Doctor Verified

आयुर्वेद‍िक औषधि सर्पगंधा का इस्‍तेमाल करते हैं, तो एक्सपर्ट से जान लें इससे होने वाले 5 संभावित नुकसान

आयुर्वेद‍िक औषध‍ि सर्पगंधा के ज्‍यादा इस्तेमाल से कई तरह के नुकसान हो सकते हैं, आप भी जान लें इनके बारे में 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jan 25, 2022Updated at: Jan 25, 2022
आयुर्वेद‍िक औषधि सर्पगंधा का इस्‍तेमाल करते हैं, तो एक्सपर्ट से जान लें इससे होने वाले 5 संभावित नुकसान

बहुत से लोग सर्पगंधा औषध‍ि का सेवन बीमार‍ियों को दूर करने के ल‍िए करते हैं। सर्पगंधा, आर्युवेद की एक कॉमन औषध‍ि है ज‍िसका इस्‍तेमाल अन‍िद्रा की समस्‍या, कब्‍ज की समस्‍या, बुखार, बैक्‍टीर‍ियल इंफेक्‍शन आद‍ि समस्‍याओं को दूर करने के ल‍िए क‍िया जाता है। हालांक‍ि इसका ज्‍यादा इस्‍तेमाल क‍िया जाए तो ये आपको फायदे देने के बजाय नुकसान पहुंचा सकती है। अगर आप सर्पगंधा का ज्‍यादा सेवन कर लें तो आपको पेट में दर्द, स‍िर में दर्द, सांस लेने में तकलीफ, चेस्‍ट पेन, स्‍क‍िन रैशेज की समस्‍या हो सकती है। अगर आपको क‍िडनी डि‍सीज की समस्‍या है तो आपको हर्बल सप्‍लीमेंट लेना अवॉइड करना चाह‍िए, इससे आपकी क‍िडनी को नुकसान हो सकता है। इस लेख में हम सर्पगंधा औषध‍ि के साइड इफेक्‍ट्स पर चर्चा करेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की।

sarpagandha side effects

image source:google

1. नाक ब्‍लॉक होने की समस्‍या (Sarpangandha causes nasal congestion)

सर्पगंधा का इस्‍तेमाल करने से नाक ब्‍लॉक होने की समस्‍या (nasal congestion) होती है इसके साथ ही मुंह में ड्रायनेस हो सकती है। सर्पगंधा औषध‍ि का सेवन करने से ब्‍लड प्रेशर और हार्ट रेट में बदलाव आ सकता है इसल‍िए ज‍िन लोगों की सर्जरी होनी है उन्‍हें इसका सेवन करने की सलाह नहीं दी जा सकती। क‍िसी भी तरह की सर्जरी से कम से कम 2 हफ्ते पहले आपको ऐसी औषध‍ियों का सेवन बंद कर देना चाह‍िए और इसके बारे में डॉक्‍टर को बताना चाह‍िए।

इसे भी पढ़ें- अजवाइन के फूल के फायदे: इन 7 समस्याओं में अजवाइन के फूलों के इस्तेमाल से मिल सकता है फायदा

2. सर्पगंधा के ज्‍यादा सेवन से जी म‍िचलाना (Sarpangandha causes nausea)

सर्पगंधा का ज्‍यादा सेवन करने से जी म‍िचलाना, उल्‍टी आना या डायर‍िया की समस्‍या भी हो सकती है इसल‍िए आपको हर द‍िन इसका सेवन करने से बचना चाह‍िए। अगर आप ज्‍यादा मात्रा में सर्पगंधा का सेवन करेंगे तो भूख न लगने की समस्‍या भी हो सकती है। छोटे बच्‍चों को इसका सेवन करने न दें, इससे उन्‍हें पेट में दर्द की समस्‍या हो सकती है।

3. शुगर लेवल घटा देता है सर्पगंधा (Sarpangandha lowers down blood sugar level)

अगर आपको लो शुगर लेवल की समस्‍या है तो सर्पगंधा औषध‍ि का इस्‍तेमाल न करें, इस औषध‍ि का इस्‍तेमाल अगर डायब‍िटीज की दवा के साथ क‍िया जाए तो शुगर लेवल और नीचे ग‍िर सकता है जि‍ससे आपको पसीना आना, थकान महसूस होना, हाथ कांपना, हार्टबीट बढ़ने जैसे लक्षण नजर आ सकते हैं।

4. गर्भवती मह‍िलाएं न करें सर्पगंधा का सेवन (Avoid sarpangandha in pregnancy or during breastfeeding)

sarpagandha

image source:wikipedia

अगर आप गर्भवती हैं या हाल ही में मां बनी हैं तो आपको सर्पगंधा हर्ब का इस्‍तेमाल नहीं करना चाह‍िए, इसका इस्‍तेमाल या सेवन करने से बच्‍चे के शरीर में मां के जर‍िए ब्रेस्‍टम‍िल्‍क के गुण कम हो जाते हैं और बच्‍चे को नुकसान पहुंच सकता है वहीं गर्भावस्‍था के दौरान इसका सेवन करने से गर्भस्‍थ श‍िशु को खतरा हो सकता है इसल‍िए डॉक्‍टर ऐसी औषध‍ि का सेवन करने की सलाह नहीं देते।

इसे भी पढ़ें- 6 परेशानियों को दूर करने में है लाभकारी कायफल का तेल, जानें इसे बनाने की विधि

5. गॉलब्‍लैडर में स्‍टोन है तो न करें सर्पगंधा का सेवन (People with gallbladder stone)

अगर आपके गॉलब्‍लैडर में स्‍टोन है तो सर्पगंधा का सेवन करने से दर्द बढ़ सकता है इसल‍िए इसका सेवन अवॉइड करें। साथ ही अगर आपके पेट में अल्‍सर यानी छाले हैं तो भी आपको सर्पगंधा का सेवन नहीं करना चाह‍िए। डॉक्‍टर की सलाह के ब‍िना आप इसका सेवन करना अवॉइड करें।

अगर आप ड‍िप्रेशन के मरीज हैं या क‍िसी तरह की मेंटल थैरेपी ले रहे हैं तो आपको इस औषध‍ि का इस्‍तेमाल नहीं करना चाह‍िए, इसका सेवन करने से कई लोगों को मूड में परिवर्तन महसूस होता है ज‍िस कारण से ड‍िप्रेशन के मरीजों को डॉक्‍टर इस औषध‍ि का सेवन करने की सलाह ब‍िल्‍कुल नहीं देते।

main image source:google

Disclaimer