावा, सुबह खाली चाय न पिएं आप चाय के साथ हल्‍का नाश्‍ता जैसे बिस्कुट, सूखी ब्रेड या फिर ओट्स खा सकते हैं। 

इसे भी पढें: घर में मौजूद ये 5 चीजें पहुंचा सकती हैं गर्भ में पल रहे बच्‍चे को नुकसान, जरूरी है इनसे दूरी बनाना

Healthy Eating

3. अदरक की चाय 

कुछ अध्‍ययन व हेल्‍थ एक्‍सपर्टों के अनुसार अदरक आपके पेट की समस्‍याओं और जी मिचलाने जैसी समस्‍याओं को दूर करने मे मदद कर सकता है। इसलिए प्रेगनेंसी के समय आप मतली या जी मिचलाने और उल्‍टी की समस्‍या से निपटने के लिए अदरक की चाय पिएं। इसके अलावा, आप अदरक कैंडी या अदरक का एक टुकड़ा लेकर चबा सकते हैं।  हर्बल चाय भी मतली से निपटने में मदद कर सकती हैं। 

4. तेलीय और बहुत मीठी चीजों के सेवन से बचें 

मॉर्निंग सिकनेस या प्रेगनेंसी में मतली जैसी समस्‍याओं से बचने के लिए आप वसायुक्‍त, तेलीय और मीठी चीजों के सेवन से बचें, जो गैस या इंफ्लमेशन पैदा कर सकते हैं। कई महिलाओं में, हाई प्रोटीन, हाई कार्ब और नमकीन खाद्य पदार्थ मतली का कारण बन सकते हैं। खाने के साथ-साथ पेय पदार्थों को लेने से बचें क्योंकि इनका कॉम्बिनेशन मतली को बढ़ाता है।

Strong Smell

5. मजबूत सुगंध से बचें 

प्रेगनेंसी के दौरान आपको मजबूत सुगंध से बचने की कोशिश करनी चाहिए, जैसे सिगरेट के धुएं, इत्र, परफ्यूम और कुछ अन्य चीज, जो आपको प्रभावित करती है। इसके अलावा, खाने के मसालों की सुगंध भी आपको परेशान कर सकती है, इसलिए खाना बनाते समय खिड़कियां खोलकर रखें। 

इसे भी पढें: पीरियड्स में दाग-धब्‍बे के डर को दूर करने के लिए सैनिटरी पैड नहीं, ट्राई करें ये 5 मेंस्ट्रुअल हाइजीन प्रोडक्ट

6. विटामिन सप्‍लीमेंट लेना न भूलें 

गर्भावस्‍था में आप अपने डॉक्‍टर से सुझाए गये विटामिन की खुराक लेना न भूलें। हालांकि इसकी वजह से भी आपको मिचली आ सकती है। इसलिए आप अपने विटामिन सप्‍लीमेंट को डॉक्‍टर की सलाह पर सुबह के  बजाय रात को सोते समय लें। 

Read More Article On Women's Health In Hindi 

Disclaimer